निजामुद्दीन के मरकज में कोरोना संदिग्धों का ऐसे हुआ खुलासा, मौलाना पर केस दर्ज

निजामुद्दीन क्षेत्र में मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय में 200 से ज्यादा लोगों में कोरोना संदिग्ध पाए जाने की जानकारी सामने आई है। इस पर दिल्ली…

नई दिल्ली: निजामुद्दीन क्षेत्र में मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय में 200 से ज्यादा लोगों में कोरोना संदिग्ध पाए जाने की जानकारी सामने आई है। इस पर दिल्ली सरकार ने मरकज के मौलाना के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने को कहा है। इन पर आरोप है कि देश में लॉकडाउन होने के बाद भी उन्होंने इतना बड़ा धार्मिक आयोजन कराया। साथ ही इसके लिए उन्होंने इसके लिए कोई अनुमति भी नहीं ली थी।

ये पढ़ें- BJP नेता की बड़ी मांग, रेप के इस दोषी को सरकार करें जेल से रिहा

लोकनायक अस्पताल में निजामुद्दीन के कई मरीज

इस धार्मिक आयोजन में करीब 350-400 लोग शामिल हुए थे। कोरोना संक्रमित होने की संभावना के बाद यहां मौजूद 163 लोगों को दिल्ली के लोक नायक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लोकनायक अस्पताल की ओर से कहा गया है कि उनके यहां कोरोना संक्रमित 174 मरीज भर्ती हैं, जिसमें से 163 निजामुद्दीन इलाके से ही आए हैं। रविवार को 85 मरीज आए। वहीं, 34 को सोमवार को भर्ती कराया गया।

ये पढ़ें- कोरोना: पीएम केयर्स फंड में सबसे बड़ा दान, जानिए किसने दिये 1031 करोड़ रुपए

मुख्यालय में फंसे 1600 से ज्यादा लोग

कोरोना का कोहराम दुनिया भर में मचा है। जो जहां है उसे एहतियातन वहीं रोक दिए जाने की कोशिशें युद्धस्तर पर चल रही हैं। दुनियाभर में मशहूर मरकज तबलीगी जमात मुख्यालय में करीब 1600 लोग फंस गए हैं। इन 1600 लोगों में से करीब 250 विदेशी मूल के बताए जा रहे हैं। जमात का मुख्यालय दक्षिण-पूर्वी दिल्ली के निजामुद्दीन थाना क्षेत्र में स्थित घनी आबादी वाली निजामुद्दीन बस्ती के बीच मौजूद है।

ये पढ़ें- रिलायंस का बड़ा एलान: पीएम केयर फंड में किया इतने करोड़ का दान

दिल्ली पुलिस का बयान

दिल्ली पुलिस के उच्च सूत्रों के मुताबिक, ‘जमात मुख्यालय में अंदर मौजूद लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग के तहत दूर-दूर रखा गया है। जमात मुख्यालय के बाहर टेंट-तंबुओं में भी आइसोलेशन वार्ड्स स्थापित कर दिए गए हैं, ताकि यहां हर आने वाले को पहले कुछ दिन आइसोलेशन वार्ड्स में रखा जाए।’

ये भी पढ़ें- लॉकडाउन में ऑनलाइन होगी पढ़ाई, बिना परीक्षा पास होंगे इस क्लास के छात्र

इस जिले में तैयार हो गये 17 क्वारंटाइन सेंटर

शिवराज सरकार का बड़ा कदम: करीब 8 लाख मजदूरों को दी ये सौगात

GIS मैपिंग रोकेगा कोरोना: BMC का बड़ा कदम, संक्रमण से बचाएंगे ऐसे