गठबंधन को जाति धर्म की राजनीति करनी है, इन्हें देश के विकास से कोई मतलब नही: योगी

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने विपक्षियों पर गरजते हुए कहा कि सारे भ्रष्टाचारी एकजुट होकर चले है मोदी को हराने लेकिन ऐसा संभव ही नहीं है।

गोरखपुर: डुमरियागंज लोकसभा क्षेत्र से भाजपा प्रत्याशी जगदंबिका पाल के समर्थन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी जनसभा को संबोधित किया।

1 मई को मजदूर दिवस के अवसर पर आयोजित इस जनसभा की शुरुआत मुख्यमंत्री ने मजदूरों का आह्वान करते हुए उनकी भारी उपस्थिति पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए की। उन्होंने कहा कि पूरे देश में बस एक ही आवाज है एक ही नारा है, फिर एक बार, मोदी सरकार। यह आवाज अचानक नहीं आई है। कुछ तो करिश्मा है उस व्यक्ति के अंदर। आज पूरा भारत नरेंद्र मोदी पर गौरवान्वित है। क्योंकि मोदी सरकार ने सब को स्वावलंबी बनाया है।

ये भी पढ़ें— मेरठ: अधेड़ के साथ झोलाछाप डाक्टर ने किया ऐसा काम, जानकर कांप उठेगी रुंह

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि आज हर क्षेत्र में विकास हो रहा है। आजादी के बाद से 2016 तक यूपी में सिर्फ 13 मेडिकल कॉलेज थे। लेकिन आज हर तरफ मेडिकल, सड़क, शिक्षा के क्षेत्र में विकास हो रहा है। सुरक्षा के मोड़ पर भी भारत विकास की ओर अग्रसर है। आज गांव और शहर सभी जगह बिजली मिल रही है और आने वाले समय में बिजली की सप्लाई और अच्छी होगी।

योगी आदित्यनाथ ने सपा बसपा कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह लोग आतंकी घटनाओं में लिप्त लोगों को बचाने का प्रयास करते हैं। क्योंकि इन्हें जाति धर्म की राजनीति करनी है। इन्हें देश के विकास से कोई मतलब नहीं।

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने भी किया चुनाव प्रचार

लोकसभा चुनाव 2019 की चुनावी सरगर्मी दिन-प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है। भारतीय जनता पार्टी मतदाताओं को सहेजने के लिए बड़े-बड़े नेताओं को जातीय समीकरण के हिसाब से प्रत्याशियों के समर्थन में चुनावी जन सभा करा रहे हैं। हालांकि की लोगों का मानना है कि जनपद में अलग-अलग जगहों पर अलग-अलग नेताओं को बुलाकर कराये जा रहे चुनावी जनसभा से बीजेपी को सफलता भी मिल रही है।

ये भी पढ़ें— दिल्ली सरकार का प्रदर्शन कई पैमानों पर खरा नहीं उतरता: सर्वेक्षण

इसी क्रम में आज लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान और उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या कुशीनगर लोकसभा के प्रत्याशी विजय दुबे के समर्थन में चुनावी जनसभा किये। वहीं कार्यक्रम में मौजूद कार्यकर्ताओं ने गर्मजोशी से केंद्रीय मंत्री व यूपी के कैबिनेट मंत्री का स्वागत किया।

चुनाव में ही बीजेपी जीत हासिल कर चुकी है: पासवान

केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने दावा किया कि चार चरणों के चुनाव में ही बीजेपी जीत हासिल कर चुकी है। अब तो सिर्फ सपथ ग्रहण करना बाकी है जो 23 मई को ही हो जायेगा। उन्होंने कहा कि बसपा पार्टी के सुप्रीमो मायावती को मुलायम से जान का खतरा बना हुआ था हालांकि की गेस्ट हॉउस कांड के समय ही वे मायावती की जान ले लिए होते ऐसा मायावती ही चिल्ला रही थी तो आज हाथ क्यों मिला लिया।

ये गठबंधन नहीं लठबंधन है ये मायावती का दोहरा चरित्र है। प्रियंका गांधी पर हमलावर होते हुए रामविलास पासवान ने कहा कि चली थी चुनाव लड़ने रोड शो करने के बाद वापस हो गई। तो वहीं स्वामी प्रसाद मौर्या ने गठबंधन और कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि पूर्वर्ती सरकार में लगातार आतंकी हमला होता था और गूंगी बहरी सरकार आतंकवादियों के सामने मत्था टेक देते थे।

