Health

14 नवंबर को सर फ्रेडरिक बैंटिंग की जयंती पड़ती है। जिन्होंने 1922 में चार्ल्स बेस्ट के साथ इंसुलिन की खोज की थी। 1991 में इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन और विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा इस रोग से बढ़ती चिंताओं के मद्देनजर और इसके प्रति जारूकता फैलाने के लिए सबसे पहले डायबिटीज़ दिवस मनाया गया था।

निमोनिया किसी भी उम्र के लोगों को हो सकता है लेकिन कम उम्र के बच्चों में यह बहुत खतरनाक हो जाता है। यूनिसेफ की एक रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2018-19 में निमोनिया से भारत में दो साल से कम उम्र के करीब 01 लाख 27 हजार तथा दुनिया भर में करीब 08 लाख बच्चों की मौत हुई है।

भारत में फाइलेरिया के लगभग करोड़ों मरीज हैं लेकिन ज्यादातर लोगों में ये बीमारी इस स्टेज पर नहीं पहुंची है कि उनमें लक्षण दिखें, यानी उनके हाथ, पैरों में सूजन नजर आने लगे, जिसे हाथी पांव कहते हैं।

दिल्ली के साथ-साथ कई अन्य राज्यों में भी वायु प्रदूषण की समस्या बढ़ने लगी है। अभी लोग कोरोना वायरस के संक्रमण से जूझ ही रहे है तब से वायु प्रदूषण का खतरा भी मंडराने लगा।

विटामिन डी हमारे शरीर के लिए बेहद ज़रूरी होता है। जिस तरह सूरज की धूप शरीर के लिए ज़रूरी है वैसे ही खाद्य पदार्थों में भी विटामिन डी का सेवन करना भी आवश्यक है।

शरीर को स्वस्थ रखने में विटामिन्स की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। विटामिन की कमी से शरीर में कई तरह की परेशानियां बढ़ने लगती हैं। खासतौर से बढ़ती उम्र के लिए कुछ खास विटामिन्स और जरूरी हो जाते हैं।

बेकिंग सोडा आम तौर पर सभी के घरों में पाया जाता है। ये ना केवल खाने को बेहतर बनाने के काम आता हैं बल्कि स्वास्थ्य और त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है। ये आपकी त्वचा के पीएच स्तर को संतुलित करता है।

आज हम आपको घर में रखें फलों से फ्रूट फेस पैक बनाना सिखाते हैं। आप फ्रूट फेस पैक के लिए इन फलों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

खाने में अगर प्याज़ ना मिले तो स्वाद फीका-फीका सा लगता है। प्याज़ आपके खाने में स्वाद तो बढ़ाता ही है साथ ही इसमें कई पोषक तत्व भी होते हैं। जी हां, प्यार में एंटी-एलर्जिक, एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण होते है।

कोरोना वायरस का अभी तक इलाज तो नहीं मिला है इसलिए लक्षणों के आधार पर ही इलाज किया जा रहा है। अब तक जो जानकारी उपलब्ध है उसके हिसाब से कोरोना की वैक्सीन आने में अभी समय लग सकता है