Corruption

प्रदेश सरकार- भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने के लिए जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाने की बात कह रही है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के भ्रष्टाचार के मामलों पर कड़ी कार्रवाई भी  कर रहे है। प्रदेश की नौकरशाही को सख्त संदेश दे रहे हैं, लेकिन वहीं दूसरी ओर डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा के प्रभार वाले जिला रायबरेली में मुख्यमंत्री कि भ्रष्टाचार पर जीरो टॉलरेंस की नीति फेल होती नजर आ रही है। 

वायरल वीडियो में लेखपाल लोगो से कह जा रहा है कि जो मन हो वो करो वहा कब्जे का कोई विवाद नही है और यह कहते हुए लेखपाल ने मोटी नोटों की गड्डी अपने हाथ मे लेकर अपने पास रख ली।

संयुक्त राष्ट्र में व्याप्त भ्रष्टाचार का एक बड़ा उदहारण है आयल फॉर फ़ूड प्रोग्राम यानी तेल के बदले अनाज कार्यक्रम। इराक की जनता की मदद के लिए 6 साल तक चलाये गए प्रोग्राम में 64 बिलियन डालर का हेरफेर हुआ था। इस घोटाले के तार संयुक्त राष्ट्र महासचिव कोफी अन्नान और बौत्रोस बौत्रोस घाली तक जुड़े हुए थे।

बरेली में क्राइम ब्रांच टीम द्वारा रिश्वत के हिस्सा-बांट का यह वीडियो दो दिन पहले सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। इस वीडियों के वायरल होने के बाद पुलिस महकमें में बरेली से लेकर राजधानी लखनऊ तक हडकंप मच गया था।

जिले में लगातार पुलिस के घूस लेने के वीडियो वायरल हो रहे है।कहीं मास्क के नाम पर वसूली की जा रही है तो कहीं काम कराने के नाम पर पुलिस वसूली कर रही है।

अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में मंत्री रहे जसवंत सिंह का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। 82 वर्षीय जसवंत सिंह बाथरूम में गिरने के बाद काफी दिनों से कोमा में चल रहे थे।

कोरोना में कथित भ्रष्टाचार और जिला चिकित्सालय में बन्द पड़ी ओपीडी को लेकर समाजवादी पार्टी आन्दोलन के मूड़ में आ गयी है ।

योगी सरकार में एक के बाद एक घोटाले की परत खुलने का जिक्र करते हुए समाजवादी नेता ने कहा कि बीते तीन साल में प्रदेश और देश की जनता ने केवल सरकारी विभागों में भ्रष्टाचार के मामले ही उजागर हुए हैं।

दुनियाभर में राजनेताओं पर भ्रष्टाचार के आरोप लगते हैं, लेकिन पड़ोसी देश पाकिस्तान में सैन्य अधिकारियों ने देश को लूटने का रिकाॅर्ड स्थापित किया है। पाकिस्तान की गरीब जनता को लूटकर कंगाल बनाने वाले सैन्‍य अधिकारियों के बारे में बड़ा खुलासा हुआ है।

संजय सिंह ने लिखा है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना काल में आक्सीमीटर, थर्मामीटर और अन्य चिकित्सा उपकरणों की खरीद मे भारी घोटाला हुआ है।