dengue

कोरोना काल में यूपी के मैनपुरी जनपद के करीमगंज गांव के लोगों के लिए रहस्यमयी बीमारी आफत बनकर आई है। 23 दिन में 12 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है। जबकि 400 से ज्यादा लोग अपना इलाज करा रहे हैं।

बारिश के मौसम में स्किन इंफेक्शन के अलावा मलेरिया और डेंगू जैसी कई गंभीर बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। यूपी के कई हिस्सों में भी हल्की व भारी बारिश हो रही है, जिसके बाद यहां भी मलेरिया और डेंगू जैसी बीमारियों का खतरा बढ़ गया है।

भारत में हर साल डेंगू के करीब एक से दो लाख मामले सामने आते हैं। नेशनल वेक्टर बोर्न डीजीज कंट्रोल प्रोगाम के मुताबिक, 2019 में डेंगू के 1,36,422 मामले सामने आए थे और करीब 132 लोगों की मौत हुई थी।

नवम्बर पूरे जनपद में बुखार के कहर से हर घर में विछी हुई है चारपाई और लगातार मौतें होने का सिलसिला जारी है।  किंतु स्वास्थ्य विभाग सिर्फ खाना पूर्ति कर कागजों तक ही सीमित रह डेंगू के नाम पर सरकारी पैसा लूटने में जुटा है।

मुख सचिव चिकित्सा, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण देवेश चतुर्वेदी ने एईएस तथा जेई के प्रभाव के लिए संवेदनशील माने जाने वाले सभी 38 जनपदों में सौ फीसदी टीकाकरण करने का निर्देश देते हुए कहा है कि केवल डेंगू ही नहीं मच्छर पैदा करने वाली सभी स्थितियों को नष्ट किया जाये।

मेडिकल साइंस यह कहता है कि डेंगू की बीमारी सिर्फ मच्छर के काटने से फैलता है। लेकिन एक देश में ऐसा मामला सामने आया है, जिन्हें लोगों ने मानने से इंकार कर दिया। पूरा मामला यूरोपियन देश स्पेन का है, जहां डेंगू से जुड़े पुराने सभी दावे झूठे नजर आ रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने सभी मण्डलायुक्तों और जिलाधिकारियों को डेंगू तथा अन्य वेक्टर जनित रोगों के रोकथाम और बचाव तथा नियंत्रण के लिए तत्काल प्रभावी कदम उठाने तथा व्यापक जनजागरूकता अभियान चलाने के निर्देश दिये हैं।

प्रदेश में बढ रहे डेगूं रोग को रोकने को लेकर राज्य सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। सीएम योगी ने इसे रोकने के लिए कहा है। इसी बात के मद्देनजर आज अधिकारियों की एक मीटिंग हुई, जिसमें इस बीमारी को रोकने के लिए हर संभव प्रयास करने को कहा गया है।

जनपद में अब तक डेंगू से श्रीमती कृष्ण देवी, शकुंतला देवी, प्रशांत, श्रीमती देवयानी, श्रीमती रुचि पालीवाल, सुनीता, छाया, सुधा जैन नामक महिलाएं के अलावा सही उपचार के अभाव में 42 वर्षीय जयपाल निवासी रूपसपुर निधौली कला निवासी युवक आज काल के गाल में समा चुका है अन्य मौतों की अभी पुष्टि नहीं हुई है।