दलित किशोर की हत्या, बहन की छेड़खानी का किया था विरोध

बलिया : उत्तर प्रदेश (यूपी) के बलिया जिले के बांसडीह रोड थाना क्षेत्र के मिश्रवली ग्राम का मामला है। छेड़खानी को लेकर एक दलित किशोर की धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी गई।

क्या था पूरा  मामला?
-ढोरौली गांव का दीपक धोबी (16 वर्ष) 3 फरवरी की देर शाम सब्जी खरीदकर घर लौट रहा था।
-रास्ते में मिश्रौलिया पुलिया के पास सोनू मिश्रा से उसकी बहन के साथ छेड़खानी को लेकर कहासुनी हुई।
-विवाद इतना बढ़ा कि सोनू ने कुल्हाड़ी से दीपक पर वार कर उसकी हत्या कर दी।
-शव को पुलिया में फेंक कर फरार हो गया ।

केस दर्ज कराया
-पुलिस ने मृतक के पिता नारद राम की तरफ से सोनू व ज्योतिष मिश्र के खिलाफ नामजद केस दर्ज कराया।
-उन्होंने इस्तेमाल की हुई कुल्हाड़ी और खून से सने कपड़े को जब्त कर लिया।
-आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।
-पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है ।

लाडले को देख मां का हुआ बुरा हाल
-ढोरौली ग्राम में हत्या की घटना के बाद मातम छाया हुआ है ।
-अपने एकलौते बेटे की हत्या के बाद दीपक की माँ पुष्पा देवी का रोते-रोते बुरा हाल है ।
-वह सुबकते हुए कहती है कि उसके लाल को सोची समझी रणनीति के तहत मारा गया है।

पिता का क्या कहना है?
-दीपक के पिता नारद राम पुलिस की छेड़कानी के लिए मारे जाने की थ्योरी को झूठा करार दिया।
-उनका कहना है कि दीपक को गांव का ही एक युवक बुलाकर छाता चट्टी ले गया।
-चट्टी पर भी दीपक से बवाल हुआ था तथा उसे देख़ लेने व सबक सिखाने की धमकी मिली थी ।