सभा को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने विपक्षी पार्टियों को कहा ये सभी भ्रष्टाचारी है। आगे कहा कि इस बार चुनाव नहीं मोदी का सुनामी चल रहा है। हम विकास के नाम पर आपसे वोट मांग रहे है। आज सभी वर्ग के लोगो का समान रूप से विकास हो रहा है। हम उस घर में दिया जलाने चले है जिस घर में दिया नहीं है। हमने संकल्प लिया है की सभी लोगो को खाना मिले जिसके तहत कोटे की दुकान चला कर सबको खाद्य सामग्री उपलब्ध करा रहे है।

ये भी पढ़ें— जानिए क्या हुआ जब पूर्व राज्यपाल मोतीलाल वोरा ने राम नाईक से की मुलाकात?

हर परिवार को मकान व शौचालय दे रहे हैं। सभी परिवार को फ्री में गैस कनेक्शन देकर महिलाओं को सम्मानित किया है। सपा पर तंज कसते हुए कहा कि सपा के लोग आरक्षण का विरोध कर रहे हैं। हम लोगों ने समाज के सभी वर्ग के गरीब को आरक्षण दिया है पिछड़ी समाज के लोगो का सम्मान बढ़ाया है बीजेपी पार्टी ने गठबंधन पर हमला बोलते हुए कहा कि मायावती ने आरोप लगाया था की मुलायम यादव ने एक कमरा में बंद कर जान से मारने की कोशिश की थी।

हमको मजबूत प्रधानमंत्री चाहिए मजबूर प्रधानमंत्री नहीं: 

लेकिन पता नहीं क्या आवश्यकता पड़ गया की आज गठबंधन करना पड़ा। मायावती को दोहरा चरित्र का बताते हुए कहा की लोकसभा में कोई बीएसपी का नेता है ही नहीं और मायावती कहती है कि हम प्रधानमंत्री की उम्मीदवार हूँ। अगला प्रधानमंत्री की वैकेंसी मोदी के नाम दर्ज है। हमको मजबूत प्रधानमंत्री चाहिए मजबूर प्रधानमंत्री नहीं। गठबंधन को लेकर कहा कि प्रधानमंत्री का कोई उम्मीदवार ही नहीं दिख रहा है तो चुनाव क्यों लड़ रहे हैं।

ये लोग तो वही कांग्रेस पर हमलावर होते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी ने बाबा साहेब को पार्लियामेंट में नहीं जाने दिया। प्रियंका गांधी पर हमला बोलते हुए कहा कि चली थी चुनाव लड़ने केवल रोड शो करने के बाद पता चल गया कि मेरा क्या कंडीशन है और वे दुबक गई। आगे रामविलास पासवान ने कहा कि लोग बीजेपी के प्रति मुसलमानो को भड़का रहे है कि बीजेपी मुस्लिम विरोधी है। क्या उन्हें पता नहीं कि देश के आजादी के समय हिन्दू और मुसलमान सभी ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया था। सभी विपक्षी पार्टियों का पेट पता नहीं क्यों फूल रहा है की एक गरीब का बेटा प्रधानमंत्री क्यों बन गया है।

ये भी पढ़ें— भारत द्वारा अफगान जमीन के इस्तेमाल करने का कोई सबूत नहीं: अमेरिका

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने विपक्षियों पर गरजते हुए कहा कि सारे भ्रष्टाचारी एकजुट होकर चले है मोदी को हराने लेकिन ऐसा संभव ही नहीं है। सपा और कांग्रेस पर हमलावर मौर्या ने कहा कि एक के बाद एक लगातार आतंकी घटनाएं होती थी लेकिन गूंगी बहरी सरकार आतंकवादियों के आकाओं के सामने घुटने टेक देते थे। वही आज 56 इंच के सीना वाले प्रधानमंत्री मुहतोड़ जवाब दे रहे हैं। मोदी सरकार को हटाने के लिए अब आतंकवादी भी कुछ लोगों का सहयोग कर रहे हैं।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App