month

अप्रैल में जन्म लेने वाले लोगों के व्यक्तित्व का कई रंग होता है। ये लोग ज्यादातर परिस्थितियों में सामंजस्य बिठाने की कोशिश करते हैं। ये लोग मजाकिया और माहौल को हल्का रखते हैं। ये लोग जिद्दी स्वभाव के भी होते हैं और दूसरों से पहले ही अपनी बात कहना पसंद करते हैं। हर विषय में इनकी राय इनके लिए सटीक होती है। ये

हिंदू पंचांग के अनुसार साल का अंतिम 12वां माह फाल्गुन होता है। फाल्गुन मास का सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं है इसका मनोवैज्ञानिक तथा आध्यात्मिक महत्व भी है। यह महीना हमें सीखाता है कि हमेशा सकारात्मक सोचें चाहे परिस्थितियां कैसी भी हो।

इस साल खरमास 16 दिसंबर से लग रहा है। साल में दो बार जब सूर्य, गुरु की राशि धनु व मीन में संक्रमण करता है, उस समय को खर, मल व पुरुषोत्तम मास कहते हैं। इस दौरान कोई भी शुभ कार्य नहीं किया जाता। खर मास आगामी 14 दिसम्बर से शुरू हो रहा है। शास्त्रों में बताया गया है कि सूर्य जबतक गुरू की राशि मीन अथवा धनु में होता हैं

सावन माह शुरु होने में अभी कुछ  ही दिन बाकी है, हिन्दू धर्म में सावन मास को बहुत पवित्र माना गया है और इस मास में भगवान शिव की विशेष पूजा अर्चना किया जाता हैं जिसका शुभ फल और भगवान की विशेष कृपा बनी रहती है। हर साल की तरह इस साल सावन 17 जुलाई 2019 से शुरु होगा।

हरिद्वार: हिंदू धर्मावलंबी सावन मास को सभी मासों में पवित्र मास मानते है। इस माह में शिव-पार्वती के पूजन का विधान है। वैसे तो इनका पूजन हर मास में किया जाता है, लेकिन सावन में पूजा करने से विशेष फल मिलता है। इसलिए प्रिय है शिव को सावन माह पौराणिक कथा के अनुसार, जब भगवान भोले …

जयपुर:अधिमास (मलमास) 16 मई 2018 से आरंभ हुआ। मलमास को पुरुषोत्तम या अधिकमास के अन्य नाम से भी जाना जाता है। यह अधिकमास यानि मलमास ज्येष्ठ अमावस्या 13 जून 2018 को समाप्त हो रहा है। हिन्दू धार्मिक मान्यता के अनुसार यह महीना शुभ कार्य के लिए शुभ नहीं माना जाता है। ऐसे में तुलसी का …

अप्रैल का महीना आने वाला है। यह महीना अधिकतर कंपनियों में अप्रेजल का होता है। इसी समय आपको सैलरी और प्रमोशन दोनों का लाभ मिलता है। अगर आप प्रमोशन चाहते हैं तो कंपनी की निगाह में आपकी छवि काम करने वाले व्यक्ति की बनेगी। कंपनी आपको ज्यादा से ज्यादा काम देगी। अगर आप मेहनत करने …

जयपुर: हिंदू पंचांग के अनुसार साल का अंतिम 12वां माह फाल्गुन होता है। फाल्गुन मास का सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं है इसका मनोवैज्ञानिक तथा आध्यात्मिक महत्व भी है। यह महीना हमें सीखाता है कि हमेशा सकारात्मक सोचें चाहे परिस्थितियां कैसी भी हो। इस मास के व्रत, त्योहारों में भी यही भाव छिपा है। इस मास …

जयपुर:  साल 2018 की शुरूआत तो हो गई है और कुछ दिन बाद शादी का सीजन भी शुरू हो जाएगा। ऐसे में लोग शादी से जुड़ी सभी तैयारियों में जुटेंगे। शादी-विवाह से पहले तक घरों में तमाम कथा-पूजन का आयोजन होता रहता है। दी सिर्फ दो लोगों को मिलन नहीं है बल्कि दो परिवारों का मिलन …

जयपुर: हमारे यहां प्राचीन काल से ही उपवास रखने की परंपरा है। उपवास का धार्मिक महत्व है, लेकिन यह हमारी सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद है। उपवास करने से शरीर की तमाम परेशानियां भी दूर होती हैं। व्रत में भोजन पर नियंत्रण कर शारीरिक और मानसिक हेल्थ को बेहतर बनाया जा सकता है। इससे …