आजम की पत्नी तंजीन ने रामपुर से दाखिल किया नामाकंन, ये नेता रहे मौजूद

यूपी में विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुकी रामपुर विधानसभा सीट पर सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा ने सोमवार को नामांकन दाखिल किया।

Published by Aditya Mishra Published: September 30, 2019 | 7:37 pm
Modified: September 30, 2019 | 7:38 pm

लखनऊ: यूपी में विधानसभा उपचुनाव में समाजवादी पार्टी के लिए प्रतिष्ठा का सवाल बन चुकी रामपुर विधानसभा सीट पर सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा ने सोमवार को नामांकन दाखिल किया।

इस मौके पर सपा नेता आजम खां करीब दो माह के बाद रामपुर पहुंचे और अपनी पत्नी का नामाकंन दाखिल कराया। हालांकि इसके तुरंत बाद ही उन्हे एसआईटी टीम के सामने भी पेश होना पड़ा।

इधर उनकी पत्नी को भी नामाकंन दाखिल करने से पहले ही करीब तीस लाख रुपये का बकाया भी जमा करना पड़ा। रामपुर मे आजम खां का हमसफर रिसार्ट उनकी पत्नी तंजीन के नाम है।

ये भी पढ़ें…जमीन धोखाधड़ी मामला: आजम खान के बड़े बेटे अदीब खान पर मुकदमा दर्ज

इस रिसार्ट पर बिजली विभाग का 30 लाख रुपये का बकाया था, जिसे तंजीन ने अपने नामाकंन से पहले भरा और फिर नामाकंन किया। इससे पहले तंजीन के नामाकंन के लिए आजम खां करीब दो माह बाद रामपुर पहुंचे।

उन्होंने तंजीन को नामाकंन के लिए रवाना किया और खुद एसआईटी में अपने बयान को दर्ज करवाने की तैयारी में जुट गयें। तंजीन के नामाकंन करके वापस आने के बाद वह अपने विधायक पुत्र अब्दुला के साथ रामपुर के महिला थाने पहुंचे।

महिला थाने में मौजूद एसआईटी की टीम के सामने उन्होंने अपना बयान दर्ज कराया। आजम करीब दो घंटे तक एसआईटी टीम के सामने अपना बयान दर्ज कराया।  आजम ने आलियागंज के किसानों की जमीन कब्जा किए जाने के संबंध में खुद को बेकसूर बताया।

ये भी पढ़ें…रामपुर: जौहर यूनिवर्सिटी जमीन मामले में आजम खान के दोनों बेटों-पत्नी को प्रशासन ने भेजा नोटिस

आजम पर किसानों की जमीन कब्जा करने का आरोप

गौरतलब है कि आजम खां पर आलियागंज के किसानों की जमीन पर कब्जा करके उस जमीन पर जौहर विश्वविद्यालय बनवाने का आरोप है। इस मामले में आजम भूमाफिया घोषित किए जा चुके है।

इधर न्यायालय ने आजम को कई मामलों में छूट देते हुए उनकी गिरफतारी पर रोक लगा दी थी। अपनी गिरफतारी के डर से रामपुर से छोड़ चुके आजम खां सोमवार को करीब दो माह बाद अपनी पत्नी तंजीन फातिमा के नामाकंन के मौके पर रामपुर पहुंचे थे।

नामाकंन दाखिल करने पहुंची तंजीन फातिमा ने कहा कि वह राज्यसभा से सांसद है और उनका करीब डेढ़ साल का कार्यकाल अभी बाकी है। उन्होंने कहा कि संसद में रामपुर के मामले उठ नहीं पाते है तो अब वह रामपुर से उपचुनाव जीत कर विधानसभा में इन मामलों को उठायेंगी।

उन्होंने कहा कि उनके पति के साथ हो रही ज्यादतियों को पूरा रामपुर जानता है और रामपुर के सभी लोग उनके साथ खड़े है।

ये भी पढ़ें…आजम खान को बड़ी राहत, इलाहाबाद हाई कोर्ट ने 29 एफआईआर पर लगाई रोक

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App