MI vs CSK: थोड़ी देर बाद होगा महामुकाबला, मुंबई की कमजोरी भारी पड़ेगा चेन्नई

IPL के 13वें सीजन की धमाकेदार शुरुआत आज मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होगी। कोरोना के चलते सारे नियम अपनाते हुए संयुक्त अरब अमीरात में आईपीएल क्रिकेट के उत्सव की शुरुआत हो जाएगी।

MI vs CSK

MI vs CSK: थोड़ी देर बाद होगा महामुकाबला, मुंबई की कमजोरी भारी पड़ेगा चेन्नई

नई दिल्ली: IPL के 13वें सीजन की धमाकेदार शुरुआत आज मुंबई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच होगी। कोरोना के चलते सारे नियम अपनाते हुए संयुक्त अरब अमीरात में आईपीएल क्रिकेट के उत्सव की शुरुआत हो जाएगी। IPL-13 का पहला मुकाबला गत विजेता मुंबई इंडियंस और उपविजेता चेन्नई सुपरकिंग्स के बीच में होगा। पिछले साल फाइनल में एक दूसरे के खिलाफ टकराने वाले धोनी और रोहित शर्मा फिर से एक-दूसरे के आमने सामने होंगे।

ये भी पढ़ें: मचा हाहाकार: साढ़े 3 घंटों में जहर खुरानी के शिकार तीन युवक, चल रहा इलाज

अच्छे स्पिनरों की कमी

आज के मुकाबले के लिए दोनों टीमों ने अपने-अपने स्तर से तैयारियां मजबूत कर ली हैं। मुंबई इंडियंस की बात करें तो, टीम को बड़े शॉट लगाने वाले बल्लेबाजों की मौजूदगी और दमदार बनाती है, लेकिन अनुभवी तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा और अच्छे स्पिनरों की कमी इस टीम के लिए इंडियन प्रीमियर लीग खिताब बचाने की संभावनाओं को कमजोर कर सकती है।

परिस्थितियों से सामंजस्य बैठाना जरूरी

बता दें मुंबई इंडियंस अबु धाबी की धीमी पिचों पर अपने ज्यादातर मैच खेलेगी और इन परिस्थितियों से सामंजस्य बैठाना टीम की सफलता के लिए जरूरी होगा। कप्तान रोहित शर्मा और दक्षिण अफ्रीका के क्विंटन डि कॉक की ठोस सलामी जोड़ी के लिए बल्लेबाजी में मुंबई इंडियंस की ताकत होगी, इसके अलावा ऑस्ट्रेलियाई क्रिस लिन भी जरूरत पड़ने पर बेहतर विकल्प हो सकते हैं।

सूर्यकुमार यादव, कीरोन पोलार्ड, हार्दिक पंड्या और क्रुणाल पंड्या जैसे बल्लेबाज टीम को मजबूती प्रदान करेंगे। बात दें दूसरे टीमों की तुलना में यहां मुंबई का पलड़ा थोड़ा भरी पद सकता है, क्योंकि ये सभी खिलाड़ी बड़े शॉट खेलने में माहिर है।

टीम को मेन समस्या गेंदबाजी को लेकर होगी, खासकर स्पिन विभाग में। क्योंकि तेज गेंदबाज में से मलिंगा व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए टूर्नामेंट से हट गए है। उनकी गैरमौजूदगी में जसप्रीत बुमराह पर दबाव अधिक होगा।

गेंदबाजी के मामले में कमजोर पद सकती है टीम

पिछले सीजन में अपनी टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले बुमराह चोट के कारण लंबे समय तक क्रिकेट से दूर रहे हैं। वहीं विदेशी तेज गेंदबाजों की बात करें तो मिशेल मैक्लेंघन और ट्रेंट बोल्ट बाएं हाथ से गेंदबाजी का विकल्प देते हैं जबकि नाथन कुल्टर नाइल गेंदबाजी ऑलराउंडर होंगे। हालांकि ऑस्ट्रेलिया के जेम्स पैटिंसन के टीम में आने से विकल्प बढ़ा

इनसे जुडी उम्मीदें

इसके अलावा टीम को पिछले सीजन में बेहतर प्रदर्शन देने वाले राहुल चाहर से भी उम्मीदें होंगी। ऑफ स्पिनर जयंत यादव के लिए पिछला घरेलू सत्र अच्छा नहीं रहा, ऐसे में यह देखना होगा कि उन्हें इस सत्र में कितने मैचों में मौका मिलता है। कैरेबियाई प्रीमियर लीग के फाइनल में चार विकेट लेकर ट्रिनबागो नाइट राइडर्स को चैम्पियन बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले कीरोन पोलार्ड अपने कोटा का चार ओवर डाल सकते हैं।

हालांकि वे पिछले कुछ सत्र से नियमित तौर पर गेंदबाजी नहीं कर रहे हैं। मुंबई इंडियंस के साथ पिछले 10 साल से जुड़े 33 वर्षीय 146.77 के स्ट्राइक रेट से 2755 रन बनाए हैं। पोलार्ड ने IPL में 176 छक्के भी मारे हैं जो इस टीम के किसी भी खिलाड़ी द्वारा सबसे अधिक है। वहीं कोच महेला जयवर्धने ने पिछले दिनों रोहित के नेतृत्व में अपना विश्वास जताया।

ये भी पढ़ें: मेहनत ही गरीब का हथियार: मैथमेटिक्स गुरु आरके श्रीवास्तव हैं उदहारण, सुने इनका संदेश

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App