जिताऊ प्रत्याशियों को ही मिला मेयर का टिकट : राजनाथ के बेटे ने बताया है

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की उत्तर प्रदेश इकाई के महासचिव एवं केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह ने निकाय चुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध को लेकर कहा है कि पार्टी ने जीतने की क्षमता के आधार पर ही टिकट बांटे हैं और उन्हें उम्मीद है कि निकाय चुनाव में पार्टी को शानदार सफलता मिलेगी।

Published by tiwarishalini Published: November 9, 2017 | 7:23 pm
Modified: November 9, 2017 | 7:25 pm
जिताऊ प्रत्याशियों को ही मिला मेयर का टिकट : राजनाथ के बेटे ने बताया है

लखनऊ : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की उत्तर प्रदेश इकाई के महासचिव एवं केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह ने निकाय चुनाव में पार्टी कार्यकर्ताओं के विरोध को लेकर कहा है कि पार्टी ने जीतने की क्षमता के आधार पर ही टिकट बांटे हैं और उन्हें उम्मीद है कि निकाय चुनाव में पार्टी को शानदार सफलता मिलेगी।

पंकज सिंह ने कहा, “निकाय चुनाव को लेकर पार्टी ने काफी सोच समझकर टिकट दिया है। जीतने की क्षमता के आधार को ध्यान में रखकर जिताऊ प्रत्याशियों पर ही दांव लगाया गया है। पार्टी को इसका फल भी मिलेगा।”

पंकज सिंह से यह पूछे जाने पर कि निकाय चुनाव के दौरान टिकट बंटवारे को लेकर कार्यकर्ताओं को नजरअंदाज करने का प्रयास किया गया तो उन्होंने कहा, “ऐसा नहीं है। टिकट के दावेदार कई होते हैं, लेकिन मिलता किसी एक प्रत्याशी को ही है।”

यह भी पढ़ें … Exclusive – मेयर के पास भले ही शक्ति न हो, सरकार तो हमारी है : संयुक्ता भाटिया

उन्होंने कहा, “बीजेपी एक ऐसी पार्टी है जहां एक बार प्रत्याशी घोषित होने के बाद सभी कार्यकर्ता जी-जान से पार्टी को जीताने में लग जाते हैं। कार्यकर्ता हमेशा पार्टी के हित के बारे में ही सोचते हैं। इस बार भी ऐसा ही होगा।”

गाजियाबाद से विधायक पंकज सिंह को निकाय चुनाव में बरेली का प्रभारी बनाया गया है। निकाय चुनाव में सहयोगी दलों की खिलाफत पर उन्होंने कहा, “सभी दलों की अपनी राजनीति है और उनका अपना नजरिया है। वह साथ लड़ते हैं या अलग लड़ते हैं, यह पार्टी के वरिष्ठ लोगों को तय करना था। मुझे नहीं पता कि बैठक में क्या हुआ।”

पार्टी के राज्य महासचिव से यह पूछने पर कि आपको यह नहीं लगता कि सहयोगी दलों के अलग चुनाव लड़ने से ठीक महाराष्ट्र जैसी स्थिति पैदा हो गई है? सरकार में सहयोगी दल आपके साथ हैं और चुनाव में अब अलग लड़ रहे हैं, पर उन्होंने कहा, “मैंने कहा न कि यह पार्टी के वरिष्ठ लोगों के बीच की बात है। यह उन्हें तय करना था। सभी पार्टियां अपनी परिस्थितियों और रणनीति के आधार पर ही चुनाव मैदान में जाती हैं।”

यह भी पढ़ें … एक्सक्लूसिव- मेयर के पास शक्ति नहीं तो क्या जनता की ताकत तो है- बुलबुल

यह पूछे जाने पर कि क्या पार्टी निकाय चुनाव में कोई घोषणापत्र भी ला रही है, इस पर उन्होंने कहा, “हर क्षेत्र की परिस्थतियां और चुनौतियां अलग-अलग होती हैं। इसको लेकर अभी कुछ कहा नहीं जा सकता। लेकिन हम इतना ही कह सकते हैं कि हर क्षेत्र में विकास होना चाहिए और वहां की बुनियादी जरूरतें पूरी होनी चाहिए।”

पार्टी के खिलाफ चुनाव में उतरने वाले कार्यकर्ताओं पर क्या कार्रवाई होगी? इस सवाल को लेकर पंकज सिंह ने कहा कि यह पार्टी तय करेगी कि क्या कदम उठाया जाए, लेकिन निश्चित तौर पर पहले उनको समझाने का प्रयास किया जाएगा और हमे उम्मीद है कि ऐसा करने वाले कार्यकर्ता मान जाएंगे और पार्टी को जिताने में अपनी भमिका अदा करेंगे।

–आईएएनएस

 

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App