×

निशाने पर ट्रंप टावर: एक हफ्ते में तीसरी बार हमला, US राष्ट्रपति के उड़े होश

अमेरिका में एक अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की पुलिस हिरासत में मौत होने के बाद जोरो से 'ब्लैक्स लाइव्स मैटर' आंदोलन चलाया जा रहा है।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 19 July 2020 5:44 AM GMT

निशाने पर ट्रंप टावर: एक हफ्ते में तीसरी बार हमला, US राष्ट्रपति के उड़े होश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • koo

न्यूयॉर्क: अमेरिका में एक अश्वेत नागरिक जॉर्ज फ्लॉयड (George Floyd) की पुलिस हिरासत में मौत होने के बाद जोरो से 'ब्लैक्स लाइव्स मैटर' आंदोलन चलाया जा रहा है। इस घटना के काफी दिन बीत जाने के बाद भी ये आंदोलन थमने का नाम नहीं ले रहा। अब इन दिनों इसका नया ठिकाना बन गया है कि यूएस के न्यूयॉर्क सिटी में स्थित ट्रंप टावर (Trump Tower)। प्रदर्शनकारियों ने ट्रंप टावर में एक हफ्ते के अंदर तोड़फोड़ की तीन घटनाओं को अंजाम दिया है।

यह भी पढ़ें: यूपी पुलिस के निशाने पर ये टॉप बदमाश, विकास दुबे के बाद इस माफिया की आई बारी

पुलिस ने दो महिलाओं को किया गिरफ्तार

ताजा मामला शनिवार दोपहर का है, जहां दो महिलाओं को दोपहर करीब तीन बजे के आसपास गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक, ये दोनों महिलाएं ट्रंप टावर (Trump Tower) के बाहर मैनहैट्टन के चिक फ्फिथ ऐवन्यू की दीवार पर काला रंग डाल रही थीं। इस घटना का एक वीडियो क्लिप भी सामने आया है, जिसमें देखा जा सकता है कि एक महिला, जो कि चारों ओर से पुलिस अधिकारियों से घिरी हुई है, वह चीखते हुए दीवार पर लिख रही है कि इन्हें काले लोगों की जिंदगी की परवाह नहीं है।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी राम मंदिर निर्माण की तारीख का एलान, PM मोदी इस दिन करेंगे भूमि पूजन

रंग पर फिसलकर पुलिस अधिकारी हुआ चोटिल

वह महिला पुलिस को वापस जाने के लिए भी कह रही थी। पुलिस ने बताया कि एक पुलिस अधिकारी रंग पर फिसलकर जमीन पर गिर गया। इस दौरान अधिकारी को हाथ और सिर में चोटें भी आईं। जिसके बाद पुलिस अधिकारी को इलाज के लिए बेलैव्यू हॉस्पिटल में भर्ती करा दिया गया। अब उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है। पुलिस विभाग के प्रवक्ता ने बताया कि फिलहाल महिला का नाम और उस पर लगाए गए आरोपों की जानकारी हमें तत्काल नहीं मिल पाई है।

यह भी पढ़ें: गहलोत का फ्लोर टेस्ट! इस दिन विधानसभा सत्र बुलाने की तैयारी, साबित करेंगे बहुमत

गलियों और सड़कों को रंगने से कोई फायदा नहीं

न्यूयॉर्क के सबसे बड़े पुलिस यूनियन द पुलिस बैनोवेलंट एसोसिएशन ने ट्वीट करते हुए लिखा कि शुक्र है कि हमारा भाई ठीक है, लेकिन इस तरह की वाहियात बातों पर रोक लगाई जानी चाहिए। हमारी सिटी संकट में है। ट्वीट में आगे कहा गया है कि शहर की गलियों और सड़कों को रंगने से किसी तरह का फायदा नहीं होने वाला है।

यह भी पढ़ें: दिल्ली में डूबी बस: यात्रियों की हालत खराब, तेज बारिश में ऐसे बची जान

24 घंटे के अंदर तीन लोगों की गिरफ्तारी

पुलिस के मुताबिक, पुलिस ने शनिवार को आयोजित हुए प्रदर्शन के 24 घंटे के अंदर तीन लोगों की गिरफ्तारी की है। उन्होंने बताया कि शुक्रवार को भी शाम करीब चार बजे दीवार को नीले रंग से रंगा गया था। ब्रुकलिन में शूटिंग में एक साल के बच्चे की मौत के बाद एक महिला ने दीवारे रंग डाली।

पुलिस ने बताया कि हमें एक वीडियो में प्रदर्शन के दौरान एक व्यक्ति 'All Lives Matter' लिखा हुआ शर्ट पहने हुए दिखा, जो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का समर्थक मालूम पड़ा। वहीं एक 64 साल की महिला को गैरकानूनी तरीके से दीवारें पर लिखने के लिए क्रिमिनल कोर्ट ने समन भेजा है।

यह भी पढ़ें: राजस्थान टेप कांड: अब SIT करेगी जांच, ये अधिकारी होंगे शामिल

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story