mahashivaratri

आसिफ अली शाहजहांपुर: जनपद की उत्तरी सीमा पर बंडा थाना क्षेत्र में गोमती नदी के तट पर स्थापित सुनासिर नाथ स्थान पर भगवान शिव परिवार समेत स्वयं प्रकट हुए थे। आज भी यहां भगवान शिव, पार्वती व गणेश की जलमग्न प्रतिमाएं स्थापित हैं। अहिल्या से छल करने के बाद गौतम ऋषि के श्राप से मुक्ति …

नई दिल्ली: कुछ साल पहले रूस के एक डॉक्टर ने कैलाश मानसरोवर की यात्रा की थी। जिसके बाद उन्होंने कुछ चौकाने वाले खुलासे किये थे। उन्होंने दावा किया था कि कैलाश पर्वत एक प्राचीन मानव निर्मित पिरामिड है, जो अनेक छोटे-छोटे पिरामिडों से घिरा हुआ है। कैलाश पर्वत को हिंदू, बौद्ध और जैन धर्म के …

बाबा विश्वनाथ के विवाहोत्सव यानि महाशिवरात्रि पर बनारस में श्रद्धालुओं का जनसैलाब उमड़ पड़ा है। देश के कोने-कोने से आए लाखों श्रद्धालु बाबा के दर्शन के लिए लाइन में खड़े हैं।

21 फरवरी को महाशिवरात्रि का पावन पर्व मनाया जा रहा है। महाशिवरात्रि हिन्दूा धर्म के प्रमुख त्योीहरों में से एक है। इस दिन भक्तिमय वातावरण के बीच इस पर्व की एक अलग ही रौनक देखने को मिलती है।

शुक्रवार 21 फरवरी को महाशिवरात्रि का पावन पर्व मनाया जा रहा है। महाशिवरात्रि हिन्दूा धर्म के प्रमुख त्योीहरों में से एक है। इस दिन भक्तिमय वातावरण के बीच इस पर्व की एक अलग ही रौनक देखने को मिलती है।

महाशिवरात्रि की पूर्व संध्या पर मनकामेश्वर मंदिर में आरती करती महंत दिव्या गिरी, महाशिवरात्रि के मौके पर मनकामेश्वर मंदिर को फूलों और झालरों से सजाया गया है जो देखते ही बनता है।

जनपद हमीरपुर के सरीला कस्बे में ऐतिहासिक शल्लेश्वर मंदिर में महाशिवरात्रि महोत्सव की तैयारियां पूर्ण ।महाशिवरात्रि के दिन शिव बारात की शोभायात्रा बैण्डबाजे के साथ निकाली जायेगी। इस शोभायात्रा में लाखो लोगों की भीड़ जुटने का अनुमान है। शोभायात्रा को लेकर पुलिस प्रशासन ने भी तैयारियां पूरी कर ली है। लगातार 46 सालों से यह …

जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद शिवरात्रि के मौके पर बड़े फिदायीन हमले की फिराक में है। खुफिया एजेंसियों को सुरक्षा बलों के काफिलों पर फिदायीन...

आज महाशिवरात्रि है और आज पूरे देश में इस पर्व को बड़े ही आस्था और उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। शंकर और पार्वती के विवाह उत्सव महाशिव रात्रि का सम्बन्ध कृष्ण की नगरी से भी जुडा हुआ है। कान्हा की नगरी में आज के दिन श्रीकृष्ण के केशव देव स्वरूप को भगवान शिव का श्रृंगार कराया जाता है और शाम को श्रीकृष्ण जन्मस्थान से शिव बारात पूरे शहर में निकाली जाती है।

महाशिवरात्रि के पर्व कुंभ मेले में श्रद्धालुओं की भारी भीड़ उमड़ पड़ी है। प्रयागराज में चल रहे आस्था के विराट संगम कुंभ मेले का अंतिम स्नान महाशिवरात्रि के दिन होता है। भगवान शिव और माता पार्वती के इस पावन पर्व पर कुंभ में आए सभी भक्त संगम में डुबकी जरूर लगाते हैं।कुंभ मेला प्रशासन के मुताबिक, कुंभ के अंतिम स्नान पर करीब 60 लाख श्रद्धालुओं के पहुंचने का अनुमान है।