US Election Result: दिलचस्प हुई जंग, एरिजोना में बाइडेन के करीब ट्रंप

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान समाप्त होने के बाद पूरी दुनिया की निगाह मतगणना पर टिकी हुई है। हर कोई जानना चाहता है कि अमेरिकी राष्ट्रपति की कुर्सी पर अगले 4 वर्षों के लिए कौन बैठेगा। ट्रंप और बिडेन के बीच इस कुर्सी के लिए कड़ा मुकाबला दिख रहा है।

Published by Dharmendra kumar Published: November 4, 2020 | 8:54 am
Modified: November 5, 2020 | 8:34 pm
Biden set to become president

US Election Result LIVE: बाइडेन का राष्ट्रपति बनना तय, मिले 264 इलेक्टोरल वोट-(courtesy-social media)

वाशिंगटन: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदान समाप्त होने के बाद मतगणना का काम शुरू हो गया है। अमेरिकी नागरिकों ने इस बात का फैसला कर दिया है कि दुनिया की सबसे ताकतवर कुर्सी पर मौजूदा राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन में से कौन बैठेगा। डेमोक्रेट्स के उम्मीदवार जो बाइडेन और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से आगे चल रहे हैं।

काउंटिंग के बीच ही दोनों उम्मीदवारों ने अपनी-अपनी जीत का दावा कर दिया है, साथ ही ट्रंप ने कुछ राज्यों में फ्रॉड होने का आरोप लगाया है।  दोनों प्रत्याशियों के बीच कड़ा मुकाबला दिख रहा है। रिपोर्ट मुताबिक अब तक की गई गिनती के हिसाब से बिडेन को 264 और ट्रंप को 214 वोट मिल चुके हैं।

Live Updates…

दिलचस्प हुई व्हाइट हाउस की रेस

नेवादा में करीब 2 लाख नए बैलेट खुले हैं, ऐसे में यहां पर गिनती अभी भी जारी रहेगी। दूसरी ओर पेंसिलवेनिया में डोनाल्ड ट्रंप को जो लीड मिली थी वो कम हो गई है। ऐसा ही ऐरिजोना में हुआ है, जहां पर जो बाइडेन को मिली लीड कमजोर हुई है। अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, कई राज्यों में शुक्रवार को नतीजे साफ हो सकते हैं जबकि बड़े राज्यों में नतीजे के लिए शनिवार तक का इंतजार करना होगा।

एरिजोना में कम हुई बाइडेन की लीड

अमेरिका के एरिजोना में जो बाइडेन की बढ़त कम होने लगी है। पहले जहां बाइडेन करीब 70 हजार वोटों से आगे थे, वो अब सिर्फ 10 हजार वोटों से आगे हैं। अभी यहां सिर्फ 88 फीसदी वोट गिने गए हैं। ऐसे में अगर गेम पलटता है तो डोनाल्ड ट्रंप के खाते में 11 वोट जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें…ट्रंप की जीत या हार? जानिए इस शख्स से, आज तक एक भी भविष्यवाणी नहीं हुई झूठी

donald trump

एरिजोना में ट्रंप समर्थकों का हंगामा

अमेरिका के एरिजोना में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक काउंटिंग सेंटर के बाहर पहुंचे। यहां पर ट्रंप समर्थकों ने नारेबाजी की और काउंटिंग रोकने की मांग की। इस दौरान हजारों की संख्या में समर्थक झंडा लेकर जमा हुए और नारेबाजी करते रहे।

अभी कहां पर चल रही है लड़ाई ?

पेंसिलवेनिया – 20 वोट, डोनाल्ड ट्रंप आगे

नॉर्थ कैरोलिना – 15 वोट, डोनाल्ड ट्रंप आगे

जॉर्जिया – 16 वोट, डोनाल्ड ट्रंप आगे

नेवादा – 6 वोट, जो बाइडेन आगे

अलास्का – 3 वोट, डोनाल्ड ट्रंप आगे

जो बाइडेन के नाम हुआ नया रिकॉर्ड

डेमोक्रेट्स उम्मीदवार जो बाइडेन ने अपने नाम एक नया रिकॉर्ड किया है। अमेरिकी चुनावी इतिहास में किसी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार को अब सबसे अधिक वोट मिलने का रिकॉर्ड जो बाइडेन के नाम हो गया है। अभी तक की गिनती तक जो बाइडेन 7 करोड़ वोट पा चुके हैं, जबकि डोनाल्ड ट्रंप 6।8 करोड़ वोट के करीब हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड बराक ओबामा के नाम था, जिन्हें 6।94 करोड़ वोट मिले थे।

