कौन हैं विजय सिन्हा: बिहार विधानसभा के बने अध्यक्ष, जानें इनके बारे में

बिहार विधानसभा अध्यक्ष के रूप में बीजेपी विधायक विजय कुमार सिन्हा को विजय मिली है। वहीं दूसरी तरफ स्पीकर के लिए चुनाव में महागठबंधन की ओर से उतरे आरजेडी विधायक अवध बिहारी चौधरी भले ही मात गए है।

vijay sinha

कौन हैं विजय सिन्हा: बिहार विधानसभा के बने अध्यक्ष, जानें इनके बारे में-(courtesy-social media)

बिहार: बिहार विधानसभा चुनाव के नतीजे आ चुके हैं एनडीए ने बिहार में अपनी जीत का परचम एक बार फिर लहरा दिया है। नीतीश कुमार, एक बार फिर बिहार के सातवें मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ग्रहण कर चुके हैं। बिहार में 17वीं विधानसभा का पहला सत्र सोमवार से ही शुरू हो गया है जोकि 27 नवंबर तक चलेगा। बिहार विधानसभा अध्यक्ष पद के चुनाव में एनडीए की ओर से बीजेपी विधायक विजय कुमार सिन्हा को चुन लिया गया है।

विजय कुमार सिन्हा को मिली विजय

बिहार विधानसभा अध्यक्ष के रूप में बीजेपी विधायक विजय कुमार सिन्हा को विजय मिली है। वहीं दूसरी तरफ स्पीकर के लिए चुनाव में महागठबंधन की ओर से उतरे आरजेडी विधायक अवध बिहारी चौधरी भले ही मात गए है, लेकिन तेजस्वी यादव विपक्ष को एकजुट करने में सफल रहे हैं। असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी विधायकों से लेकर बसपा के एकलौते विधायक तक ने महागठबंधन के प्रत्याशी के पक्ष में वोट किया है।

vijay sinha-2

लालू यादव के फ़ोन से सियासी हलचल तेज

बता दें कि सुशील मोदी ने दावा किया है कि लालू यादव ने जेल से ही भारतीय जनता पार्टी के एक विधायक ललन पासवान को फोन कर उनके साथ आने का लालच दिया। बिहार विधानसभा में स्पीकर पद के लिए चुनाव होना है, उससे पहले ये सियासी हलचल तेज हो गई है।

ये भी देखें: लालू यादव के एक काॅल से बिहार में मचा सियासी बवाल, सुशील मोदी का बड़ा आरोप

कौन हैं विजय सिन्हा

आईये यहां जानते हैं बिहार में 17वीं विधानसभा अध्यक्ष के रूप में चुने गए विजय सिन्हा कौन हैं? विजय सिन्हा का जन्म पांच जून, 1967 को हुआ था। उन्होंने बेगुसराय के सरकारी पॉलीटेक्निक कॉलेज से सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में विजय सिन्हा बिहार की लखीसराय विधानसभा सीट से विधायक हैं। उन्हें इस चुनाव में लगातार तीसरी बार जीत मिली है।

बता दें कि 2015 के विधानसभा चुनाव में जब राजद और जदयू ने मिलकर चुनाव लड़ा था। उस दौरान भी विजय सिन्हा का इस सीट पर दबादबा कायम था। उन्होंने भाजपा के टिकट पर यहां से जीत हासिल की। उन्होंने जदयू प्रत्याशी रामानंद मंडल को शिकस्त दी थी।

विजय सिन्हा ने कांग्रेस के प्रत्याशी अमरेश कुमार को हराया

वहीं, मौजूदा चुनाव में उन्होंने महागठबंधन उम्मीदवार के रूप में कांग्रेस के प्रत्याशी अमरेश कुमार को 10 हजार से अधिक मतों के अंतर के साथ हराया। विधायक रहने के साथ-साथ उन्हें सरकार का भी पूरा अनुभव है। पिछली सरकार में वह बिहार के श्रम संसाधन मंत्री थे।

vijay sinha-3

ये भी देखें: बिहार: विधानसभा सत्र की हंगामेदार शुरुआत, ‘हिन्दुस्तान’ शब्द पर छिड़ी बहस 

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष रूप में भाजपा के पहले विधायक

बिहार विधानसभा के अध्यक्ष की कुर्सी संभालने वाले विजय सिन्हा भाजपा के पहले विधायक हैं। इससे पहले भाजपा को स्पीकर का पद नहीं मिला था। विधायक के साथ-साथ विजय सिन्हा को सरकार का भी अनुभव है। पिछली नीतीश कुमार सरकार में वो श्रम संसाधन मंत्री रहे हैं। विजय सिन्हा भूमिहार जाति से आते हैं। ऐसे में उनको विधानसभा स्पीकर की जिम्मेदारी मिलने को सामाजिक समीकरण को संतुलित करने के तौर पर भी देखा जा रहा है। राज्य में प्रवक्ता के अलावा संगठन में भी विजय सिन्हा कई स्तर पर काम कर चुके हैं।

दोस्तों देश दुनिया की और खबरों को तेजी से जानने के लिए बनें रहें न्यूजट्रैक के साथ। हमें फेसबुक पर फॉलों करने के लिए @newstrack और ट्विटर पर फॉलो करने के लिए @newstrackmedia पर क्लिक करें।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App