patient

वैश्विक महामारी कोरोना के पॉजिटिव केस के आंकड़े बढ़ते जा रहे हैं। गोरखपुर मंडल में अब तक कुल 61 पॉजिटिव केस आए हैं, इनमें 4 की डेथ हुई है। एक डेथ का फाइनल टेस्‍ट करने के बाद ही उसकी फाइनल स्थिति स्‍पष्‍ट हो पाएगी।

पहली बार एक अध्ययन में खुलासा किया गया है कि कोरोना पीड़ितों के नजदीकी संपर्क में आने वाले किन लोगों को इस वायरस का सबसे ज्यादा खतरा होता है। अध्ययन के मुताबिक नजदीकी संपर्क में आने वाले सभी लोगों को संक्रमण की आशंका नहीं होती।

उत्तर प्रदेश के रायबरेली में कोरोना मरीजो के मिलने का सिलसिला थमने का नाम नही ले रहा है। मंगलवार को अब्दुल रहमान नाम के युवक की रिपोर्ट पाजिटिव आई है।

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है। इस घातक बीमारी से सबसे ज्यादा अमेरिका प्रभावित हुआ है। अब वहां पर कोरोना वायरस की स्थिति और भयावह हो गई है।

कोरोना वायरस के मरीजों के इलाज में दुनिया भर के डॉक्टर्स दिन रात जुटे हुए हैं। इस बीच भारत से एक अलग तरह की ही तस्वीर देखने को मिल रही है। दरअसल यहां बिना कुछ खाए- पिए पीपीई पहनकर डॉक्टर दिन-रात मरीजों की जान बचाने के काम में लगे हुए हैं।

बिहार के नालंदा जिले में बुधवार को 3 लोग कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। उनमें से एक कोरोना पॉजिटिव मरीज 22 मार्च को फ्लाइट के जरिए दिल्ली से पटना आया था। फ्लाइट में उसके सहयात्री के रूप में बिहार के ही 19 जिलों के 69 लोग सफर कर रहे थे।

कोरोना वायरस ने पूरे देश को अपने गिरफ्त में लें रखा है। नये केस मिलने और इससे होने वाली मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है। इस बीच हैदराबाद से हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है।