ये भी पढ़ें…जहरीली हुई राजधानी: हवा में घुल गया जहर, स्मोग से ढंक गया शहर

वोटों के आंकड़े में भी आगे हैं जो बाइडेन

राष्ट्रपति चुनाव के ताजा अपडेट के मुताबिक डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन को अब तक कुल 7,15,57,235 वोट हासिल हुए हैं। जो कि पूरे मतों का 50.3 फीसदी है। वहीं दूसरी ओर रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को 48% वोट शेयर के साथ 6,82,56,676 वोट मिले हैं।

जीत के काफी करीब पहुंचने पर बोले बाइडेन- एक-दूसरे पर विश्वास बनाए रखें

राष्ट्रपति चुनाव में अब डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन अपनी जीत को लेकर काफी आश्वस्त दिखाई दे रहे हैं। जो बाइडेन ने अपने नए ट्वीट में कहा, “प्रक्रिया और एक-दूसरे पर विश्वास बनाए रखें। एक साथ, हम इसे जीतेंगे।” बता दें कि अब जो बाइडेन जीत के काफी करीब पहुंच चुके हैं। उन्हें अब तक 264 इलेक्टोरल वोट हासिल हो चुके हैं।

मिशिगन में हुई बाइडेन की जीत, मिले 6 इलेक्टोरल वोट

एसोसिएटेड प्रेस (एपी) के मुताबिक मिशिगन में डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन को जीत हासिल हुई है। यह जीत काफी अहम है क्योंकि इस राज्य ने 2016 की ट्रंप की जीत में बड़ा रोल निभाया था। और अब 4 साल बाद बाइडेन को यहां से 6 इलेक्टोरल वोट हासिल हुए हैं।

ये भी पढ़ें… लव जिहाद पर कानूनी मतभेद

कोर्ट जाने के निर्णय पर ट्रंप ने रखा अपना पक्ष

पेंसिल्वेनिया और मिशिगन में मतगणना स्थल पर पहुंच की अनुमति के लिए कोर्ट जाने पर डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर अपना पक्ष रखा है। ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा, “हमारे वकीलों ने “सार्थक पहुंच” के लिए कहा है, लेकिन क्या यह सही होगा? हमारी प्रणाली की अखंडता और राष्ट्रपति चुनाव को नुकसान पहले से ही पहुंचाया जा चुका है। इस पर चर्चा होनी चाहिए!”

जीत के काफी करीब पहुंच चुके हैं जो बाइडेन

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में इलेक्टोरल वोट के जादुई आंकड़े के काफी करीब पहुंचे डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन। जो बाइडेन को अब तक 264 इलेक्टोरल वोट मिल चुके हैं। वहीं रिपब्लिकन कैंडिडेट डोनाल्ड ट्रंप को अब तक 214 इलेक्टोरल वोट ही मिले हैं। बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए एक उम्मीदवार के पक्ष में 270 इलेक्टोरल वोट होने चाहिए। यानी कि अब जीत के जो बाइडेन को सिर्फ 6 और इलेक्टोरल वोट की जरूरत है।

बाइडेन ने भी किया जीत का दावा, कहा- विश्वास है कि हम विजयी होंगे

जो बाइडेन अब अपनी जीत के प्रति काफी आश्वस्त नजर आ रहे हैं। बिडेन ने अपने नए ट्वीट में कहा है, “मुझे विश्वास है कि हम विजयी होंगे, लेकिन यह मेरी जीत या हमारी जीत नहीं होगी। यह अमेरिकी लोगों के लिए, हमारे लोकतंत्र के लिए, अमेरिका के लिए जीत होगी।”

