अस्थमा ही नहीं और कई बीमारियों से निजात दिलाता है गुड़, आज से शुरू करें सेवन

Published by November 8, 2016 | 2:41 pm
गुड़

गुड़

लखनऊ: धीरे-धीरे मौसम ने अंगड़ाई लेनी शुरू कर दी है। ठंड ने दस्तक दे दी है। हवाओं ने रुख बदलते ही लोगों ने अपने खान-पान में बदलाव करने शुरू कर दिए हैं। लोग ऐसे मौसम में वही खाना पसंद करते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद होती हैं। ठंड में गुड़ की वैल्यू बढ़ जाती है। इससे बनी चीजें खाने से तमाम तरह की बीमारियों से बचाव होता है।

गुड़ कई तरह की बीमारियों का अचूक इलाज है। आयुर्वेद की मानें तो गुड़ शीघ्र पचने वाला, खून बढ़ाने वाला व भूख बढ़ाने वाला होता है। बता दें कि गुड़ में सुक्रोज, ग्लूकोज, खनिज तरल और जल अंश मौजूद होते हैं। इसके अलावा गुड़ में कैल्शियम, फॉस्फोरस, आयरन और ताम्र तत्व भी अच्छी मात्रा में मिलते हैं। जो कि हेल्थ के लिए काफी फायदेमंद होते हैं।

तो ठंड में गुड़ के क्या फायदे हैं और इसे खाने से किन-किन बीमारियों से आराम मिलता है, इसके बारे में हम आपको बताते हैं।

आगे की स्लाइड में जानिए  ठंड में गुड़ खाने के क्या हैं फायदे

gud1

-गुड़ बॉडी के जहरीले पदार्थों से छुटकारा पाने में हेल्प करता है ठंड में यह बॉडी के तापमान को बैलेंस करने में खास हेल्प करता है।

-एसिडिटी से राहत दिलाने में गुड बहुत हेल्पफुल है। अगर आप जरा सी भी गैस या एसिडिटी की दिक्कत होती है, तो खाने के बाद थोड़ा गुड़ जरूर खाएं। ऐसा करने से ये दोनों ही प्रॉब्लम्स नहीं होती हैं। खट्टी डकारें आने पर गुड़, सेंधा नमक, काला नमक मिलाकर चाटने से यह आना बंद हो जाती हैं।

– जिन लोगों को अस्थमा की दिक्कत होती है, उन्हें गुड़ और काले तिल से बने लड्डू खाना चाहिए ऐसे लड्डू खाना फायदेमंद होता है।

– आपको यह जानकर हैरानी होगी कि गुड़ कान दर्द की प्रॉब्लम को भी दूर करता है। अक्सर ठंड में कई लोगों को कान के दर्द की समस्या होने लगती है। ऐसे में कान में सरसों का तेल डालने से व गुड़ और घी मिलाकर खाने से कान का दर्द ठीक हो जाता है।

– अक्सर लोगों को भूल जाने की आदत होती है लेकिन क्या आप जानते हैं कि गुड़ का हलवा खाने से मेमोरी बढ़ती है। गुड़ बॉडी से जहरीले पदार्थों को बाहर निकालता है व सर्दियों में यह बॉडी के तापमान को बैलेंस करने में हेल्प करता है। लड़कियों के लिए गुड़ तो और भी फायदेमंद होता है क्योंकि यह लड़कियों में होने पीरियड को बैलेंस करने में हेल्पफुल होता है।

आगे की स्लाइड में जानिए एनीमिया के मरीजों के लिए कैसे फायदेमंद है गुड़

gud2

– गुड़ और काले तिल के लड्डू खाने से इस्तेमाल करने वाले लोगों को सर्दी में अस्थमा परेशान नहीं करता है। हर रोज खाने में गुड़ का सेवन हाई ब्लडप्रेशर को कंट्रोल करता है। जिन लोगों को खून की कमी हो, उन्हें रोज थोड़ी मात्रा में गुड़ जरूर खाना चाहिए वहीं इससे शरीर में हीमॉग्लोबिन का स्तर बढ़ता है।

– अक्सर जुकाम की शिकायत रहने वालों को गुड़ से बनी चाय पीनी चाहिए क्योंकि यह सेहत के लिए अच्छी मानी जाती है, इसलिए चाय में चीनी की जगह गुड़ का यूज करना चाहिए।

– कई बार दिन में काम करने के बाद शाम को बॉडी दर्द से टूटने लगती है। लेकिन इसमें भी गुड़ फायदेमंद होता है। गुड़ थकान दूर करता है। यह सेलेनियम के साथ एक ऐंटिऑक्सिडेंट के रूप में काम करता है। गुड़ में मीडियम मात्रा में कैल्शियम, फॉस्फोरस व जस्ता पाया जाता है। इसी वजह से इसका रोजाना सेवन करने वालों की इम्युनिटी पावर बढ़ती है। साथ ही गुड़ में मैग्नीशियम अधिक मात्रा में पाया जाता है इसलिए ये बॉडी को रिचार्ज करता है।

– बता दें कि गुड़ आयरन का मुख्य स्रोत है। इसलिए यह एनीमिया के मरीज़ों के लिए बहुत फायदेमंद है। महिलाओं को खासकर गुड़ जरूर खाना चाहिए।

-जिन लोगों को कम भूख मिलती है, अगर आपको कम भूख लगती है, तो इसका सेवन करें इसे खाने से भूख बढ़ती है।