Top

वैक्सीन पर तगड़ा झटका: 7 में से 1 में दिखे साइड इफेक्ट, मिलीं ये शिकायतें

एक बार फिर से कोविड-19 वैक्सीन Sputnik V सवालों के घेरे में आ गई है। दरअसल, वैक्सीन की डोज लेने वाले हर सात में से एक वॉलंटियर में साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं।

Shreya

ShreyaBy Shreya

Published on 18 Sep 2020 7:46 AM GMT

वैक्सीन पर तगड़ा झटका: 7 में से 1 में दिखे साइड इफेक्ट, मिलीं ये शिकायतें
X
वैक्सीन पर तगड़ा झटका: 7 में से 1 में दिखे साइड इफेक्ट, मिलीं ये शिकायतें
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: तेजी से बढ़ते कोरोना वायरस संक्रमण के बीच रूस ने सबसे पहले कोरोना वैक्सीन बनाने का दावा किया था। हालांकि रूस की कोरोना वैक्सीन शुरू से ही सवालों के घेरे में रही है। अब एक बार फिर से कोविड-19 वैक्सीन Sputnik V सवालों के घेरे में आ गई है। दरअसल, वैक्सीन की डोज लेने वाले हर सात में से एक वॉलंटियर में साइड इफेक्ट्स देखे गए हैं। ये खुलासा खुद रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराश्को ने किया है।

14 फीसदी वॉलंटियर्स में दिखे साइड इफेक्ट

रूस के स्वास्थ्य मंत्री मिखाइल मुराश्को ने कहा कि वैक्सीन लेने वाले करीब 14 फीसदी वॉलंटियर्स में इसके साइड इफेक्ट देखे गए हैं। मीडिया रिपोर्ट में स्वास्थ्य मंत्री के हवाले से कहा गया है कि कोरोना वैक्सीन लेने के बाद हर सात में से एक वॉलंटियर ने कमजोरी और मांसपेशियों में दर्द की शिकायत की। हालांकि इन साइड इफेक्ट के मामले की पहले से ही जानकारी थी और ये अगले दिन ही ठीक भी हो गए थे।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार ने पीछे खींचे कदम: अब नहीं बनेगा डिटेंशन सेंटर, विरोध के बाद फैसला

21 दिनों में लोगों के शरीर में बनी एंटीबॉडी

बता दें कि वैक्सीन Sputnik V के क्लिनिकल ट्रायल के शुरूआती परिणाम चार सितंबर को द लैंसेट जर्नल में प्रकाशित किए गए थे। ये वैक्सीन दो भागों में 76 लोगों को दी गई थी। इन नतीजों से पता चला कि यह वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित है और वॉलंटियर्स के शरीर में 21 दिनों में वैक्सीन से बिना किसी गंभीर साइड इफेक्ट के एंटीबॉडी बनी है।

यह भी पढ़ें: हादसे से हिली सरकार: भरभराकर गिरा ये पुल, सेकेंडों में करोड़ों रूपये बर्बाद

Corona Vaccine वैक्सीन पर तगड़ा झटका: 7 में से 1 में दिखे साइड इफेक्ट, मिलीं ये शिकायतें (फोटो- सोशल मीडिया)

लोगों ने की इसकी शिकायतें

जर्नल में कोरोना वैक्सीन Sputnik V के साइड इफेक्ट के बारे में भी बताया गया था। इसके मुताबिक, वैक्सीन लेने वाले 58 फीसदी लोगों नें इंजेक्शन लगाने वाली जगह पर दर्द की शिकायत की थी। जबकि 50 फीसदी लोगों ने तेज बुखार की। वहीं 42 फीसदी ने सिर दर्द, 28 फीसदी ने कमजोरी और 24 फीसदी लोगों ने मांसपेशियों में दर्द की शिकायत की थी।

यह भी पढ़ें: महिला IAS पर हमला: बाल-बाल बची ऑफिसर, ड्राइवर-गनमैन जख्मी

बता दें कि कुछ दिन पहले ही करीब 50 वैज्ञानिकों ने रूस की वैक्सीन की सुरक्षा पर संदेह खड़े करते हुए लैंसेट को एक खुली चिट्ठी लिखी थी, जिसके बाद मैगजीन ने स्टडी के लेखकों से वैज्ञानिकों के सवालों के जवाब देने के लिए कहा था।

corona virus vaccine वैक्सीन पर तगड़ा झटका: 7 में से 1 में दिखे साइड इफेक्ट, मिलीं ये शिकायतें (फोटो- सोशल मीडिया)

भारतीय कंपनी से 10 करोड़ डोज के लिए करार

वहीं रूस की वैक्सीन को लेकर भारत के लोगों के लिए भी बातचीत जारी है। रशियन डायरेक्ट इंवेस्टमेंट फंड (RDIF) ने भारतीय कंपनी को वैक्सीन की दस करोड़ डोज देने के लिए करार साइन किया है। वैक्सीन का ट्रायल पूरा होने के बाद सप्लाई की प्रक्रिया इस साल के अंत तक शुरू की जाएगी। बता दें कि इस वैक्सीन को मंजूरी देने से पहले भारत में भी लोगों पर वैक्सीन का क्लिनिकल ट्रायल किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: योगी सरकार के फैसले का पार्टी में विरोध, ‘संविदा नौकरी’ पर BJP में घमासान

11 अगस्त को रूस ने किया था लॉन्च

बता दें कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 11 अगस्त को कोरोना वायरस वैक्सीन Sputnik V को लॉन्च किया था। लेकिन ये वैक्सीन शुरू से ही आलोचना का शहर हो रही है। कई देशों से वैक्सीन को लेकर आलोचना झेल रहे रूस ने हाल ही में Sputnik V वैक्सीन को लेकर दोबारा दावा किया था कि यह वैक्सीन पूरी तरह सुरक्षित है।

यह भी पढ़ें: प्याज के दाम आसमान पर: भारत के बैन से मुश्किल में पड़ोसी मुल्क, कीमत हुईं दोगुनी

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

Shreya

Shreya

Next Story