शरद यादव को झटका, EC ने कहा- नीतीश के नेतृत्व वाली JDU ही असली

Published by aman Published: September 13, 2017 | 2:30 am
Modified: September 13, 2017 | 4:31 am
शरद यादव को झटका, EC ने कहा- नीतीश के नेतृत्व वाली JDU ही असली

पटना: जनतादल यूनाइटेड (जेडीयू) पर दावा जताने वाले ‘बागी’ शरद यादव को चुनाव आयोग ने मंगलवार को जोरदार झटका दिया। आयोग के एक अधिकारी ने बताया, कि शरद गुट की तरफ से पार्टी पर दावे के समर्थन में जो दस्तावेज जमा कराए गए हैं उनमें कई कमियां हैं। इसलिए आयोग ने इस पर विचार करने से इनकार कर दिया है।

जेडीयू पर अपने उस दावे को लेकर शरद यादव को आयोग से बड़ा झटका मिला है, जिसमें उन्होंने कहा कि पार्टी के चुने हुए नेता और पदाधिकारियों के नीतीश कुमार के साथ होने के बावजूद सभी कार्यकर्ता उनके साथ हैं।

ये भी पढ़ें …JDU के बागी शरद बोले- मैंने नहीं, नीतीश कुमार ने खुद छोड़ी है पार्टी

दे सकते हैं दूसरा आवेदन
आयोग के सूत्रों की मानें, तो शरद यादव गुट अपने दावे के समर्थन में ठोस दस्तावेज के साथ दूसरा आवेदन देने के लिए स्वतंत्र है। इन्होंने 25 अगस्त को चुनाव आयोग को आवेदन देकर पार्टी के चुनाव चिह्न पर अपना दावा ठोका था। कहा था, कि राष्ट्रीय परिषद के ज्यादातर सदस्य उसके साथ हैं।

ये भी पढ़ें …JDU के पूर्व महासचिव का खुलासा- नीतीश ने इस तरह शरद को हटाया अध्यक्ष पद से

पार्टी ने नीतीश में जताया था भरोसा
इस मामले पर जदयू महासचिव केसी त्यागी और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह ने पिछले हफ्ते चुनाव आयोग को हलफनामा देकर कहा था, कि पार्टी के नेता और पदाधिकारियों का अपने नेता नीतीश कुमार में पूरा विश्वास है।

ये भी पढ़ें …अब ‘असली’ JDU के लिए शह-मात का खेल शुरू, …तो ये है शरद के बगावत की वजह

जेडीयू ने दिया समर्थन का हलफनामा
जेडीयू के वरिष्ठ नेता केसी त्यागी ने कहा, कि उन्होंने नीतीश के समर्थन में आयोग को पार्टी के सभी 71 विधायक, 30 एमएलसी, दो लोकसभा सांसद और 10 राज्यसभा सांसदों और पदाधिकारियों का हलफनामा सौंप दिया है।

ये भी पढ़ें …JDU ने की बड़ी कार्रवाई- पूर्व मंत्री-सांसद सहित 21 लोगों को किया सस्पेंड

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App