16 साल की इस लड़की के खिलाफ 46 मौलवियों ने जारी किए फतवे, ISIS के खिलाफ गाया था गाना

नाहिद साल 2015 में म्यूजिकल रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल जूनियर की फर्स्ट रनर अप रह चुकी है। बता दें कि नाहिद के खि‍लाफ 46 मौलवियों ने फतवे जारी किए गए हैं।

Published by Published: March 15, 2017 | 12:27 pm
Modified: March 15, 2017 | 1:17 pm
naahid-farheen

naahid-farheen

दिसपुर: वह अभी 16 साल की लड़की है गाना उसकी पूजा है और सिंगिंग के लिए उसका जूनून काबिले-तारीफ़ है। इसी वजह से उसने इंडियन आइडल जूनियर में फर्स्ट रनरअप का खिताब अपने नाम किया था। जी हां, इंडियन आइडल फेम नाहिद आफरीन के खिलाफ फतवे जारी किए गए हैं। यह फतवे इसलिए जारी किए गए हैं ताकि उसे लोगों के सामने गाना गाने से रोका जा सके।

इस वजह से रोका जा रहा है नाहिद को
असम से ताल्लुक रखने वाली नाहिद साल 2015 में म्यूजिकल रियलिटी टीवी शो इंडियन आइडल जूनियर की फर्स्ट रनर अप रह चुकी है। बता दें कि नाहिद के खि‍लाफ 46 मौलवियों ने फतवे  जारी किए गए हैं। बताया जा रहा है कि मध्य असम के होजई और नागांव जिलों में ऐसे कई पर्चे बांटे गए, जिसमें असमिया भाषा में फतवा और फतवा जारी करने वाले लोगों का नाम लिखा था। इन पर्चों में लिखा था कि 25 मार्च को असम के लंका इलाके के उदाली सोनई बीबी कॉलेज में 16 साल की नाहिद परफॉर्म करने वाली हैं, जो कि शरिया के खिलाफ है।

यह कहना है नाहिद का
जारी किए गए फतवों की मानें तो म्यूजिकल नाइट शरिया के खिलाफ है। 10वीं कक्षा की स्टूडेंट नाहिद का इन फतवों के बारे में कहना है कि इस पर मैं क्या कहूं? मुझे लगता है कि संगीत अल्लाह का तोहफा है मैं इन धमकियों से नहीं डरने वाली मैं इनके सामने नहीं झुकूंगी और अपनी सिंगिंग जारी रखूंगी।

बता दें कि नाहिद ने कुछ टाइम पहले दुनिया के सबसे बड़े आतंकवादी ग्रुप आईएसआईएस के खिलाफ कुछ गाने परफॉर्म किए थे। पुलिस की मानें तो शायद यही वजह है कि उसके खिलाफ फतवा जारी किया गया है।