नये प्रोटोकॉल से होगा विधान भवन में राज्यपाल का स्वागत, संयुक्त सत्र को करेंगे संबोधित

राज्यपाल के विधान भवन पहुंचने पर मुख्यमंत्री, विधान परिषद के सभापति, विधान सभा अध्यक्ष उनका स्वागत करेंगे। राज्यपाल विधान भवन पोर्टिकों में ‘नेशनल सैल्यूट’ लेंगे और फिर विधान सभा मण्डप के लिये प्रस्थान करेंगे।

Published by zafar Published: May 14, 2017 | 8:16 pm
Modified: May 14, 2017 | 10:38 pm

लखनऊ: राज्यपाल राम नाईक सोमवार को राज्य विधानमंडल के संयुक्त सत्र को सम्बोधित करेंगे। इस मौके पर राष्ट्रपति के जारी किये गये नये प्रोटोकॉल के अनुसार उनका स्वागत होगा। उन्हें राज्य विधानमंडल के संयुक्त अधिवेशन को सम्बोधित करने से पहले राजभवन में ‘गार्ड ऑफ ऑनर‘ दिया जाएगा। इसके बाद राज्यपाल विधान भवन जाएंगे।
राज्यपाल के विधान भवन पहुंचने पर मुख्यमंत्री, विधान परिषद के सभापति, विधान सभा के अध्यक्ष उनका स्वागत करेंगे। राज्यपाल विधान भवन पोर्टिकों में ‘नेशनल सैल्यूट’ लेंगे और फिर विधान सभा मंडप के लिये प्रस्थान करेंगे। मंडप के लिये प्रस्थान का क्रम राष्ट्रपति के जारी किये गये नये प्रोटोकॉल के अनुसार होगा।

बता दें कि राज्यपाल राम नाईक ने बीते वर्ष राज्यपालों के सम्मेलन में पूरे देश में राज्यपालों द्वारा संयुक्त सदन के सम्बोधन में एकरूपता लाने की दृष्टि से दिशा निर्देश हेतु प्रस्ताव दिया था। राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने सभी राज्यपालों के लिये अपने स्तर से नये प्रोटोकॉल का प्रारूप जारी किया था।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App