900 साल बाद महाग्रहण: इन राशियों पर पड़ेगा बुरा असर, रहना होगा सतर्क

साल का पहला और सबसे लंबा सूर्य ग्रहण लग चुका है। जो कि सुबह 9:15 बजे शुरू हुआ था और दोपहर 3 बजकर 4 मिनट पर इसका समापन होगा। बता दें कि यह एक वलयाकार सूर्य ग्रहण है, जिसमें सूरज एक चमकीले छल्ले की भांति दिखाई देता है।

लखनऊ: साल का पहला और सबसे लंबा सूर्य ग्रहण लग चुका है। जो कि सुबह 9:15 बजे शुरू हुआ था और दोपहर 3 बजकर 4 मिनट पर इसका समापन होगा। बता दें कि यह एक वलयाकार सूर्य ग्रहण है, जिसमें सूरज एक चमकीले छल्ले की भांति दिखाई देता है। इस दौरान सूर्य का करीब 99 फीसदी हिस्सा चंद्रमा की छाया में छिप जाता है।

900 साल बाद बनेंगे ऐसे संयोग

साल का पहला सूर्य ग्रहण धार्मिक और वैज्ञानिक दोनों दृष्टिकोणों से काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है। ज्योतिर्विदों ने इस खगोलीय घटना को महा ग्रहण का नाम दिया है। ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि इस सूर्य ग्रहण पर ऐसे कई महा संयोग बन रहे हैं, जो पिछले 900 साल से पहले बने थे। ये सूर्य ग्रहण मंगल के नक्षत्र में पड़ रहा है। इसी दौरान मंगल अपनी राशि परिवर्तन भी कर लेगा।

यह भी पढ़ें: वरदान था सूर्यग्रहण: अर्जुन की ऐसे बचाई थी जान, फिर पूरी की थी ये प्रतिज्ञा

युद्ध और आपदाओं की स्थिति भी पैदा हो सकती है

इस सूर्य ग्रहण में सूरज का संयोग बुध, चंद्रमा और राहु के साथ बन रहा है। सूर्य मंगल और चंद्र की इस युति से दुर्घटनाओं की संभावनाएं भी बनेगी। ऐसा माना जा रहा है कि युद्ध और आपदाओं की स्थिति भी उत्पन्न हो सकती है। इस ग्रहण का अलग-अलग राशि पर अलग-अलग प्रभाव पड़ेगा। लेकिन ऐसा कहा जा रहा है कि इस ग्रहण का प्रभाव मिथुन और धनु राशि पर सबसे ज्यादा प्रभाव पड़ेगा।

इन राशियों पर होगा सबसे ज्यादा प्रभाव

इसके अलावा वृष, कन्या, तुला, वृश्चिक, कुम्भ और मीन राशि पर भी इसके प्रभाव अच्छे नहीं होंगे। माना जा रहा है कि ज्यादातर राशियों के लिए हेल्थ और करियर पर संकट पैदा हो सकता है। तो चलिए आपको बताते हैं, किन राशियों पर कैसा प्रभाव पड़ेगा।

यह भी पढ़ें: अमेरिका की बड़ी भूल: चीन का साथ देना सबसे भयानक मूर्खता, अब झेल रहा खुद भी

मेष-

गुस्से पर काबू रखें, क्योंकि इससे भविष्य में आपके लिए खतरा हो सकता है। रिश्ते भी बिगड़ सकते हैं। इससे कोई आपका एक संबंधित हमेशा के लिए रूठ सकता है। खुद के साथ-साथ घरवालों की सेहत का भी विशेष ध्यान रखें। पैरों से जुड़ी कोई बीमारी हो सकती है। भाग्य आपके साथ है, सही कर्मों का फल अवश्य मिलेगा। ग्रहण के बाद एक लोटा जल सूर्यदेव को चढाएं और गुड़ दान करें।

वृषभ-

इस सूर्य ग्रहण के दौरान आपको आर्थिक परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। खान-पान के साथ वाणी पर भी ध्यान दें। संतान पक्ष का ज्यादा ध्यान रखें। संबंधों का भी ख्याल रखें। प्रॉपर्टी में फायदा हो सकता है। ग्रहण आपके लिए मध्यम फल देने वाला होगा। ग्रहण के दौरान राशि स्वामी शुक्र की उपासना करें। ग्रहण के बाद सफेद चीजों का दान करें।

यह भी पढ़ें: Live: 24 घंटों में करीब 15 हजार नए संक्रमित, कोरोना काल में योग की जरूरत

मिथुन-

ये ग्रहण आपको थोड़ा बेचैन कर सकता है। कार्यक्षेत्र में जल्दीबाजी में कोई फैसला ना लें। घर से जुड़ी समस्याएं बढ़ सकती हैं। निर्णय लेने में सक्षम होंगे लेकिन ध्यान रखें कि आपकी बातों को गलत न समझा जाए। तनाव में आ सकते हैं या भम्र की स्थिति बनने की संभावना है। मेहनत का फल पाने के लिए कोशिश बढ़ानी पड़ेगी। बुध के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल के बाद गणेश जी को पांच लड्डू चढ़ाएं।

कर्क-

ग्रहण के दौरान खुद को कहीं फंसा महसूस करेंगे, ऐसा लगेगा कि इससे बाहर नहीं निकल पा रहे हैं या पीड़ित महसूस करेंगे। तनाव बढ़ेगा और लगेगा कि आपकी सहनशीलता खत्म हो रही है। आर्थिक नुकसान होने की भी संभावना है। खर्चों पर नियंत्रण रखने की सलाह। सेहत पर खासतौर से ध्यान दें। ग्रहणकाल में ऊं नम: शिवाय जप करें। वहीं ग्रहणकाल के बाद किसी गरीब को दूध दान करें।

