लॉकडाउन के बाद, फैमिली के साथ करना हो सफर तो इन बातों का रखें खास ख्याल

लॉकडाउन कुछ दिनों या कुछ महिनों बाद खत्म हो जाएगा। लोग नॉर्मल तो नहीं, लेकिन कुछ सावधानियों के साथ जिंदगी जीने लगेंगे। सफर पर निकलने लगेंगे और ऑफिस भी जाना शुरु कर देंगे। लेकिन सबसे ज्यादा जो परेशानी की बात है वो सफर है।

जयपुर : लॉकडाउन कुछ दिनों या कुछ महिनों बाद खत्म हो जाएगा। लोग नॉर्मल तो नहीं, लेकिन कुछ सावधानियों के साथ जिंदगी जीने लगेंगे। सफर पर निकलने लगेंगे और ऑफिस भी जाना शुरु कर देंगे। लेकिन सबसे ज्यादा जो परेशानी की बात है वो सफर है। मतलब ये कि लोग सफर पर निकलेंगे तो इस समय बहुत सतर्कता बरतने की जरुरत होगी। वैसे तो पहले भी खास करय मांओं को अक्सर ही बच्चों का ध्यान रखते हुए सफर मे काफी समस्याएं आती रही हैं, अब भी वैसी है परेशानी होगी। जैसे  बस में सफर करें या ट्रेन, प्लेन में इस दौरान बच्चों की शरारतों से लेकर खाने- पीने, कपड़े, खेलने सब बातों का ध्यान रखना पड़ता हैं। सबसे ज्यादा दिक्कत होती है जब बच्चों के साथ ट्रेन में लंबी यात्रा पर जाते है। आज के समय में भी यात्रा के दौरान बच्चों का ध्यान में रखने में किसी तरह की परेशानी न हो इसलिए इन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

यह पढ़ें..जंचती हैं हर उम्र की महिलाओं पर स्कर्ट, गर्मियों के लिए बेस्ट ऑप्शन, चुनें सही फैब्रिक

*सफर के दौरान कार से जा रहे हैं तो रास्ते में रुकते हुए जाएं। ऐसा करने से बच्चा फ्रेश फील करेगा। बच्चे लगातार बैठे रहने से चिड़चिड़ा हो जाते हैं। गाड़ी से बाहर निकल कर यदि बच्चा थोड़ी देर घूम लेगा तो ऐसी परेशानी नहीं होगी।

*यात्रा पर जाने से पहले याद से  बच्चों की जरूरत की चीजें साथ रख लें। कोशिश करें कि उनकी पसंद की खाने की चीजें साथ लेकर चलें। साथ में चॉकलेट जरूर लेकर चलें, इससे अगर वो जिद करें तो उन्‍हें मनाने में आसानी रहेगी। साथ ही उनको बाहर का खाना भी नहीं खिलाना पड़ेगा। अगर बच्चा दूध पीता हैं तो पहले से पर्याप्त मात्रा में दूध साथ में रखें। अगर बच्चे का पेट भरा होगा तो आपको परेशान नहीं करेगा।

 


बच्चे के साथ ट्रैवल करते समय पैरेंट्स की सबसे बड़ी चिंता होती है कि उनके बच्चे को इन्फेक्शन न हो। इसलिए बच्चे को संभालते समय हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल ज़रूर करें। एंटीसेप्टिक लिक्विड भी साथ में रखें।

*सफर के दौरान आप अपने साथ एक मेडिकल किट जरूर रखें। इसमें बच्चे के लिए लिखी सभी जरूरी दवाइयां रखें। इसके अलावा किट में थर्मामीटर, बैंडेड और रुई भी रख लें। इमरजेंसी की स्थिति में ये सब चीजें काम आएंगी।

यह पढ़ें..शुभ-अशुभ घटनाओं की ओर इशारा करते हैं ये संकेत, जानें और रहें सतर्क

*फ्लाइट में सवार होने पर छोटे बच्चे के साथ एसल सीट का चुनाव करें। वैसे तो बच्चों से लेकर बड़ों तक को विंडो सीट पसंद आती है। लेकिन जब बच्चे छोटे होते हैं तो उन्हें गोद में बैठाना मुश्किल होता है। इसलिए एसल सीट को ही चुनें। इससे आपके सहयात्री को भी परेशानी नहीं होगी।

 

*मास्क, सबसे जरूरी चीज मास्क पहनकर ही फैमिली के साथ निकले। खुद के साथ बच्चों की आदतों में मास्क को शुमार कर लें। इससे परेशानी भी थोड़ी कम होगी। और आप स्वस्थ रहेंगे।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App