छात्रों भरी स्कूल बस गड्ढे में पलटी, आधा दर्जन से अधिक बच्चे घायल

छात्रों भरी स्कूल बस गड्ढे में पलटी, आधा दर्जन से अधिक बच्चे घायल

कानपुर: नशेबाज चालक ने लापरवाही की वजह से दर्जनों बच्चों की जान खतरे में डाल दी। बस अनियंत्रित होकर खंदक में जा गिरी बस में सवार बच्चो कीं चीखपुकार सुन कर पहुंचे ग्रामीणों ने बस में फसे बच्चों को बाहर निकाला।हादसे की सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायल बच्चों को प्राइवेट हॉस्पिटल में भर्ती कराया। इस हादसे की सूचना स्कूल प्रबंधक को दी।

घाटमपुर थाना क्षेत्र स्थित सीपीसी के इंटर कालेज की बस आप पास के गाँवों से बच्चों को लेकर स्कूल जा रही थी,तभी अमौर के गांव के पास बस अनियंत्रित हो गयी। सड़क के किनारे बने खंदक में पलट गयी,खंदक में पानी भरा हुआ था।बस पलटने ही अफरा तफरी मच गयी।

यह भी पढ़ें …..एटाः स्कूल बस हादसे में RTO जेपी गुप्ता को सस्पेंड किया गया

बस पलटने से घायल बच्चों में सभी बच्चे साढ गांव निवासी उत्कर्श मिश्रा (05),अविरल मिश्रा (05),आर्यन मिश्रा (13) ,अदिति मिश्रा (17) आर्यन यादव (09) ,कीर्ती कुशवाहा (13) ,सुजल पाल (12), अक्षय यादव (07) ।वहीं मामूली रूप से घायल बच्चों का प्राथमिक उपचार करके घर को भेज दिया गया है।

बच्चों का कहना है कि बस का ड्राइवर जब सुबह आता है तो वो नशे में रहता है।उसके मुंह से शराब की बदबू आती है ,आज भी ड्राइवर नशे में था और बहुत ही गन्दी तरह से बस ड्राइव कर रहा था।बस कई बार पहले भी पलटने से बची थी । लेकिन आगे जाकर उसने बस पलटा दी जब हम लोग धीमी गति में बस चलाने के लिए कहते थे तो हम लोगों से बदसलूकी करता था और कहता आज बहुत देर से आया हूँ इस लिए तेज बस चला रहा हूँ।

यह भी पढ़ें …..अंबाला: NCC स्कूल बस हादसे में 1 दर्जन से ज्यादा बच्चे घायल

स्कूल प्रबंधक सुधीर सिंह के मुताबिक सभी बच्चे अब ठीक है।इस हादसे की वजह से बच्चे डरे सहमे थे ,किसी बच्चे के ज्यादा चोट नहीं आई है। जो घायल है उनका उपचार कराया है। बस चालक और परिचालक को तत्काल नौकरी से हटाया जाता है और उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।बच्चों की सुरक्षा से बढ़ कर कुछ नहीं है सभी बच्चों का ध्यान दिया जा रहा है।

छात्रों भरी स्कूल बस गड्ढे में पलटी, आधा दर्जन से अधिक बच्चे घायल

चौकी इचार्ज साढ राजकुमार सिंह ने बताया कि साढ सरसौल मुख्य मार्ग मे चालक की लापरवाही के कारण स्कली बस अनियंत्रित होकर पलट गई है जिसमे सवार 11 बच्चों को उनके परिजनों को बुलाकर इलाज के लिए निजी हास्पिटल मे भेज दिया गया है चालक के खिलाफ कार्यवाही की जायेगी ।