बाइडेन बोले- हम पर्याप्त वोट जीत रहे

राष्ट्रपति चुनाव के परिणमों के लिए चल रही कशमकश के बीच डेमोक्रेटिक उम्मीदवार जो बिडेन ने ट्विटर पर लाइव आकर एक वीडियो संदेश जारी किया। इससे पहले जो बिडेन ने लोगों से उन्हें लाइव सुनने की अपील भी की थी। अपने वीडियो संदेश में जो बिडेन ने कहा, “यह स्पष्ट है कि हम पर्याप्त वोट जीत रहे हैं। जो राष्ट्रपति पद जीतने के लिए काफी हैं।”

ये भी पढ़ें… पत्नी ने रखा था करवाचौथ का व्रत, बदमाशों ने पति को चाकुओं से गोदकर कर दी हत्या

ट्रंप के जीत के दावे पर बाइडेन का निशाना, कहा- लोग करते हैं तय

ट्रंप के दावे पर कटाक्ष करते हुए जो बाइडेन ने ट्वीट में लिखा है कि अमेरिका का राष्ट्रपति कौन होगा यह लोग तय करते हैं इसका दावा नहीं किया जा सकता है। बिडने ने लिखा, “सत्ता ली नहीं जा सकती है और ना ही इसका दावा किया जा सकता है, यह लोगों से मिलती है, और यह उनकी इच्छा है जो यह निर्धारित करती है कि संयुक्त राज्य का राष्ट्रपति कौन होगा।”

कई मांगों के साथ कोर्ट गया ट्रंप खेमा

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव की लड़ाई अब कोर्ट की दहलीज पर जा पहुंची है। ट्रंप कैंपेन ने बुधवार को मिशिगन में जहां वोटों की गिनती हो रही है वहां सार्थक पहुंच प्रदान किए जाने तक मतगणना रोकने की अपील की है। बता दें कि मिशिगन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उनके डेमोक्रेटिक प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के वोटों की गिनती की जा रही है जिसमें जो बिडेन का पलड़ा फिलहाल भारी नजर आ रहा है। इसके साथ ही ट्रंप कैपेन ने कोर्ट से विस्कॉन्सिन राज्य में वोटों की गिनती फिर से कराए जाने की भी मांग की है। बता दें कि विस्कॉन्सिन में बिडेन को जीत हासिल हुई है।

विस्कॉन्सिन में दोबारा मतगणना करना चाहते हैं ट्रंप

ट्रंप के कैंपेन मैनेजर का कहना है कि ट्रंप विस्कॉन्सिन में रिकाउंटिंग की मांग करने वाले हैं। कैंपेन मैनेजर ने कहा कि ट्रंप मिशिगन में मतगणना स्थगित करने के लिए अदालत से मांग कर चुके हैं। इसके अलावा कैंपेन मैनेजर ने यह भी कहा कि पेंसिल्वेनिया में वोट की गिनती को रोकने के लिए कोर्ट जाएंगे।

बाइडेन का ट्वीट- हर वोट की गिनती करो

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव का परिणाम अभी तक नहीं आ सका है। कई राज्यों में वोटों की गिनती अभी भी जारी है। बाइडेन ने लगातार बढ़त बना रखी है। इस बीच जो बाइडेन ने ट्वीट कर चुनाव में हर वोट की महत्ता भी जताई है। उन्होंने ट्वीट किया है, “हर वोट की गिनती करो”

ये भी पढ़ें… IPL 2020: आज से प्लेऑफ की जंग, देखिए मैच का पूरा शेड्यूल

कमला हैरिस ने की फंड रेजर अपील

कमला हैरिस ने अपने ट्वीट में लिखा, “कल रात, ट्रंप ने सभी वोटों को गिनने से रोकने के लिए अदालत में जाने की धमकी दी- लेकिन वापस लड़ने के लिए हमारा अभियान तैयार है। हमारा काम हफ्तों तक चल सकता है, और हमें आपकी मदद की जरूरत है। क्या आप आज बाइडेन फाइट फंड में 5 डॉलर दान कर सकते हैं?”

