हेल्थ मंत्री के डिस्ट्रिक में 11 घंटे तड़पती रही महिला, बाथरूम में दिया बच्चे को जन्म

Published by Published: September 22, 2016 | 12:36 pm
Modified: September 22, 2016 | 6:08 pm
victim

बलरामपुर: यूपी के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री एसपी यादव के होम डिस्ट्रिक में ही स्वास्थ्य सेवाएं कराह रही हैं। बुधवार को एक प्रेगनेंट महिला सरकारी हॉस्पिटल में घण्टों तक फर्श पर तड़पती रही। प्रसूता के परिजनों से स्वास्थ्य कर्मियों ने साढ़े चार हजार रुपए की मांग की थी और मांग पूरी न करने पर दोनों महिलाओं को रात में 11:45 पर अकारण ही रेफर कर दिया गया।

क्‍या है पूरा मामला
-जिला महिला चिकित्सालय में डॉक्टरों की संवेदनहीनता देख किसी की भी आंखें नम हो जाएंगी।
-यहां रुपए न देने पर एक प्रसूता को एडमिट ही नहीं किया गया ।
-वह महिला हॉस्पिटल के बाहर 11 घण्टे फर्श पर पड़ी तड़पती रही।
-इससे उसकी हालत बिगड़ गई। मीडिया के पहुंचने के बाद हॉस्पिटल प्रबंधन ने प्रसूता मीना (21) पत्नी मीनेश को लेबर रूम में ले जाने की तैयारी ।

-इसी बीच बाथरूम में ही प्रसूता मीना को नार्मल डिलवरी हो गई।
-शुक्र यह रहा कि इस दौरान जच्चा-बच्चा दोनों ही स्वस्थ्य नजर आए ।
-प्रसूता मीना पहलवारा की रहने वाली है।
-वहीं एक दूसरी प्रसूता भी हॉस्पिटल के फर्श पर 6 घण्टे तड़पती रही।
-प्रसूता रीता (23) पत्नी राजू चौहान निवासी जुआथान को हॉस्पिटल प्रबंधन ने घंटों तड़पाने के बाद प्रसूता के परिजनों को डिस्चार्ज स्लिप थमा दिया।

आधी रात में डीएम ने क्या कहा
नींद में डीएम राम विशाल मिश्रा ने फोन पर कहा …..जी, अभी उनका इलाज होने दीजिए, सुबह इस मामले को देखूंगा और कार्रवाई होगी।

रात में क्या बोले स्वास्थ्य मंत्री डा.एसपी यादव
चिकित्सा एवं स्वास्थ्य राज्य मंत्री एसपी यादव को देर रात घटना की जानकारी दी गई। जबाब में उन्होंने कहा कि यह तो बहुत गंभीर मामला है अभी बात करता हूं। कार्रवाई होगी….सस्पेंड कराता हूं, लेकिन प्रसूताओं को मौके पर कोई मदद नहीं मिली और सरकार से जुड़ा कोई भी नुमाइंदा मौके पर नहीं आया।

women

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App