इंसानों में उमड़ा दया का भाव, बेजुबानों को मिलने लगा भोजन

कहते हैं कि जब समाज में विपदा आती है तो लोगों के दिलों में संवेदनायें स्वतः ही जागृत हो जाती हैं। ऐसा ही नजारा नगर में देखने को उस समय मिला…

औरैया: कहते हैं कि जब समाज में विपदा आती है तो लोगों के दिलों में संवेदनायें स्वतः ही जागृत हो जाती हैं। ऐसा ही नजारा नगर में देखने को उस समय मिला, जब लॉकडाउन में बेजुबानों को भूख-प्यास से तड़पते देख युवाओं के भीतर की संवेदनाओं को जगा दिया और युवाओं ने इन बेजुबानों को भोजन कराया।

ये पढ़ें: दिल्ली में मुफ्त बिजली पर बड़ा फैसला, केजरीवाल सरकार ने किया ये एलान

युवाओं ने उठाया बीड़ा

कोरोना वायरस के कारण जारी लॉकडाउन में आम आदमी के साथ बेजुबान जानवर भी भोजन के लिए इधर-उधर भटकने को मजबूर हो गए हैं। गरीबों व असहाय लोगों के लिए स्वयंसेवी संगठनों के कार्यकर्ता व समाजसेवी लोग खाद्य सामग्री व अन्य जरूरत का सामान उपलब्ध कराने में जुटे हैं लेकिन जिले में बेजुबान जानवरों को भोजन उपलब्ध नहीं हो रहा था। इन बेजुबान जानवरों आवारा पशुओं, गाय, कुत्तों, बन्दरों को भूख से तड़पता देख कर नगर के युवा शिवम गुप्ता, जीतू राजपूत, नवनीत विश्नोई, विजय वर्मा, अजय वर्मा के मन में पीड़ा हुई।

ये पढ़ें: WHO ने दुनिया को दी चेतावनी, कहा- अभी और बुरा वक्त आने वाला है

पहल आई काम, दूसरे लोग भी खिलाने लगे खाना

युवाओं ने अभियान चलाया कि वह इन जानवरों को भोजन उपलब्ध कराएंगे। परिणाम सामने आया कि न केवल पक्षियों के लिए, बल्कि अब लोग अब उमड़ पड़े हैं प्रत्येक निराश्रित जानवर को खाना खिलाने के लिए। यह वही जानवर हैं, जिनसे इंसान दूर भागता था। यही सोचता था कि उन पर जानवर हमला न कर दे। पर अब इंसान ने डरना छोड़ दिया है। इन निराश्रित जानवरों की भूख की चिंता करने लगा है। मुहिम के तहत लोगों ने चिड़ियों के दाना और पानी की व्यवस्था करनी शुरू कर दी है। लोग गली-मोहल्लों में गाय को रोटी खिला रहे हैं। कुत्तों व बंदरों के लिए लोग भोजन की व्यवस्था में लगे हैं।

ये पढ़ें: कंपनी मैनेजर कर्मचारियों को हटाकर खुद हुआ फरार, स्थानीय लोगों ने दिया राशन-पानी

इन जगहों में जानवरों को खिलाया खाना

इसी कड़ी में इन युवाओं ने सोमवार को नगर के राणा नगर, गुन्जन चौराहा, राम मंदिर, फफूंद रेलवे स्टेशन, थाने के पास, फफूंद चौराहा आदि स्थानों पर आवारा जानवरों, बन्दरों, कुत्तों को भोजन कराया। वहीं, भाजपा दिबियापुर मंडल उपाध्यक्ष सौरव राजपूत ने दिबियापुर के शास्त्री नगर वार्ड में 15 मास्क बांटे। उन्होंने कहा कि विश्व में फैली कोराना जैसी वैश्विक महामारी से बचाव के लिए चेहरे पर मास्क, साबुन से हाथ धोना और अपने घरों में रहना ही सबसे बड़ी एक समाज सेवा है।
रिपोर्ट: प्रवेश चतुर्वेदी

ये भी पढ़ें: कोटा में फंसे छात्रों की घर वापसी का रास्ता साफ, केंद्र सरकार ने दी मंजूरी

पालघर लिंचिंग मामले में बबीता फोगाट का तीखा सवाल, ट्रोलर्स की बोलती बंद

कोरोना संकट के बीच ट्रंप का बड़ा एलान, भारत समेत दुनिया को लगा तगड़ा झटका

राष्ट्रपति भवन तक पहुंचा कोरोना वायरस, 125 लोगों को किया गया क्वारंटीन

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App