Make In India को झटका: देश में बनी असॉल्ट राइफल टेस्ट में फेल, सेना ने कहा- ये तो बस घायल कर सकती है

Published by aman Published: June 22, 2017 | 3:29 pm
Modified: June 22, 2017 | 3:30 pm
Make In India को झटका: देश में बनी असॉल्ट राइफल टेस्ट में फेल, सेना ने कहा- ये तो बस घायल कर सकती है

नई दिल्ली: भारत में बनी नई असॉल्ट राइफल टेस्ट में फेल हो गई है। इसे पश्चिम बंगाल के ईछापुर स्थित राइफल फैक्ट्री में बनाया गया था। रक्षा मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाली प्रोजेक्ट मैनेजमेंट टीम यानि पीएमटी ने इस राइफल के नमूने में ही काफी खामियां बताई थी। यह भी कहा था, कि डिजाइन में अभी काफी सुधार की आवश्यकता है।

एक समाचार एजेंसी के मुताबिक, सुरक्षा बल ने पिछले साल एक लाख 85 हजार नई असॉल्ट राइफल की मांग की थी। दरअसल, सुरक्षा बल 5.56 कैलिबर राइफल को हटाने पर विचार कर रही है।

यह राइफल केवल घायल कर सकती है
इस संबंध में ब्रिगेडियर एसके चटर्जी के मुताबिक, ‘5.56 कैलिबर राइफल केवल दुश्मन को घायल कर सकती है। हमने 7.62 ’51mm’ असॉल्ट राइफल की मांग की थी, जो दुश्मन को मार सके। इसके बाद करीब 20 कंपनियों ने राइफल बनाने का प्रस्ताव भेजा। ईछापुर स्थित फैक्ट्री को नई असॉल्ट बनाने का काम सौंपा गया। पिछले हफ्ते हुए राइफल का टेस्ट फेल रहा।

आगे की स्लाइड में पढ़ें पूरी खबर …

20 गुना से ज्यादा थी खामियां
पीएमटी ने अपनी समीक्षा में कहा था, कि ‘नई असॉल्ट के नमूने में 20 गुना से ज्यादा खामियां थीं।’ पीएमटी ने जो मुद्दे उठाए, उसमें फायरिंग के दौरान राइफल का झटका देना, राइफल का आवाज करना और बुलेट मैगजीन का बेअसर होना शामिल है। फायरिंग के दौरान ही बैरल फूल जाता है, जिससे सेफ्टी को लेकर खतरा है। बंदूक में निशाना साधने और सटीकता के लिए कोई व्यवस्था नहीं दिखती। ऐसा लगता है कि फोर्सेस के लिहाज से इसे डिजाइन नहीं किया गया।

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App