heavy rain

मौसम केंद्र लखनऊ का पूवार्नुमान है कि 16 व 18 जनवरी को भी बादल छाए रहेंगे और तूफानी हवाओं के साथ तेज बारिश हो सकती है। तापमान में गिरावट आएगी। 18 से 20 जनवरी तक घना कोहरा छाने का भी पूवार्नुमान हैं।

सर्द मौसम में मानसून ने भी ठंडक बढ़ा दिया है। कल रात से लगातार बारिश हो रही है। 

बर्फबारी, ठंड, बारिश और ओला पड़ने पूरे उत्तर भारत में लोगों का जनजवीन प्रभावित हुआ। कोहरे की वजह से लोगों की आवाजाही पर भी असर पड़ रहा है। कोहरे की वजह से कई ट्रेनें लेट चल रही हैं। विमानों के उड़ान पर भी प्रभाव पड़ रहा है।

मौसम ने एक बार फिर करवट ले ली है। मध्य पाकिस्तान और आसपास बने पश्चिमी विक्षोभ और हरियाणा व उत्तर पूर्व राजस्थान पर बने चक्रवातीय दबाव की वजह से अगले दो दिनों तक उत्तर प्रदेश में बारिश होगी या गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ेंगी।

उत्तर-पूर्वी मॉनसून के कारण तमिलनाडु के कई हिस्सों और पड़ोसी राज्य पुडुचेरी में पिछले 24 घंटों में भारी बारिश हुई। सोमवार को भी भारी बारिश की आशंका देखते हुए पुडुचेरी और तमिलनाडु के कई जिलों के स्कूलों में छुट्टी कर दी गई है।

हिमाचल प्रदेश में ठंड प्रचंड होने लगी है। गुरुवार को ऊंचाई वाले इलाकों में बर्फबारी हो रही है। वहीं, शिमला समेत कई इलाकों में बादल छाए हुए हैं। मनाली के रोहतांग और लाहौल स्पीति के केलांग और कोकसर में बर्फबारी हुई है।

जम्मू-कश्मीर में मौसम ने अचानक करवट ले ली है। बुधवार रात हुई भारी बर्फबारी और बारिश ने काफी तबाही मचाई है। कश्मीर घाटी में अचानक भारी बर्फबारी और बारिश से हजारों पेड़ नष्ट हो गए हैं।

दक्षिण भारत में लगातार मौसम करवट ले रहा है। मौसम विभाग ने चेतावनी देते हुए कहा कि अरब सागर में एक अनोखी घटना घट रही है।

सभी को ऐसा लग रहा था की बारिश चली गयी और ठंडी का मौसम आ गया है। लेकिन दक्षिण भारत के लोगों को अभी बारिश से आराम नहीं मिला है।