gilgit baltistan

भारत से सीमा-विवाद को लेकर चीन-नेपाल-पाकिस्तान सभी अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। ऐसे में पाकिस्तान सरकार ने गिलगित-बाल्टिस्तान को लेकर बड़ा ऐलान किया है।

उन्होंने कहा, ‘हमने पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले भारतीय क्षेत्र में सभी ऐसी परियोजनाओं को लेकर पाकिस्तान और चीन के सामने लगातार अपना विरोध जताया है और चिंता रखी है।’

कोरोना वायरस के संकट के बीच भी पाकिस्तान सरकार पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) के लोगों पर रहम नहीं कर रही है। पीओके के लोगों पर अब भी पाकिस्तान का अत्याचार जारी है।

भारतीय मौसम विभाग ने शुक्रवार को गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के मौसम का हाल बताया। विभाग ने अपने रिपोर्ट में जम्‍मू-कश्‍मीर सब-डिविजन को अब 'जम्‍मू और कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्‍तान और मुजफ्फराबाद' का नाम देकर बोलना भी शुरू कर दिया है।

इस्लामाबाद : पाकिस्तान ने गिलगित-बाल्टिस्तान क्षेत्र के प्रशासनिक नियंत्रण से जुड़े इस्लामाबाद के कदम के खिलाफ भारत के विरोध को खारिज किया है। गिलगित-बाल्टिस्तान पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर का हिस्सा है। ‘गिलगित-बाल्टिस्तान आदेश 2018’ को पाकिस्तान की कैबिनेट ने 21 मई को मंजूरी दी और इस क्षेत्र की एसेंबली ने भी इसका समर्थन किया। पाकिस्तान …

भारत को अब बलूचिस्तान, गिलगित, बल्तिस्तान व पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में होने वाले मानवाधिकार हनन के मामलों को जिम्मेदारी के साथ उठाना पड़ेगा। उसे बलूचिस्तान, गिलगित, बल्तिस्तान व पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के लोगों के साथ उसी तरह से खड़े रहना पड़ेगा जैसे कि वह वर्षों से तिब्बती शरणार्थियों के साथ चीन की नाराजगी झेलते हुए भी खड़ा रहा है।