चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत के लिए गेंदबाज शमी होंगे ‘ट्रम्प का इक्का’

नई दिल्ली : भारत के हरफनमौला क्रिकेटर इरफान पठान का कहना है कि चैम्पियंस ट्रॉफी टूर्नामेंट में भारतीय टीम के लिए गेंदबाज मोहम्मद शमी का प्रदर्शन सबसे महत्वपूर्ण साबित होगा। इंग्लैंड में एक जून से खेले जाने वाले इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम का पहला मैच चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान से चार जून को होगा।

ये भी देखें : इस हॉलीवुड हसीना ने अपनी शादी को लेकर दिया ऐसा बयान, हो जाएंगे हैरान

साल 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा रहे इरफान ने कहा कि इंग्लैंड में होने वाले इस टूर्नामेंट में सफलता का एक ही मंत्र है, और वह है अच्छी सीम के साथ गेंदबाजी करना। उनका मानना है कि इसमें शमी के नेतृत्व में भारतीय गेंदबाजी आक्रमण काफी अच्छा है।

इरफान ने कहा, “इंग्लैंड में जरूरी है अच्छी सीम के साथ गेंदबाजी करना। अगर आप सही जगहों पर गेंदबाजी करते हैं और अच्छी सीम के साथ करते हैं, तो मुझे लगता है कि गेंदबाजों का प्रदर्शन शानदार होगा।”

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 10वें संस्करण में गुजरात लायंस की टीम में नजर आए इरफान ने कहा, “भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और उमेश यादव जैसे गेंदबाजी जिस प्रकार की फॉर्म में हैं, उससे मैं आश्वस्त हूं कि इस टूर्नामेंट में भारत शानदार प्रदर्शन करेगा। आईपीएल के 10वें सीजन से जो अनुभव इन गेंदबाजों को मिला है, उससे यह इंग्लैंड में अच्छा प्रदर्शन करेंगे।”

2004 के भारतीय टीम के पाकिस्तान दौरे में इरफान स्विंग गेंदबाजी में सबसे आगे रहे थे। उन्होंने कहा कि वह वनडे मैचों में भुवनेश्वर और बुमराह के प्रदर्शन से काफी प्रभावित हैं। इसके अलावा, उन्होंने शमी की प्रशंसा करते हुए कहा कि उनकी सीम पोजीशन विश्व क्रिकेट में सबसे शानदार है। उन्होंने उमेश यादव की भी तारीफ की।

इरफान ने कहा, “मैं भुवनेश्वर और बुमराह के वनडे मैचों के प्रदर्शन से सच में खुश हूं। शमी एक ऐसे गेंदबाज हैं, जो नई और पुरानी दोनों गेदों से गेंदबाजी कर सकते हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में उनकी सीम पोजीशन सबसे शानदार है, इससे बेहतर मैंने आजतक किसी की नहीं देखी।”

भारत-पाकिस्तान के बीच के मैचों में अधिकतर भारत का पलड़ा भारी रहा है। इस पर इरफान ने कहा, “इस तरह की बढ़त थोड़ा ही मायने रखती है, जो बात मायने रखती है वह है मैदान पर आपका प्रदर्शन।”

इरफान ने कहा, “2013 चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान भारतीय टीम काफी बेहतर थी और इस बार भी यही स्थिति है। हमारी टीम पूरी है, जो पाकिस्तान से कहीं बेहतर है।”

इस टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम को ग्रुप-बी में पाकिस्तान, दक्षिण अफ्रीका और श्रीलंका के साथ शामिल किया गया है। पिछली बार भारत और पाकिस्तान का सामना 2015 आईसीसी विश्व कप में हुआ था। इसके अलावा, पिछले साल आईसीसी टी-20 विश्व कप में भी दोनों टीमें आमने-सामने आईं थीं। इन दोनों मैचों में भारत ने जीत हासिल की थी।

चैम्पियंस ट्रॉफी में भारत का सामना आठ जून को श्रीलंका और 11 जून को दक्षिण अफ्रीका से होगा। इस टूर्नामेंट के लिए ग्रुप-ए में न्यूजीलैंड, आस्ट्रेलिया, इंग्लैंड और बांग्लादेश को शामिल किया गया है। इन दोनों ग्रुप में शीर्ष पर रहने वाली दो-दो टीमें सेमीफाइनल में पहुंचेंगी।