फीफा वर्ल्ड कप: इन चार दिग्गजों में आज दो अपना बिस्तर बांध जाएंगे घर

नई दिल्ली: नॉकआउट राउंड के लिए आज अर्जेंटीनी और फ्रांस तो वहीं पुर्तगाल और उरुग्वे के बीच मैच होना है। ऐसे में फैंस दुआ कर रहे हैं कि लियोनेल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो क्वॉर्टर फाइनल तक पहुंच जाएं। दरअसल, आज इनमें से किसी दो टीमों के हारते ही लियोनेल मेसी, एंटोइन ग्रीजमैन, लुईस सुआरेज और क्रिस्टियानो रोनाल्डो में से आज दो का बिस्तर बंध जाएगा।

फ्रांस बनाम अर्जेटीना

फीफा वर्ल्ड कप के 21वें सीजन में प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबलें में आज दो बार की विजेता अर्जेटीना का सामना फ्रांस से होगा। असल विश्व कप की शुरुआत सही मायने में अंतिम-16 दौरे से शुरू होगी जहां हर टीम को हर दौर में अपने विश्व कप जीतने के सपने को पूरा करने का एक मौका मिलेगा। अगर हार मिली तो सपना टूटेगा और अगर जीत मिली तो ट्रॉफी की तरफ एक कदम बढ़ेगा।

यह भी पढ़ें: चैम्पियंस ट्रॉफी : ‘ करो या मरो ‘ फाइनल की उम्मीदों के साथ आज नीदरलैंड्स से भिड़ेगा भारत

फीफा वर्ल्ड कप की शुरूआत से पहले अजेर्टीना और फ्रांस दोनों को खिताब का दावेदार माना जा रहा था। अब जबकि यह दोनों टीमें नॉकआउट में भिड़ रहीं हैं तो एक बात तय है कि एक टीम इस रेस से बाहर हो जाएगी।

अजेर्टीना ने हालांकि उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं किया है। ग्रुप दौर में उसके प्रदर्शन ने कई लोगों को मायूसी दी, लेकिन टीम ने जरूरत के समय अपने आप को संभाला और अगले दौर में जगह बनाई।

फ्रांस के खिलाफ उसे अपने प्रदर्शन में सुधार करना होगा। वह जिस तरह का खेल खेलती आई है अगर वही खेलती रही तो फ्रांस के लिए क्वार्टर फाइनल का रास्ता खुला होगा। अजेर्टीना की टीम की परेशानी यह है कि वह अपने कप्तान लियोनेल मेसी पर टिकी है। वह जब भी फंसती है उम्मीद करती है के मेसी अपना करिश्मा दिखाएं।

पुर्तगाल बनाम उरुग्वे

पुर्तगाल और उरुग्वे जानती हैं कि अब सिर्फ जीत ही उन्हें वर्ल्ड कप की रेस में बनाए रख सकती है। वर्ल्ड कप में पहली बार है, जब ये दोनों टीमें आमने-सामने हो रही हैं। वैसे कुल तीन बार ये दोनों एक-दूसरे के खिलाफ खेल चुके हैं। दोनों टीमें एक-दूसरे की क्षमता को जानती हैं, इसलिए बेहद अहम मैच में विपक्षी टीम को हल्के में लेने की गलती नहीं करेंगी।

यह भी पढ़ें: डबलिन टी-20 : भारत ने किया आयरलैंड का सूपड़ा साफ, सीरीज पर 2-0 से कब्जा

पुर्तगाल के पास अभी तक वर्ल्ड कप की ट्रॉफी नहीं आई है। इस समय उसकी टीम में विश्व फुटबॉल के महान खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो हैं और उन्हीं के दम पर पुर्तगाल वर्ल्ड कप जीतने का सपना देख रही है लेकिन सिर्फ रोनाल्डो पर निर्भर रहना उसे भारी पड़ सकता है।

टीम ने हालांकि मैच दर मैच अपने खेल में सुधार किया है और बाकी खिलाड़ियों ने भी टीम में अपना योगदान दिया है। गोल हालांकि रोनाल्डो ने ही ज्यादा किए हैं। उन्होंने अभी तक चार गोल किए हैं, जबकि पूरी टीम ने ग्रुप दौर में पांच गोल दागे हैं।

पुर्तगाल की आक्रमण पंक्ति मजबूत हुई है और यही उरुग्वे के लिए खतरा बन सकती है। वहीं अगर उरुग्वे की बात की जाए तो टीम का दोरामदार हमेशा की तरह लुइस सुआरेज और एडिन कवानी पर होगा। इन दोनों के अलावा टीम की ताकत उसका डिफेंस रहा है।

उरुग्वे ने ग्रुप दौर के तीन मैचों में एक भी गोल नहीं खाया। यह बताता है कि उसकी रक्षापंक्ति कितनी सफल रही है। हालांकि ग्रुप दौर में मिस्र को छोड़कर कोई भी ऐसी टीम नहीं थी, जिसका अटैक बेहद मजबूत हो या उसके पास विश्व का दिग्गज खिलाड़ी है। मिस्र में हालांकि मोहम्मद सलाह थे जिनको उरुग्व ने रोके रखा था। अब उसके डिफेंस के सामने रोनाल्डो की बेहद मजबूत चुनौती है जो कहीं से भी किसी भी वक्त गोल करने का माद्दा रखते हैं।