पुलिस का हाल बेहाल! लेखपाल से पुलिस कर्मी मांग रहा 1000 रुपये की रिश्वत

पुलिस के हौसले इतने बुलन्द हो गये हैं कि वह पब्लिक पैलेस पर खुलेआम रिश्वत के पैसे मांग रहा है और न देने पर एक सरकारी कर्मचारी लेखपाल को खुलेआम जान से मारने की धमकी दे रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार घटना आज दोपहर 11 बजे की है, जहां जिला अस्पताल में लेखपाल विशाल

एटा: एक तरफ उत्तर प्रदेश सरकार दावा करती है कि यूपी पुलिस सबसे बड़ी पुलिस है, लेकिन यूपी पुलिस की हरकत देखकर आप खुद हैरान हो जायेंगे।

यह भी पढ़ें.  अरे ऐसा भी क्या! बाथरूम में लड़कियां सोचती हैं ये सब

ये भी कहा जाता है कि यूपी पुलिस सबसे भ्रष्ट पुलिस है, जी हां आप सही पढ़ रहे है, उत्तर प्रदेश के एटा से आया यह मामला इसको पूरी तरह परिभाषित कर रहा है।

यह भी पढ़ें.  झुमका गिरा रे…. सुलझेगी कड़ी या बन जायेगी पहेली?

पुलिस की खुली कलई…

नया मामला एटा से है, जहां एक लेखपाल से पुलिस वाले की गुंडई साफ देखी जा सकती है। एटा पुलिस खुलेआम गुंडई व रिश्वतखोरी ने आज जिला प्रशासन व शासन की कानून व्यवस्था की कलई खोल कर रख दी है।

यह भी पढ़ें. लड़की का प्यार! सुधरना है तो लड़के फालो करें ये फार्मूला

बताया जा रहा है कि पुलिस के हौसले इतने बुलन्द हो गये हैं कि वह पब्लिक पैलेस पर खुलेआम रिश्वत के पैसे मांग रहा है और न देने पर एक सरकारी कर्मचारी लेखपाल को खुलेआम जान से मारने की धमकी दे रहा है। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार घटना आज दोपहर 11 बजे की है, जहां जिला अस्पताल में लेखपाल विशाल राजपूत कोवरा पर तैनात कांस्टेबिल विक्रांत में दस हजार रुपये रिश्वत के देने को लेकर विवाद हो गया और बात गाली गलौज तक जा पहुंची।

यह भी पढ़ें: लड़कियों को पसंद ये! बताती नहीं पर हमेशा ही खोजती हैं ये चीजें

विशाल ने बताया…

यह भी पढ़ें. असल मर्द हो या नहीं! ये 10 तरीके देंगे आपके सारे सवालों के सही जवाब

विशाल ने बताया कि लगभग डेढ़ माह पूर्व हमारा पति-पत्नी में आपस में विवाद हो गया था और मेरी पत्नी ने डायल 100 पर फोन कर पुलिस बुला ली थी, तो हम दोनों में पुलिस के सामने फैसला हो गया था।

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि इस दौरान विक्रान्त भी मौजूद था, उस समय उसने कार्यवाही न करने के नाम पर मुझसे 5 हजार रुपये ले लिए थे, उसके बाद वह 10 हजार रुपये और मांग रहा था।

यह भी पढ़ें. बेस्ट फ्रेंड बनेगी गर्लफ्रेंड! आज ही आजमाइये ये टिप्स

इस मामले को लेकर हम दोनों में विवाद भी हो गया था। मैनें उसकी शिकायत भी की थी, किंतु आज जब मैं जिला चिकित्सालय में अपनी बीमार बहन को ब्लड चढ़वा रहा था, तभी विक्रान्त अपने एक अन्य साथी के साथ आ गया और उसने मुझसे 10 हजार रुपये मांगे तो मैंने रूपये देने से इंकार कर दिया।

यह भी पढ़ें.  होंठों का ये राज! मर्द हो तो जरूर जान लो, किताबों में भी नहीं ये ज्ञान

इसके बाद उसने, मुझे पकड़ कर पुलिस चौकी ले जाने लगा तो मैंने उसका विरोध करते हुए जाने से इंकार कर दिया तो वह वौखला गया और उसने मुझे गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी दी।

यह भी पढ़ें. ओह तेरी! पत्नी कहेगी पति से, बिस्तर पर ‘ना बाबा ना’

इसके साथ ही उन्होंने बताया कि भीड़ एकत्रित हो जाने पर वह मुझे पकड़कर नहीं ले जा सका। यह रूपये न देने के कारण मुझसे रंजिश मानने लगा है, इस पूरे मामले की शिकायत आज मैंने अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार से की है, उन्होंने जांच कराने का आश्वासन दिया है।

अपर पुलिस अधीक्षक ने कहा…

इस मसले पर अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार ने कहा कि घटना की जांच कराके पुलिस कर्मी के दोषी पाये जाने पर कार्यवाही की जाएगी।