एरिजोना में जीते बाइडेन

डेमोक्रेट जो बाइडेन ने एरिजोना में हासिल की जीत। बाइडेन को एरिजोना में मिले 11 इलेक्टोरल वोट।

रात 11 बजे तक बाइडेन ने बना रखी थी बढ़त

न्यूज एजेंसी रॉयटर के अनुसार रात 11 बजे (भारतीय समयानुसार) तक जो बाइडेन ने 227 इलेक्टोरल वोट हासिल किए थे, जबकि डोनाल्ड ट्रंप को 213 वोट मिले थे। बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए एक उम्मीदवार के पक्ष में 270 इलेक्टोरल वोट होने चाहिए।

विसकोंसिन में फिर से वोटों की गिनती की मांग कर सकते हैं ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप विसकोंसिन राज्य में फिर से वोटों की गिनती की मांग कर सकते हैं। बता दें कि ट्रंप मतगणना में गड़बड़ी की आशंका पहले ही जता चुके हैं।

‘डोनाल्ड ट्रंप को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ेगा’

डेमोक्रेटिक पार्टी के राष्ट्रपति उम्मीदवार जो बाइडेन की टीम ने कहा कि अगर मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचता है तो डोनाल्ड ट्रंप को शर्मनाक हार का सामना करना पड़ेगा।

ये भी पढ़ें… अवैध शराब का हब कुशीनगर: अजय कुमार लल्लू का योगी सरकार पर बड़ा हमला

5 लाख वोट गायब

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने ट्वीट कहा कि पेंसिल्वेनिया में 5 लाख वोट ‘गायब’ हो गए हैं। वे (डेमोक्रेट्स) पेंसिल्वेनिया में 5 लाख वोटों की बढ़त बनाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, ट्रंप ने यहां पर फिर से मतगणना की मांग की है।

बिडेन ने हासिल की बढ़त

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, रात 11 बजे (भारतीय समयानुसार) तक जो बिडेन को 227 इलेक्टोरल वोट मिले थे, तो वहीं डोनाल्ड ट्रंप को 213 वोट मिले थे। राष्ट्रपति चुनाव जीतने के लिए एक उम्मीदवार को 270 इलेक्टोरल वोट चाहिए।

तस्वीर अब तक साफ नहीं, व्हाइट हाउस की रेस में कांटे की टक्कर

अमेरिका में राष्ट्रपति पद के चुनाव की तस्वीर अब तक साफ नहीं हुई है। अमेरिका के कई कड़े मुकाबले वाले राज्यों में पेच अभी भी फंसा हुआ है। वैसे तो राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और उन्हें चुनौती दे रहे डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडेन दोनों ने अपनी-अपनी जीत की भविष्यवाणी कर दी है, लेकिन नतीजों से पहले ट्रंप का गुस्सा भी सामने आ रहा है।

उन्होंने कहा है कि अमेरिकी लोगों से धोखे की कोशिश की जा रही है, जिसे वो सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे सकते हैं। उधर जो बाइडेन अपने समर्थकों से धैर्य बनाए रखने को कह रहे हैं।व्हाइट हाउस की रेस में कांटे की टक्कर चल रही है। मौजूदा स्थिति में जो बाइडेन को 238 और डोनाल्ड ट्रंप को 213 इलेक्ट्रोरल वोट मिले हैं।

ये भी पढ़ें… जेल माफिया का खौफ: बैठे-बैठे हो रही हत्याएं, पुलिस की हालत हुई खराब

ट्रंप को जीतनी होगी पेंसिल्वेनिया की जंग

डोनाल्ड ट्रंप को सत्ता पर फिर से काबिज होने के लिए पेंसिल्वेनिया की जंग जीतनी ही होगी। उन्होंने 2016 में ऐसा ही किया था। अगर वो वहां जीतते हैं, तो उन्हें 270 वोट हासिल करने के लिए तीन और राज्यों में जीत हासिल करनी होगी। यदि वो पेंसिल्वेनिया में नहीं जीतते हैं तो उन्हें  बाकी बचे पांच राज्यों में क्लीन स्वीप करना होगा।

स्विंग स्टेट्स में वोटों की गिनती जारी

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप और जो बाइडेन ने कई राज्यों में जीत हासिल कर ली है। स्विंग स्टेट्स में वोटों की गिनती जारी है। इनमें, एरिजोना, पेंसिल्वेनिया, मिशिगन, विस्कॉन्सिन और जॉर्जिया शामिल हैं।

ये भी पढ़ें… सीएम ने कांग्रेस पर साधा निशाना, पहले हर रोज एक नया घोटाला सामने आता था

