वसुंधरा सरकार का फरमान- मेले में जाकर सीखो ‘लव जिहाद’ से बचना !

वसुंधरा सरकार का फरमान- मेले में जाकर सीखो ‘लव जिहाद’ से बचना !

वसुंधरा सरकार का फरमान- मेले में जाकर सीखो ‘लव जिहाद’ से बचना !

जयपुर: राजस्थान की वसुंधरा राजे सरकार ने राज्य के सभी सरकारी और निजी स्कूल के बच्चों को गुलाबी शहर जयपुर में चल रहे मेले में जाने का आदेश दिया है। वैसे तो मेले में जाने का आदेश जितना सीधा दिख रहा है उतना है नहीं।दरअसल, इस मेले में जाने का उद्देश्य उन्हें लव जिहाद के बारे में सीख देना है। जी हां, इस मेले में वीएचपी और बजरंग दल के कार्यकर्ता हिंदू युवक युवतियों को ‘लव जिहाद’ पर लिखी गई एक किताब बांटकर कथित तौर पर जागरुक कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें…लव जिहाद: मुस्लिम युवक ने हिंदू लड़की से पहचान छुपा कर की शादी, लोगों ने जमकर की पिटाई

राजे सरकार ने इसी मेले में छात्रों और अध्यापकों को जाने को कहा है, जिससे वे वहां लव जिहाद के बारे में जान सके और विश्व हिन्दू परिषद् द्वारा बांटी जा रही ईसाईयों के षडयंत्र की किताबे खरीद सके। यही नहीं वहां शाकाहारी बनने की शपथ दिलाने के साथ साथ गाय को राष्ट्रीय माता घोषित करने के लिए जलाय जा रहे अभियान में हस्ताक्षर कर सके।

जयपुर एडिशनल एडुकेशन ऑफिसर दीपक शुक्ला ने बताया कि मेले के आयोजनकर्ताओं की मदद करने के लिए राज्य के सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों से मेले में बच्चों की उपस्थिति दर्ज कराने के लिए कहा गया है।

उन्होंने कहा कि यह निर्देश प्राइमरी एंड सेकेंडरी एडुकेशन मिनिस्टर वसुदेव देवनानी द्वारा दिए गए हैं। शुक्ला ने कहा कि इस मेले के आयोजनकर्ता हिंदू अध्यात्मिक और सेवा मेला ने खुद ही सरकारी और प्राइवेट स्कूलों से संपर्क किया था लेकिन स्कूलों का कहना था कि जब तक हमें आदेश नहीं मिलेंगे तब तक वे बच्चों और शिक्षकों को मेले में नहीं भेजेंगे, इसलिए माननीय मंत्री जी द्वारा निर्देश दिए जाने के बाद अब आयोजनकर्ताओं की मदद हो पाएगी।

बतादें, हिंदू अध्यात्मिक और सेवा मेला में बांटी गई किताबों में मुस्लिम विरोधी बातें लिखी गई है और हिंदू लड़कियों को लव जेहाद में फंसाने का आरोप लगाया गया है। बांटी जा रही किताबों में उन तरीकों के बारे में बताया गया है कि किस तरह मुस्लिम युवा, हिंदू लड़कियों को अपने जाल में फंसाते हैं।

यह भी पढ़ें…बिजनौर में बीजेपी विधायक की गुंडई, मिल अधिकारी के साथ की मारपीट

विश्व हिंदू परिषद् और बजरंग दल द्वारा बांटी जा रही किताबों में लव जिहाद का उदहारण देते हुए करीना कपूर और आमिर खान के बारे में लिखा है।