festival

जब बहन भाई की कलाई पर प्रेम का कच्चा सूत बांधती है हो तो प्यार की डोर और भी मजबूत हो जाती है और ये फेस्टिवल बन जाता है रक्षा बंधन, राखी। जिसमें बहन भाई सलामती के ले दुआ करती है और भाई से ताउम्र रक्षा का वचन लेती है। चाहे आम हो या खास, पर ये त्योहार हर किसी के लिए एक ही संदेश लेकर आता है।

रक्षा बंधन की परंपरा की शुरुआत बहनों ने शुरू नहीं की थी। रक्षा बंधन सावन पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस महीने रक्षा बंधन 26 अगस्त 2018 को है।  राखी की परम्परा सगी बहनों ने शुरू नहीं की थी। तब किसने शुरू किया राखी का चलन? जानते हैं राखी का इतिहास

इन मंत्रों के जप-अनुष्ठान से सभी प्रकार के दुख, भय, रोग, मृत्यु भय आदि दूर होकर मनुष्‍य को दीर्घायु की प्राप्ति होती है। देश-दुनिया भर में होने वाले उपद्रवों की शांति और अभीष्ट फल की प्राप्ति को लेकर रूद्राभिषेक आदि यज्ञ-अनुष्ठान किए जाते हैं। इसमें शिवोपासना में पार्थिव पूजा का भी विशेष महत्व होने के साथ-साथ शिव की मानस पूजा का भी महत्व है

श्री जगन्नाथ मंदिर प्रशासन (एसजेटीए) ने मंगलवार को कहा कि वह सभी टीवी चैनलों को पुरी में रथ यात्रा महोत्सव का सीधा प्रसारण करने की अनुमति देगा। पहले एसजेटीए की प्रसारण अधिकारों की बोली लगाने की योजना थी।

जयपुर: अक्षय तृतीया पर्व के संबंध में भागवत में श्रीकृष्ण ने कहा है कि यह तिथि परम पुण्यमय है। इस दिन दोपहर से पूर्व स्नान, जप, तप, होम, स्वाध्याय, पितृ.तर्पण तथा दान आदि करने वाला महाभाग अक्षय पुण्यफल का भागी होता है। वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की तृतीया की अधिष्ठात्री देवी माता गौरी है। …

हमारे देश में पर्व- त्योहारों की कमी नहीं है। यहां कई धर्म है और इन सभी धर्मों के अपने-अपने त्योहार हैं। बैसाखी का पर्व  13-14 अप्रैल को मनाया जाता है। इस समय खेतों में रबी की फसल की कटाई होती है। यह त्योहार पूरे देश में खासकर पंजाब के साथ-साथ उत्तर भारत में मनाया जाता है।

जयपुर: चैत्र शुक्लपक्ष की अष्टमी तिथि को नवरात्रि अष्टमी तिथि मनाई जाती है। वहीं चैत्र शुक्लपक्ष की नवमी तिथि को नवमी तिथि को रामनवमी मनाई जाती है। इस दिन कन्याओं का पूजन कर नवरात्रि के नौ दिनों के व्रत का पारण किया जाता है। इस बार नवमी तिथि 13 अप्रैल की सुबह 8.19 बजे से …

जयपुर:होली का त्योहार अपने साथ नई उमंग और जोश लेकर आता हैं। लोग हर साल रंगों के इस त्योहार को बड़ी धूमधाम और हर्षोल्लास के साथ मनाते हैं। ऐसे में कई लोग इसके लिए बड़े आयोजन करते हैं और अपने परिजनों और दोस्तों के साथ इस त्योहार का लुत्फ़ उठाना पसंद करते हैं। अगर आप …

उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम (रोडवेज) रविवार से सूबे के विभिन्न जिलों एवं क्षेत्रों से करीब चार हजार होली स्पेशल बसें चलाएगा। इसके लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

आसिफ अली शाहजहांपुर। देश में संभवत: सबसे अनोखी होली शाहजहांपुर में खेली जाती है। ऐसी होली आपको देश मे किसी कोने में देखने को नहीं मिलेगी। यहां रंग खेलने के बाद दो खास जुलूस निकाले जाते हैं जिन्हें ‘लाट साहब’ का जुलूस कहते हैं। यह होते तो हैं बड़े अजीब जुलूस लेकिन साथ ही पुलिस …