यह भी पढ़ें: International Yoga Day: यहां गाइडलाइन का नहीं हुआ पालन, ऐसे किया गया योग

सिंह-

ग्रहण आपके एकादश भाव में पड़ रहा है। आपकी राशि का स्वामी इससे प्रभावित है। धन लाभ होगा लेकिन कड़ी मेहनत करनी पड़ेगी। वाक कला और लेखन के जरिए अच्छा धन कमा सकते हैं। छोटे भाई-बहनों, संतान पक्ष और अपनी सेहत का ध्यान रखें। ग्रहण के दौरान सूर्य मंत्रों का जाप करें। ग्रहण खत्म होने के बाद एक लोटा जल सूर्यदेव को चढ़ाएं और सिंदूर का दान करें।

कन्या-

कार्यक्षेत्र में सावधान रहने की आवश्यकता है। ऑफिस के काम में कोई परेशानी आ सकती है। आपके मन में अचानक नौकरी छोड़ने का विचार भी आ सकता है, असमंजस की स्थिति बनेगी। गुस्से पर काबू रखें। पिता की सेहत पर ध्यान दें। वाणी द्वारा धनलाभ हो सकता है। समय सही चलेगा। बुध के मंत्रों का जाप करें। ग्रहण के बाद किसी गौशाला में चारा दान करें।

यह भी पढ़ें: अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अपने आवास पर किया योगा

तुला-

ये ग्रहण आपके भाग्य स्थान पर पड़ रहा है। इस दौरान सड़क दुर्घटना से बच कर रहना होगा। ध्यान रखें कि कोई आपकी बातों को गलत ना समझे। खर्चों पर नियंत्रण रखें। कार्यक्षेत्र में कोई परेशानी आ सकती है, इसलिए फिलहाल किसी भी तरह का फैसला करने से बचें। ग्रहणकाल के दौरान शुक्र के मंत्रों का जाप करें। ग्रहण के बाद सफेद चीजें दान करें।

वृश्चिक-

पैतृक संपत्ति और निवेश का लाभ होगा। जरूरत से ज्यादा तनाव ना लें। झुकाव आध्यात्म की ओर होगा। ग्रहणकाल के दौरान कृष्ण के मंत्रों का जाप करें और ग्रहण खत्म होने के बाद दूध दान करें।

यह भी पढ़ें: ऐसे मरीजों को अस्पताल से छुट्टी, सात दिन घर पर रहेंगे क्वारंटाइन

धनु-

पार्टनर और आप के बीच कोई गलतफहमी हो सकती है या किसी बात को लेकर झड़प हो सकती है। जीवनसाथी के साथ मनमुटाव हो सकता है। धन से संबंधित किसी तरह का निर्णय न लें। नौकरी को लेकर उतावलापन न दिखाएं। अपने काम पर अच्छे से ध्यान दें। राशि पर बैठा केतु नए सिरे से सोचने पर मजबूर करेगा। ग्रहणकाल के दौरान विष्णु सहस्रनाम का पाठ करें। ग्रहणकाल के बाद किसी गरीब व्यक्ति को पीली वस्तु दान करें।

मकर-

इस समय त्वचा की किसी बीमारी या वायरल इंफेक्शन से बचकर रहना है। कम्युनिकेशन में परेशानी हो सकती है या कई मामलों में आपको गलत भी समझा जा सकता है। बेवजह के लड़ाई-झगड़े से बचकर रहें। ग्रहणकाल के दौरान हनुमान जी, भगवान कृष्ण या शनिदेव के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल के बाद पीपल के पेड़ के नीचे सरसों का तेल चढाएं।

यह भी पढ़ें: अभी-अभी इंटरनेट बंद: छिपे आतंकियों को तेजी से ढूंढ रही सेना, सर्च ऑपरेशन जारी

कुंभ-

संबंधों से जुड़ी कोई चिंता हो सकती है। परिवार वालों की सेहत पर विशेष ध्यान दें। घर में रहने का मन नहीं करेगा। संतान से जुड़ी कोई चिंता परेशान कर सकती है। वाणी पर नियंत्रण रखें। ड्राइविंग करते समय सावधानी बरतें। पैरों से जुड़ी समस्या हो सकती है। शत्रु पक्ष प्रभावी हो सकता है। ग्रहण काल के दौरान हनुमान और शनिदेव के मंत्रों का जाप करें। ग्रहणकाल के बाद पीपल के पेड़ के नीचे जल चढ़ाएं।

मीन-

गुस्से को काबू करने की कोशिश करें। मां या जीवनसाथी के साथ किसी मुद्दे पर झ़ड़प हो सकती है। संतान पक्ष को हानि हो सकती है। आप में नेतृत्व शक्ति है, जिससे आप मुद्दों को आसानी से सुलझा लेंगे। ऑफिस में कोई नया पद मिल सकता है। ग्रहण के दौरान विष्णु के मंत्रों का जाप करें। ग्रहण के बाद किसी मंदिर में चने की दाल दान करें।

यह भी पढ़ें: बॉलीवुड का योग दिवस: सेलेब्स ने इस अंदाज में दी बधाई, बताए कई फायदे

देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App