भारतीय मूल के उम्मीदवार को मिली हार

भारतीय मूल के उम्मीदवार पूर्व राजनयिक श्रीनिवास राव प्रेस्टन कुलकर्णी को चुनाव में हार मिली है। वो टेक्सास के जिले से चुनाव मैदान में उतरे थे। श्रीनिवास जो डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार थे।

kamla hairish

तमिलनाडु में कमला हैरिस के लिए पूजा

तमिलनाडु के पिंगानडू में कमला हैरिस के जीत की दुआ मांगी गई। पिंगानडू के लोगों ने पूजा की और उनकी जीत के लिए प्रार्थना की। एक ग्रामीण ने कहा कि हमें गर्व है कि कमला हमारे गांव की हैं। उनके दादा गोपालन यहीं से थे। हालांकि, उनके घर का अब कोई भी सदस्य यहां नहीं रहता है। वे दशकों पहले यहां से चले गए थे।

ये भी पढ़ें… पाकिस्तानी लड़की होना अभिशाप: ऐसा क्यों कर रहा ये देश, वजह दिमाग हिला देगी

अमेरिकी मुस्लिम वोटरों ने दिया बाइडेन का साथ

अमेरिका में किए गए एक सर्वे के मुताबिक, करीब 69 फीसदी अमेरिकी मुस्लिम वोटरों ने चुनाव में डेमोक्रेट्स उम्मीदवार जो बाइडेन को वोट दिया है। जबकि करीब 17 फीसदी अमेरिकी-मुस्लिम वोटरों का वोट डोनाल्ड ट्रंप के लिए गया है। ये सर्वे The Council on American-Islamic Relations (CAIR) ने किया है।

अभी कई राज्यों में जारी है काउंटिंग

अमेरिकी चुनाव के ताजा अपडेट के मुताबिक, अभी पेंसलवेनिया, विसकॉनसिन, मिशिगन में वोटों की गिनती जारी है। इन राज्यों में अभी तक सिर्फ 40 फीसदी वोट ही गिने गए हैं। ऐसा ही जॉर्जिया, एरिजोना में हो रहा है, जहां कुछ वक्त के लिए वोटिंग रुकी थी जो अब फिर सुबह आठ बजे (अमेरिकी वक्त) शुरू होगी।

ये भी पढ़ें…फिर पूनम हुई सनसनी: अश्लील वीडियो पर मचा बवाल, जाना पड़ेगा अब जेल 

सुप्रीम कोर्ट जाने को तैयार बाइडेन की टीम, लड़ाई लंबी खिंच सकती है

डेमोक्रेट्स उम्मीदवार जो बाइडेन की लीगल टीम का कहना है कि अगर डोनाल्ड ट्रंप नतीजों को लेकर सुप्रीम कोर्ट में जाते हैं, तो उनकी टीम तैयार हैं। हम हर मोर्चे पर लड़ाई के लिए तैयार हैं। बता दें कि डोनाल्ड ट्रंप ने अपने बयान में कहा था कि कुछ जगहों पर गड़बड़ हो रही है ऐसे में वो सुप्रीम कोर्ट जाएंगे। अब ऐसे में कयास लगाए जाने लगे हैं कि अमेरिकी चुनाव के नतीजे इतने आसानी से नहीं आएंगे और लड़ाई लंबी खिंच सकती है।

फेसबुक-इंस्टाग्राम ने ब्लॉक किया ट्रंप का पोस्ट

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने वोटों की गिनती पर सवाल उठाए हैं। उन्होंने पहले इसके लिए ट्वीट किया और फिर इंस्टाग्राम और फेसबुक पर पोस्ट किया। पहले ट्विटर ने ट्रंप के ट्वीट को ब्लॉक कर दिया और अब फेसबुक-इंस्टाग्राम ने भी ऐसा ही किया है। फेसबुक ने कहा है कि अभी वोटों की गिनती जारी है, ऐसे में नतीजों को लेकर बयान देना गलत है।

जो बाइडेन को माइन में जीत मिली

डेमोक्रेट्स की ओर से उम्मीदवार जो बाइडेन को माइन में जीत मिली है। यहां कुल चार इलेक्टोरल वोट हैं जिनमें से तीन डेमोक्रेट्स के खाते में गए हैं। इस राज्य के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है जब इलेक्टोरल वोट दो पार्टियों में बंटे हों।

