breast cancer

आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस (एआई) के मार्फत स्तन कैंसर को पहचानने की नई तकनीकी का इजाद कर लिया गया है। भारत में होने वाले इस आम कैंसर को एआई और मशीन...

पाकिस्तान में हर दिन एक महिला की हो रही है मौत।इसकी वजह है कि यहां हर नौ महिलाओं में से एक स्तन कैंसर से पीड़ित है, और इस बीमारी से मौत की दर दुनिया के किसी भी अन्य हिस्से के मुकाबले पाकिस्तान में सबसे ज्यादा हैं। इन मौतों के पीछे प्रमुख कारण हैं

ब्रेस्ट कैंसर जैसी खतरनाक बीमारी से दो-दो हाथ कर उसे हराने वाली लखनऊ की बहादुर महिलाएं बॉलीवुड अभिनेत्री पद्मिनी कोल्हापुरे और भजन गायिका तृप्ति शाक्या की मौजूदगी में आगामी 19 अक्टूबर को फैशन वॉक में जलवा बिखेरेंगी।

आज-कल कैंसर बहुत ही आम बीमारी जैसी लगती है। कैंसर के भी बहुत टाइप होते हैं। बात करें तो, महिलाओं में आज-कल ब्रेस्ट कैंसर होने वाली प्रमुख बीमारी में से एक है। इतना ही नहीं बल्कि ब्रैस्ट कैंसर की वजह से हर साल लाखों औरतें इस बीमारी की वजह से मरती हैं।

स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद माना जाने वाला अखरोट स्तन कैंसर को को बढ़ने से रोकने और इससे उबरने में भी मददगार साबित हो सकता है। 'न्यूट्रिशन रिसर्च' पत्रिका में प्रकाशित एक अध्ययन में यह दावा किया गया है।

ब्रेस्ट कैंसर महिलाओं में सबसे अधिक पाया जाना वाला कैंसर है। आमतौर पर मेनोपॉज़ के बाद होने वाली यह बीमारी अब 18 से 21 साल की युवतियों में भी तेज़ी से फैल रही है। डॉक्टरों के मुताबिक आधुनिक जीवनशैली और अत्यधिक तनाव कम उम्र में ही महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर को जन्म दे रहा है।

मुंबई: एक्टर आयुष्मान खुराना की पत्नी ताहिरा कश्यप को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है। ताहिरा ने हाल हाल ही में इंस्टा पर एक पोस्ट कर सबको चौंका दिया है। ताहिरा ने पोस्ट में बताया कि- ‘मुझे राइट ब्रेस्ट में DCIS (डक्टल कार्किनोमा इन सिटू) हुआ है। ये तस्वीर आपको परेशान कर सकती है, …

नई दिल्ली :भारत में बीते एक दशक में स्तन कैंसर के मामले कई गुना बढ़ गए हैं। स्तन कैंसर पश्चिमी देशों की तुलना में भारतीय महिलाओं को कम उम्र में भी शिकार बना रहा है। भारतीय औरतों में स्तन कैंसर होने की औसत उम्र लगभग 47 साल है, जो कि पश्चिमी देशों के मुकाबले 10 …

नयी दिल्ली : भारत में स्तन कैंसर के तेजी से बढ़ते मामलों के बीच एक नए अध्ययन ने स्तन कैंसर से पीडि़त महिलाओं के बीच नई उम्मीद जगाई है। स्तन कैंसर से पीडि़त महिलाओं को देश में अब तक कीमोथेरेपी देने की सिफारिश की जाती थी लेकिन हाल ही में इजाद की गई हार्मोनल थेरेपी में …