जानिए कहां महंगाई के विरोध में कांग्रेसियों ने बाइक और पंखे को दी श्रद्धांजलि?

सरकार द्वारा 12% बढ़ाए गए बिजली और व्हीकल एक्ट 10 गुना जुर्माने की राशि बढ़ाने को लेकर नाराज कांग्रेसियों ने आज अपने मोटरसाइकिल के साथ इलेक्ट्रिक पंखे को भी श्रद्धांजलि देकर अपना विरोध दर्ज कराया।

गोरखपुर: गोरखपुर में कांग्रेसियों ने आज अनोखे अंदाज में प्रदर्शन किया और सरकार के खिलाफ लामबंद हुए। सरकार द्वारा 12% बढ़ाए गए बिजली और व्हीकल एक्ट 10 गुना जुर्माने की राशि बढ़ाने को लेकर नाराज कांग्रेसियों ने आज अपने मोटरसाइकिल के साथ इलेक्ट्रिक पंखे को भी श्रद्धांजलि देकर अपना विरोध दर्ज कराया।

ये भी पढ़ें…यूपी की जेलों में मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने पर होगी 3 साल की सजा

गोरखपुर के जिला महासचिव अनवर हुसैन ने आज अपने समर्थको के साथ अनोखे अंदाज में विरोध प्रदर्शन किया, इस अनोखे अंदाज में प्रदर्शन करने और सरकार को घेरने का काम कांग्रेसियों ने किया।

आज इन लोगों ने बेतियाहाता के पास मोटर साइकिल स्कूटी और इलेक्ट्रिक पंखो को माला पहना कर श्रद्धांजलि दी। बकायदे गाड़ियों और पंखों को माला पहना कर अगरबत्ती दिखा कर आज श्रद्धांजलि देने के बारें में  अनवर हुसैन का  कहना था कि अभी सरकार ने पेट्रोल डीजल के दामों में वृद्धि कर दिया।

फिर महज कुछ दिनों बाद गैस के सिलेंडरो पर वृद्धि फिर उसके महज कुछ दिनों बाद ही बिजली के दरो में वृद्धि करने के साथ साथ यातायात के नियमो का हवाला देकर दुगुना चालान वसूला जा रहा है।

जिसको लेकर सरकार ने सबकी कमर तोड़ दी है। केवल ये उत्तर प्रदेश एक ऐसा राज्य है। जहा बिजली इतनी महंगी है, आखिर ये सरकार करना क्या चाहती है।

ये भी पढ़ें…उन्नाव रेप केस में सीबीआई ने पूरी की जांच, जल्द दाखिल करेगी रिपोर्ट

इसी को लेकर आज हम लोगो ने पंखो और मोटरसाइकिलो को श्रद्धांजलि दी है, और अगर सरकार ने अपने दोनों काले फैसलों को वापस नहीं लिया तो कांग्रेसी जन आनोदलन करेंगे।

आन्दोलन की दी धमकी

गोरखपुर में आज अनोखे अंदाज में कांग्रेसियों ने सरकार को घेरने का काम किया और और बढती महंगाई को लेकर मोटर साइकिलों के साथ इलेक्ट्रिक पखों को श्रद्धांजलि दी।

इन लोगों का मनना है कि इतना महंगा पेट्रोल डीजल ये नही भरवा सकते और इतनी महंगी बिजली नहीं दे सकते इसलिए ये सब इनके लिए बेकार है। इन कांग्रेसियों ने सरकार को चेतावनी भी दे दी है, कि जल्द ही आदेश वापस ले लें नहीं तो आन्दोलन होगा।

ये भी पढ़ें…जानिए किस कारण से बस्ती मण्डल के 36 डॉक्टर होंगे बर्खास्त