ये भी पढ़ें… अमेरिका राष्ट्रपति चुनाव: जोर दार चल रही चुनाव में टक्कर, ट्रम्प चल रहे आगे

कांटे की टक्कर

इलेक्टोरल वोट में रूझान बहुत तेजी से बदल रहा है। कभी ट्रंप आगे चल रहे हैं, तो कभी बाइडन। बाइडन ने 236 वोटों के साथ फिर से बढ़त बना ली है, तो वहीं, ट्रंप के पास अभी 213 वोट हैं। बहुमत के लिए 270 वोट चाहिए।

ट्रंप ने पलटी बाजी

ताजा रुझानों में ट्रंप ने इलेक्टोरल वोट में बाजी को पलट दिया है। अब वो कई राज्यों में आगे चल रहे हैं। नेवादा, ऐरिजोना, जॉर्जिया, नॉर्थ कैरिलोना में रिपब्लिकन पार्टी आगे निकल चुकी है।

ये भी पढ़ें…डरे सभी अमेरिकी: क्या है कू क्लाक्स क्लान, जीकसा ट्रंप कर सकते हैं इस्तेमाल

इन बड़े राज्यों ने बदला रिजल्ट

टेक्सास– 38 इलेक्टोरेल वोट, डोनाल्ड ट्रंप जीते
फ्लोरिडा– 29 इलेक्टोरेल वोट, डोनाल्ड ट्रंप जीते
मिशिगन– 16 इलेक्टोरेल वोट, डोनाल्ड ट्रंप आगे
ओहायो– 18 इलेक्टोरेल वोट डोनाल्ड ट्रंप जीते
पेंसलवेनिया–20 इलेक्टोरेल वोट हैं यहां ट्रंप आगे चल रहे हैं।

भारतीय मूल के प्रत्याशी ने हासिल की जीत

भारतीय मूल के कांग्रेसमैन राजा कृष्णमूर्ति ने अमेरिकी चुनाव में जीत हासिल की है। अमेरिकी हाउस ऑफ रिप्रेंजेटेटिव के लिए वो लगातार तीसरी बार चुने गए हैं।

इलेक्टोरेल वोट तय करेगा जीत

बता दें कि अमेरिका का राष्ट्रपति का चुनाव जीतने के लिए कुल 270 इलेक्टोरेल वोट की जरूरत होती है। कुल इलेक्टोरेल वोट की संख्या 538 है। इस बार अधिकतर वोट मेल-इन के जरिए डाले गए हैं, ऐसे में शुरुआती नतीजों और अंतिम नतीजों में भारी अंतर दिख सकता है।

ये भी पढ़ें…पंजाब में बिजली संकट: आंदोलन के कारण कोयले की कमी, छा सकता है अंधेरा

Donald Trump

इंडियाना में ट्रंप की जीत

इंडियाना में ट्रंप की जीत हुई है। यहां कुल 11 इलेक्टोरल वोट है। 2016 के चुनाव में भी ट्रंप ने इंडियाना में जीत हासिल की थी। इंडियाना में  ट्रंप को 59.39 फ़ीसदी वोट मिले हैं जबकि बिडेन को 38.4 फ़ीसदी वोट मिले हैं। न्यू हैंपशायर में ट्रंप को 45.1 फ़ीसदी वोट मिले जबकि बिडेन 53.3 फ़ीसदी वोट हासिल हुए हैं।

ट्रंप ने देशवासियों को कहा शुक्रिया

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्रंप बहुत रिलैक्स दिखाई दे रहे हैं और वे इस समय अपने परिवार के साथ व्हाइट हाउस में ही हैं। बिडेन मतगणना के समय डेलावेयर में हैं और उनके जल्द ही न्यूयॉर्क पहुंचने की संभावना जताई जा रही है। मतगणना शुरू होने के साथ ही ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा है कि देश में सबकुछ अच्छा दिखाई दे रहा है। उन्होंने देशवासियों को शुक्रिया भी कहा है।

ये भी पढ़ें…तेजस्वी व तेजप्रताप के खिलाफ चुनाव आयोग पहुंचा जदयू, लगाया ये बड़ा आरोप

