business

बताते चलें कि प्रत्येक वर्ष माह दिसंबर के अंत व जनवरी की शुरुआत में शरदोत्सव प्रदर्शनी का आयोजन नगर पालिका परिषद द्वारा कराया जाता रहा था।

मुक्त बाजार व्यवस्था आने और आर्थिक सुधारों के सिलसिला चलने के बाद सरकारी व्यावसायिक प्रतिष्ठानों की संख्या कम होने लगी। सरकारी और सार्वजनिक उपक्रमों में विनिवेश का सिलसिला शुरू हो गया।

उन्होंने पेट्रोल पर प्रति लीटर 2.5 रुपये और डीजल पर 4 रुपये प्रति लीटर सेस (उपकर) लगाने की घोषणा की थी। लेकिन अभी कस्टमर्स को इसकी मार नहीं झेलनी पड़ी है।

वित्त मंत्री की एक घोषणा है कि देश में कंपनियों का रजिस्ट्रेशन अब और आसान किया जाएगा। छोटी कंपनी की परिभाषा बदली जायेगी ताकि छोटे स्तर पर कारोबार करने वालों को कंपनी रजिस्ट्रेशन में सहूलियत मिल सके।

रेरा ने अब तक अनियंत्रित एक क्षेत्र में शासन प्रणाली को प्रभावित किया है। विमुद्रीकरण और वस्‍तु और सेवा कर कानूनों के साथ, इसने काफी हद तक रियल एस्‍टेट क्षेत्र से काले धन का सफाया किया है।

वैक्सीन के डेवलपमेंट में सरकारों, संस्थानों, संगठनों और निजी तौर पर व्यक्तियों ने जबरदस्त पैसा लगाया है। चूँकि कोरोना वैक्सीन को किसी भी हाल में जल्द से जल्द चाहिए था

इस अवसर पर उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल उत्तर प्रदेश पंजीकृत के अध्यक्ष लोकेश अग्रवाल ने व्यापारियों से एक जुट होकर बहुराष्ट्रीय कंपनियों व शापिंग माल के खिलाफ आर्थिक आजादी की नई जंग छेड़ने का आहवान किया।

नोएडा पावर कंपनी लिमिटेड ("एनपीसीएल") के साथ रु3.08 प्रति किलोवाल का पावर परचेज एग्रीमेंट (पीपीए) है। इस कमीशन के साथ एजीईएलकी कुल परिचालन अक्षय क्षमता बढ़कर 2,975 मेगावाट हो जाती है।

उन्होने कहा कि अदाणी ग्रुप भविष्य में कांट्रैक्ट फ़ार्मिंग करने का कोई इरादा नहीं रखती है और न ही इसके लिए जमीन का अधिग्रहण भी कर रही है

अभी भी लोग गोल्‍ड को बाकी सभी विकल्‍पों के मुकाबले निवेश के लिए ज्‍यादा सुरक्षित मान रहे हैं। ऐसे में गोल्‍ड में जबरदस्‍त खरीदारी जारी है। इससे दोनों कीमती धातुओं के भाव में तेजी का सिलसिला जारी है।