कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों का मंत्र है- “हुआ तो हुआ”: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाजीपुर में एक रैली को संबोधित किया। बता दें कि गाजीपुर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा सांसद हैं। पीएम मोदी ने कहा कि चाहे भ्रष्टाचार से लड़ने का मामला हो, या फिर आतंकवाद और नक्सलवाद से निपटने का काम, 5 वर्ष में आपके प्यार और समर्थन से मैं राष्ट्रहित में बड़े और कड़े फैसले ले पाया हूं।

गाजीपुर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गाजीपुर में एक रैली को संबोधित किया। बता दें कि गाजीपुर से केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा सांसद हैं। पीएम मोदी ने कहा कि चाहे भ्रष्टाचार से लड़ने का मामला हो, या फिर आतंकवाद और नक्सलवाद से निपटने का काम, 5 वर्ष में आपके प्यार और समर्थन से मैं राष्ट्रहित में बड़े और कड़े फैसले ले पाया हूं।

उन्होंने कहा कि आज गाजीपुर, पूर्वांचल सहित समूचा पूर्वी भारत विकास की मुख्यधारा से जुड़ रहा है। गांव में सड़कें बन रही हैं, हाईवे के काम चल रहे है, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बन रहा है, रेलवे का अभूतपूर्व काम हुआ है।

यह भी पढ़ें…छात्रा से दुष्कर्म का वीडियो बना ब्लैकमेल करने पर दो युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

पीएम मोदी ने कहा कि कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों ने तीन शब्दों के आधार पर देश चलाया है। उनका मंत्र है – “हुआ तो हुआ”। देश का किसान, अधूरी सिंचाई परियोजनाओं की वजह से पानी के लिए परेशान होता रहा, ये महामिलावटी कहते रहे- हुआ तो हुआ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस, सपा और बसपा ने हमेशा सिर्फ अपने परिवारों के विकास के बारे में ही सोचा है। राष्ट्र के विकास पर ध्यान देने की इन्होंने कभी नहीं सोची।

पीएम मोदी ने कहा कि कर्नाटक में जिन्हें इन्हाेंने मुख्यमंत्री बनाया और जिनके पिता टेम्परेरी प्रधानमंत्री भी रहे उन्होंने बयान दिया है, जिसका सभी को बहिस्कार करना चाहिए। उन्हाेंने कहा कि सेना में वही लोग जाते हैं जिनके पास खाने को पैसा नहीं होता है जिनके पास दो वक्त की रोटी नहीं होती है। क्या ये सेना का अपमान है या नहीं। इस अपमान का बदला लोगे या नहीं, ऐसे लोगों को माफ नहीं किया जा सकता। वो रोटी खाने के लिए नहीं गोली खाने और देश पर मरमिटने के लिए जाता है। कभी कांग्रेस ने अभी तक मुख्यमंत्री के बयान का खंडन नहीं किया, इसका मतलब वो इस अपमान का समर्थन करती है।

आप बताएं जो वीर माताओं का अपमान करे ऐसे लोगों को सजा मिलनी चाहिए। जम्मू-कश्मीर में शांति की स्थापना के लिए हमारे जवान डटे हुए हैं वहां उनके जीवन को संकट में डालने का काम सपा-बसपा और कांग्रेस कर रही है। ये कह रहे हैं कि अलगाववादियों से बातचीत होनी चाहिए, सैनिकों को दिया विशेष अधिकार हटाया जाना चाहिए। पीएम मोदी ने कहा आतंकी फैक्ट्री चलाने वाले पाकिस्तान के घर में घुसकर मारने की ये नीति मोदी ने बनाई, इसलिए मोदी को हटाना है । देश के शहरों में बम धमाकों से बचाया हमने। देश के नागरिकों देश को बम धमाकाें से बचाना चाहिए कि नहीं। देश के एक बड़े हिस्से ने इनको पहचान लिया है।

यह भी पढ़ें…स्पाइस जेट के दो विमानों में उड़ान के दौरान आई तकनीकी खामी

पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव के शुरुआत से सपा-बसपा मेरी जाति पर हमला करते आ रहे हैं। मैं पिछड़ी जाति में पैदा जरूर हुआ, गरीबी में पैदा जरूर हुआ, लेकिन देश से गरीबी मिटाने के लिए जी जान से जुटा हूं। मेरी जाति का सर्टीफिकेट मांगने वालों से मैं कहना चाहता हूं कि मेरी जाति गरीब है। आप गरीबों का शोषण करके अरबो-खरबों के मालिक हो गए हैं, लेकिन आपको ये हक नहीं है कि आप मेरी जाति का मजाक उड़ाएंगे। ये तो एक-दो बार मुख्यमंत्री रहे होंगे, लेकिन मैं गुजरात में सबसे लम्बे समय 15 साल तक मुख्यमंत्री रहा, लेकिन ना तो मेरे खाते में पैसे है ना ही बंगला है।

पीएम मोदी ने कहा कि आजादी के बाद पहली हमारी सरकार है जिसने महिलाओं के लिए इतने काम किए हैं। ना केवल गांव की बल्कि शहर की महिलाओं के लिए भी काम किए हैं। दलित और पिछड़े वर्ग की महिलाओं के लिए धुएं से छुटकारा दिलाने के लिए गैस दी और उन्हें इज्जतघर बनाए। रेप और बलात्कार के लिए फांसी जैसी सजा बनाई। महिला सुरक्षा को लेकर कांग्रेस किस तरह का काम कर रही है वो देश की जनता देख रही है ।

पिछले तीन दिन से राजस्थान के अलवर की खबर धीरे-धीरे बाहर आने लगी है। वहां एक दलित लड़की के साथ दरिन्दों ने बलात्कार किया, लेकिन वहां की कांग्रेस की सरकार आरोपियों को पकड़ने की बजाय मामले को ही दबाने में लगी रही। वहां भी चुनाव है इसलिए वे इस खबर को बाहर नहीं आने देना चाहते थे। जिस बेटी को न्याय मिलना चाहिए था, वहां कांग्रसे वोट बचाने में लगी थी। यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है। कांग्रेस ने पीडि़त की बात को अनसुना कर दिया। इनके रागदरबारी भी इतने भयंकर कांड़ को छुपाने में लगे हैं। मोमबत्ती लेकर निकलने वालों की धुआं निकल गई है।

पीएम मोदी ने कहा कि 21 सदी के युवा की आकांक्षा अलग है। आज पूरा देश कह रहा है, जीभरके कह रहा है। विकास और राष्ट्र के लिए हमारी भावना मजबूत रहे, इसके लिए आपको हर बूथ पर कमल खिलाना है। देश को मजबूत बनाना है तो अपने बूथ को मजबूत बनाओगे। तो जलपान से मतदान कराओगे, गर्मी कितनी भी ज्यादा मतदान कराएंगे। आप इतनी ताकत लगाएंगे तो मैं आपको विश्वास दिलाता हूं कि कमल पर पड़ा आपका वोट मोदी को जाएगा। भारत माता की जयकारे के साथ पीएम मोदी ने अपना सम्बोधन समाप्त किया।