केंटकी में भी ट्रंप की जीत

राष्ट्रपति ट्रंप ने केंटकी में भी जीत हासिल की है। ट्रंप केंटकी में आठ चुनावी वोट हासिल करने में कामयाब रहे हैं। केंटकी को कंजरवेटिव्स का मजबूत गढ़ माना जाता रहा है। इसके साथ ही ट्रंप ने वेस्ट वर्जीनिया में भी जीत हासिल की है। ट्रंप वेस्ट वर्जीनिया में 5 इलेक्टोरल वोट हासिल करने में कामयाब रहे हैं। दूसरी ओर ट्रंप के प्रतिद्वंद्वी बिडेन सबसे उदार राज्यों में एक माने जाने वाले वरमोंट में विजय हासिल की है।

हिंसा की आशंका से कड़ी सुरक्षा

इस बीच अमेरिका में हिंसा की आशंका से यूएस नेशनल गार्ड को अलर्ट मोड पर रहने को कहा गया है। व्हाइट हाउस के पास सुरक्षा की कड़ी व्यवस्था की गई है। इसके आसपास ड्राइव पर रोक लगा दी गई है। हिंसा की किसी भी आशंका से निपटने के लिए व्हाइट हाउस के करीब नेशनल गार्ड्स की तैनाती की जा चुकी है। इसके साथ ही साइबर डिफेंस एजेंसी को भी मानिटरिंग करने को कहा गया है।

Joe Biden

ये भी पढ़ें…अब युवाओं को भड़काने में जुटीं महबूबा, 370 की बहाली के लिए दिया ये बयान

कोरोना महामारी बनी सबसे बड़ा मुद्दा

इस बार के राष्ट्रपति चुनाव में वैसे तो तमाम मुद्दों पर चर्चा हुई मगर कोरोना महामारी सबसे बड़ा मुद्दा बन गई क्योंकि अमेरिका कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित देश है। बिडेन ने अमेरिका में कोरोना संक्रमण के लिए ट्रंप की लापरवाही को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान आरोप लगाया कि ट्रंप की नीतियों के कारण ही अमेरिका में यह महामारी इतना व्यापक रूप से फैल गई।

चीन पर सख्ती का मुद्दा भी अहम

इसके साथ ही चीन पर सख्ती का मुद्दा भी इस बार के राष्ट्रपति चुनाव में प्रमुखता से छाया रहा है। ट्रंप और बिडेन दोनों ने ही चीन के साथ सख्त रवैया अपनाने के संकेत दिए हैं। ट्रंप अपने चुनाव प्रचार के दौरान पूरी दुनिया में कोरोना फैलाने के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराते रहे हैं।

इसके साथ ही नस्लीय भेदभाव का मुद्दा भी राष्ट्रपति चुनाव में प्रमुखता से उठा है। पुलिस के हाथों अश्वेत जॉर्ज फ्लायड की मौत के बाद पूरे देश में अश्वेत आंदोलन की आग धधक उठी थी। इसके बाद से लगातार यह मुद्दा अमेरिका में गरमाया हुआ है। इसके साथ ही जलवायु परिवर्तन और एच वन बी वीजा का मुद्दा भी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान काफी गरम रहा है।

ये भी पढ़ें…CM योगी बोले- दीवाली की खरीदारी में रहे सर्तक, ग्राहक-दुकानदार जरूर पहनें मास्क

ट्रंप को और बेहतर प्रदर्शन की उम्मीद

अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने इस बार के चुनाव में पिछले बार से ज्यादा बेहतर प्रदर्शन करने की उम्मीद जताई है। उन्होंने दावा किया है कि वे 2016 से भी ज्यादा ताकतवर बनकर उभरेंगे।

उनका कहना है कि उनकी चुनावी रैलियों में पिछली बार से भी ज्यादा भीड़ उमड़ी है जिससे पता चलता है कि उन्हें मतदाताओं का काफी अच्छा समर्थन हासिल हुआ है। उन्होंने सियासी नजरिए से काफी महत्वपूर्ण माने जाने वाले फ्लोरिडा में भी काफी अच्छा प्रदर्शन करने की उम्मीद जताई है।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App