पर्यटन पर कोरोना का ग्रहण, वीरान पड़ गई दुनिया, हर तरफ पसरा सन्नाटा…

कोरोनावायरस का दिन ब दिन खौफ बढ़ता जा रहा हैं जिसमें मरने वालों की संख्या 7000 से ऊपर तो संक्रमित लोगों की संख्या का आंकड़ा 2 लाख को पार कर गया हैं। इसका असर विश्व बाजार पर भी बुरी पड़ गया है। खासतौर से पर्यटन पर इसका सबसे खराब असर पड़ा हैं

Published by suman Published: March 20, 2020 | 9:02 am

नई दिल्ली : कोरोनावायरस का दिन ब दिन खौफ बढ़ता जा रहा हैं जिसमें मरने वालों की संख्या 7000 से ऊपर तो संक्रमित लोगों की संख्या का आंकड़ा 2 लाख को पार कर गया हैं। इसका असर विश्व बाजार पर भी बुरी पड़ गया है। खासतौर से पर्यटन पर इसका सबसे खराब असर पड़ा हैं और सरकारों द्वारा सलाह दी जा रही हैं कि अपने घरों में ही रहें और जरूरत हो तो ही बाहर निकलें। देश व दुनिया की कुछ ऐसी जगहों के बारे में बता रहे हैं जो पर्यटन के लिहाज से बहुत मशहूर हैं और अभी वहां सन्नाटा पसरा हुआ हैं।

 

यह पढ़ें…अब तक इन फिल्मों में देखा है ये जगहें, जाकर लीजिए वहां रियल मजा

 

जैसलमेर में सैलानी मायूस

काेराेना वायरस का असर अब जैसलमेर जिले के पर्यटक और धार्मिक स्थलाें पर पड़ने लगा है। देश में हर  तरफ आपात स्थिति है। राजस्थान सरकार ने भी पहले ही स्कूल, कॉलेज, जिम, मॉल सहित अन्य जगहों पर छुट्टी घोषित करते हुए प्रवेश पर प्रतिबंध कर दिया है। हालांकि वॉर म्यूजियम पहले भी बंद करवाया जा चुका है। जैसलमेर के सभी पर्यटक स्थलाें काे 31 मार्च तक के लिए बंद कर दिया गया है। इनमें पटवा हवेली और दूसरे अन्य पर्यटक स्थल पहली बार बंद किए गए है। जबकि वार म्यूजियम पहले भी बंद किया जा चुका है। उधर प्रसिद्ध रामदेवरा मंदिर में समाधि के दर्शन का समय परिवर्तित किया गया है। वहीं जैसलमेर घूमने आए सैलानी बहुत मायूस हुए। सैलानियों ने कहा की जैसलमेर घूमने आए है लेकिन सभी पर्यटन स्थल बंद होने से परेशानी हो रही है।

 

सकड़ के बीचोबीच दुकान

जापान दुनिया घूमने के शौकीन पर्यटकों की ट्रैवल डायरी में जरूर दर्ज रहता है। यहां की राजधानी टोक्यों में हर साल लाखों लोग पहुंचते हैं, लेकिन इन दिनों यहां के कई टूरिस्ट डेस्टिनेशन पर पर्यटकों की संख्या नदारद है। कोरोनावायरस फैलने के डर की वजह से लोग जापान की यात्रा करने से भी बच रहे हैं।जापान की राजधानी टोक्यो में शॉपिंग के लिए मशहूर गिंजा जिले की सड़कें इन दिनों वीरान पड़ी हैं। हालत यह है कि लोग सकड़ के बीचोबीच दुकान लगाए बैठे हैं। उन्हें कोई टोकने वाला नहीं है।

सन्नाटा पसरा

थाइलैंड पर्यटकों के बेस्ट टूरिस्ट डेस्टिनेशनों में शामिल है। थाइलैंड की राजधानी बैंकॉक अपनी नाइट लाइफ और मार्केट के लिए फेमस है। बैंकॉक में यहां शॉपिंग करना बेहद सस्ता माना जाता है। भारतीयों को तो यहां के लिए आसानी से वीजा भी मिल जाता है, लेकिन फिलहाल लोग बैंकॉक टूर के बारे में सोच भी नहीं रहे हैं। थाइलैंड के पर्यटन मंत्रालय के अनुसार बैंकॉक के ग्रैंड रॉयल पैलेस में पर्यटकों की तादाद लगभग आधी हो गई है।भगवान विष्णु के सबसे बड़े हिंदू मंदिर के रूप में कंबोडिया स्थित अंगकोरवाट मंदिर दुनियाभर में प्रसिद्ध है। बताया जाता है कि हर साल यहां करीब 20 लाख पर्यटक पहुंचते हैं। लगभग हर दिन यहां पर्यटकों की भीड़ रहती है, लेकिन इन दिनों यहां एक तरह का सन्नाटा पसरा हुआ है। यहां आने वाले पर्यटक नदारद हो गए हैं।

 

यह पढ़ें…वर्ल्ड की इन खूबसूरत जगहों को नहीं देखा तो क्या देखा, एक बार जरूर करें इनकी सैर

पवित्र स्थल काबा

मुसलमानों के लिए सऊदी अरब का मक्का पवित्र स्थान माना जाता है। यहां स्थित पवित्र स्थल काबा में न केवल हज के समय, बल्कि सालों भर जायरीनों की भीड़ लगी रहती है। लेकिन कोरोना की वजह से बीते दिनों इसे जायरीनों के लिए बंद कर दिया गया था। सैनिटाइज करने की खातिर ऐसा किया गया था। फिलहाल इसे खोल तो दिया गया है, लेकिन अब भी उमरा के लिए बहुत कम लोग पहुंच रहे हैं।

घरों में कैद

इटली की एक चौथाई आबादी अभी घरों में कैद है। इस कारण वेनिस शहर का मशहूर सेंट मार्क्स स्क्वेयर बुधवार को लगातार दूसरे दिन भी सूना रहा। अन्य दिनों में यहां हर दिन 30 हजार से ज्यादा पर्यटक आते हैं।