reliance

ट्राई के ढुलमुल रवैये की वजह से अगर IUC को समाप्त करने में देरी की गई तो यह फ्री वॉयस कॉलिंग व्यवस्था को खत्म कर देगा। जो ग्राहक के हक में नही होगा।

जियो को पुरानी व्यवस्थाओं में बदलाव करने वाले 100 वैश्विक ब्रांडों में जगह दी गई है। मौजूदा समय में जियो का ब्रांड मूल्य 4.1अरब डॉलर है। रिपोर्ट में कहा गया है  कि ‘जियो ने डेटा पर भारी छूट देकर भारतीय दूरसंचार क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन किया और पुरानी व्यवस्था को बदलने का काम किया।

आज का आवाम, युवा पर्यावरण के बारे में जागरूक और चिंतित हैं। भारत में सबसे ज्यादा युवा रहते हैं, जो हमेशा सस्टेनेबल या कह सकते हैं टिकाऊ उत्पादों की मांग करते रहे हैं, जिनसे सबसे कम कार्बन फुटप्रिंट्स हो और, पर्यावरण को कम से कम नुकसान पहुंचता हो।

जियो द्वारा की गई घोषणा के मुताबिक, जियो फाइबर के साथ जियो 4K सेट टॉप बॉक्स मिलेगा, जो सिर्फ आपके पारंपरिक ट्रेडिशनल केबल का काम नहीं करेगा, बल्कि इस पर आपको वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, वॉडियो कॉलिंग, एप्स का एक्सेस, ऑनलाइन गेमिंग आदि फीचर मिलेंगे।

जियो के इस नई सेवा से जियो लैंड लाइन से 500 रुपये मासिक किराये पर अमेरिका और कनाडा में असीमित अंतरराष्ट्रीय फोन कॉल भी की जा सकेगी। भारत में जियो गीगा फाइबर की सबसे न्यूनतम स्पीड 100 एमबीपीएस होगी। कंपनी का एक जीबीपीएस तक की स्पीड उपलब्ध कराने के प्लान हैं।

रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अम्बानी ने कंपनी की 42वीं आम बैठक में आक्रामक रुख जारी रखने के संकेत दिए थे। रिलायंस अपनी तीसरी वर्षगांठ पर जियो गीगा फाइबर की शुरुआत करने जा रही है। करीब तीन साल पहले रिलायंस इंडस्ट्रीज अब तक 34 करोड़ मोबाइल ग्राहक बना चुकी है। जल्द ही 50 करोड़ का लक्ष्य हासिल करने की तैयारी में जी जान से जुटी है। इस दिशा में वह मजबूती के साथ आगे बढ़ रही है।

सऊदी अरामको और रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) ने आज रिफाइनिंग, पेट्रोकेमिकल्स सहित तेल की बिक्री कारोबार में प्रस्तावित निवेश के लिए ऑयल टू कैमिकल्स (ओ2सी) डिवीजन में निवेश के संबंध में एक गैर-बाध्यकारी पत्र (एलओआई) पर हस्ताक्षर करने पर सहमति व्यक्त की है।

रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड (जियो), रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड की सहायक कंपनी और माइक्रोसॉफ्ट कॉर्पोरेशन ने भारतीय इकोनॉमी और समाज को डिजिटल आधार पर तेजी से बदलने के लिए एक नया करार किया है।

भारत में अगले 20 वर्षों में दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ते ईंधन बाजार की उम्मीद है, देश में यात्री कारों की संख्या में लगभग छह गुना वृद्धि होने का अनुमान है। आरआईएल और बीपी का उपक्रम भारत भर में 1,400 से अधिक साइटों पर आरआईएल के वर्तमान ईंधन रिटेलिंग नेटवर्क को शामिल और निर्माण करेगा, जिसका लक्ष्य अगले पांच वर्षों में 5,500 साइटों तक तेजी से विकास करना है।

नया शोरूम ए-116ए, एलडीए कॉलोनी, सेक्टर बी, कानपुर रोड पर खोला गया और उद्घाटन के इस अवसर पर कई आर्कषक ऑफर भी ग्राहको के लिये रखे गये।