lockdown

कोरोना वायरस ने दुनियाभर में तांडव मचा हुआ है। चीन के बाद ये जानलेवा वायरस यूरोप के देशों में तबाही मचा रहा है। कोरोना महामारी से निपटने के लिए भारत सरकार ने 21 दिनों का देशव्यापी लॉकडाउन किया है।

कोरोना महामारी को रोकने के लिए चल रहे लॉकडाउन में कई लोगों के एकत्र होकर एक घर में नमाज पढ़ने से मना करने से खफा उपद्रवियों के पुलिसकर्मियों पर हमले के बाद पूरा मोहल्ला छावनी में तब्दील हो गया।

वर्तमान समय में जब दुनिया एक विकट परिस्थिति से गुज़र रही है, हर तरफ़ लोग परेशान हैं, जरूरत की चीज़ें लोगों को नहीं मिल पा रहीं हैं, कोरोना वायरस का खौफ़ लोगों में घर कर चुका है, वैसे में लोगों की हर संभव मदद करने की कोशिश कर रहा है उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ का एक अस्पताल।

आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल प्रीति शुुक्ला एवं आईजी विन्ध्याचल परिक्षेत्र पीयूष श्रीवास्तव ने 21 दिवसीय लॉकडाउन के स्थिति का जायजा लेने...

कोरोना वायरस के मद्देनजर जारी लॉकडाउन से लोगों को कुछ हद तक परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। इस बाबत उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर जिले में पुलिस प्रशासन ने एफआईआर होम डिलीवर अभियान की शुरूआती की है। ये अभियान जिले के लोगों को लॉकडाउन के उल्लंघन से रोकने और उनकी समस्याओं के समाधान के लिए शुरू किया गया है।

5 अप्रैल  रविवार  को रात नौ बजे घर की बालकनी में दीया जलाने की पीएम मोदी ने देशवासियों से अपील की है।  पीएम की इस अपील पर सोशल मीडिया पर कई तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं। एक ओर जहां तमाम लोग इसका समर्थन करते नजर आ रहे हैं

कोरोना वायरस की वजह से ज्यादातर देशों में लॉकडाउन किया गया है। जिस वजह से लोग अपने घरों में हैं। ऐसे में ज्यादातर लोग अपना टाइम पास करने के लिए इंटरनेट, मोबाइल, कंप्यूटर का सहारा ले रहे हैं।

लॉकडाउन को लेकर सीएम के आदेश के बाद यूपी पुलिस ने और ज्यादा सख्ती करते हुए लोगों से पूछताछ किया।

देश में कोरोना वायरस की वजह से खौफ है। इस वायरस से लड़न के लिए देश में 21 दिन के लॉकडाउन का है। लोगों से अपील की जा रही है कि घरों से बाहर न निकलें।

देश में चल रहे लॉकडाउन के बीच पीएम मोदी आज सुबह 9 बजे फिर एक बार वीडियो सन्देश के जरिये देश की जनता से जुड़े। इस दौरान उन्होंने जनता से एक ख़ास अपील की है