BJP MP कौशल किशोर ने भी की BBAU के कुलपति के खिलाफ CBI जांच की मांग

बाबा साहब भीमराव अंबेडकर सेंट्रल यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) के आठ दलित स्टूडेंट्स का निष्कासन रद्द नहीं किए जाने के विरोध में आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने रविवार को बीजेपी एमपी कौशल किशोर से बीजेपी के प्रदेश कार्यालय में मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। कौशल किशोर ने निष्कासित सभी आठ दलित स्टूडेंट्स को न्याय दिलाने तक संघर्ष जारी रखने की बात कही। उन्होंने कहा कि बीबीएयू के कुलपति प्रो. आरसी सोबती के खिलाफ सीबीआई की जांच होनी आवश्यक है। कुलपति स्टूडेंट्स में जातीय विद्धेष फैलाकर जातीय संघर्ष करा रहे हैं। बता दें, कि बीजेपी एमपी कौशल किशोर यूपी बीजेपी अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष भी हैं।

लखनऊ: बाबा साहब भीमराव अंबेडकर सेंट्रल यूनिवर्सिटी (बीबीएयू) के आठ दलित स्टूडेंट्स का निष्कासन रद्द नहीं किए जाने के विरोध में आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने रविवार को बीजेपी एमपी कौशल किशोर से बीजेपी के प्रदेश कार्यालय में मुलाकात कर ज्ञापन सौंपा। कौशल किशोर ने निष्कासित सभी आठ दलित स्टूडेंट्स को न्याय दिलाने तक संघर्ष जारी रखने की बात कही। उन्होंने बीबीएयू के कुलपति प्रो. आरसी सोबती के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि यह स्टूडेंट्स के हित के लिए जरूरी है। उन्होंने कहा कि कुलपति स्टूडेंट्स में जातीय विद्धेष फैलाकर जातीय संघर्ष करा रहे हैं। बता दें, कि बीजेपी एमपी  कौशल किशोर यूपी बीजेपी अनुसूचित जाति मोर्चा के अध्यक्ष भी हैं।

बर्खास्तगी की मांग
आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति ने बीजेपी एमपी कौशल किशोर से मुलाकात कर उन्हें बताया कि जब से बीबीएयू में कुलपति प्रो. आरसी सोबती आए हैं, तब से वह प्रो. कमल जायसवाल के साथ मिलकर दलित स्टूडेंट्स का उत्पीड़न करा रहे हैं। उसी का नतीजा है कि बीबीएयू में 8 दलित स्टूडेंट्स को गलत तरीके से निष्कासित किया गया। समिति ने कौशल किशोर से कहा कि बीबीएयू के कुलपति के पूरे कार्यकाल की सीबीआई जांच कराई जाए और उन्हें बर्खास्त किया जाए।

यह भी पढ़ें … BBAU में मौजूदा आरक्षण व्यवस्था रहेगी, HC में चुनौती देने वाली याचिका खारिज

कुलपति के खिलाफ हो सीबीआई जांच 
-बीजेपी एमपी कौशल किशोर ने कहा कि बीबीएयू में कुलपति के कार्यकाल की सीबीआई जांच होनी आवश्यक है।
-उन्होंने कहा कि जब से कुलपति सोबती ने कार्यभार संभाला है तभी से वह स्टूडेंट्स में जातीय विद्धेष फैलाकर जातीय संघर्ष करा रहे हैं।
-उन्होंने कहा कि मुझे पूरी तरह से पता चल गया है कि 8 दलित स्टूडेंट्स को गलत तरीके से निष्कासित किया गया है।
-वह इस पूरे मामले को लेकर जल्द ही एचआरडी मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से मुलाकात कर कुलपति के खिलाफ बर्खास्तगी की मांग उठाएंगे।

यह भी पढ़ें … BBAU के प्रोफेसर पर SC/ST एक्ट में FIR, पहले भी आपराधिक मामले में रहे बर्खास्त

संसद में उठाएंगे मुद्दा 
-कौशल किशोर ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो वह सड़क पर भी उतरेंगे और न्याय दिलाने तक संघर्ष जारी रखेंगे।
-एमपी कौशल किशोर ने कहा कि बीबीएयू में स्टूडेंट्स के संवैधानिक धरना प्रदर्शन पर रोक असंवैधानिक है।
-उन्होंने इसे संसद में उठाने को भी कहा है।

जब तक नहीं मिलता न्याय, तब तक जारी रहेगा संघर्ष 
बीजेपी एमपी कौशल किशोर से मिलने आए आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति, यूपी के संयोजकों ने कहा कि जब तक बीबीएयू में 8 दलित स्टूडेंट्स का निष्कासन रद्द नहीं हो जाता तब तक वह चुप बैठने वाले नहीं हैं।