चुनाव के मद्देनजर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों के मुख्य सचिव, DGP को किया अलर्ट

कुशवाहा ने कहा था, ‘कर्पूरी ठाकुर के समय बूथ लूट की घटना होती थी। वो कहते थे जिस तरह से हमारे लिए रोटी है, इज्जत है उसी तरह से वोट है। इस वोट को कोई लूटना चाहे तो हाथ में अस्त्र-शस्त्र उसे रोकने के लिए उठाना चाहिए।

नई दिल्ली: चुनाव नतीजों के दिन हिंसा की संभावनाओं को लेकर गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों को अलर्ट किया है। सभी राज्यों को कानून-व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।

गृह मंत्रालय ने राज्य के मुख्य सचिवों और डीजीपी को इस संबंध में सचेत किया है। राज्यों को कहा गया कि वे मतगणना के स्ट्रॉग रूम और स्थानों की सुरक्षा के लिए पर्याप्त उपाय करें। लोकसभा चुनाव के मतों की गणना कल यानी 23 मई को सुबह 8 बजे से होगी।

ये भी पढ़ें— UP: अबकी बार 60 सीट पार के लिए SP-BSP-RLD गठबंधन ने किया हवन

गृह मंत्रालय का अलर्ट ऐसे समय में आया है जब एक दिन पहले पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा है वोट की रक्षा के लिए जरूरत पड़े तो हथियार भी उठाना चाहिए। केंद्रीय मंत्री और बिहार में बीजेपी के सहयोगी राम विलास पासवान ने कुशवाहा की चेतावनी पर जवाब दिया कि ऐसा होने पर जैसे को तैसा होगा।

कुशवाहा ने कहा था, ‘कर्पूरी ठाकुर के समय बूथ लूट की घटना होती थी। वो कहते थे जिस तरह से हमारे लिए रोटी है, इज्जत है उसी तरह से वोट है। इस वोट को कोई लूटना चाहे तो हाथ में अस्त्र-शस्त्र उसे रोकने के लिए उठाना चाहिए।

ये भी पढ़ें— #ElectionResult2019: यूपी की 80 सीटों पर मतगणना के विशेष इंतजाम