सीएम योगी से लिया था पंगा, अब प्रशासन ने कर दिया ये काम

उन्होंने कहा कि नए ट्राफिक नियमों में इतना बड़ा चालान लगाया गया है कि उसकी भरपाई कर पाना हर किसी के बस की बात नही है। इस पर तत्काल संसोधन किया जाए। प्रदेश सरकार आर्थिक मंदी की भरपाई जनता की जेब से करना चाहती है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

कानपुर: सोमवार को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी लगभग 500 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास करने के लिए कानपुर पहुंचे थे। कानपुर के सपा और प्रसपा नेता उनका काले झंडे और गुब्बारे दिखा कर आगमन का विरोध कर रहे थे। पुलिस प्रशासन ने विरोध करने वाले नेताओ को नजरबंद कर दिया है।

यह भी पढ़ें: अब महज एक रुपये में डायलिसिस कराए, वह भी अपने जिले में

सोमवार को मुख्यमंत्री शास्त्री नगर स्थित सेंट्रल पार्क से शहरवासियों को लगभग 500 करोड़ रुपए की लागत की योजनाओं का शिलान्यास करने के लिए पहुंचे थे। प्रसपा के प्रदेश सचिव आशीष चौबे कार्यकर्ताओं के साथ काले गुब्बारे लेकर मुख्यमंत्री को बढ़े हुए बिजली के दामों और नए ट्रफिक नियमों में संसोधन करने को लेकर ज्ञापन देने के लिए जा रहे थे।

सीएम योगी से लिया था पंगा, अब प्रशासन ने कर दिया ये काम

पुलिस और प्रसपा कार्यकर्ताओं के बीच हुए झड़प

इसी दौरान पुलिस ने उन्हे रास्ते पर ही रोक लिया। इस दौरान पुलिस और प्रसपा के कार्यकर्ताओं के बीच जमकर झड़प हुई। पुलिस ने सभी को धकेलते हुए घर के अंदर कर दिया और सभी कार्यकर्ताओं को नजरबंद कर दिया।

सीएम योगी से लिया था पंगा, अब प्रशासन ने कर दिया ये काम

यह भी पढ़ें: कटा चालान-दूंगी जान! लड़की ने ट्रैफ़िक नियम पर मचाया बवाल

वहीं सपा के पूर्व अल्पसंख्यक मंत्रालय भारत सरकार के सदस्य फतेह बहादुर सिंह को उनके कार्यकर्ताओं के साथ नजरबंद कर दिया गया है। फतेह बहादुर सिंह के मुताबिक बढ़े हुए दामों की वजह से प्रदेश की जनता परेशान है। अर्थिक मंदी की वजह से लोगो के पास काम नहीं है।

सीएम योगी से लिया था पंगा, अब प्रशासन ने कर दिया ये काम

यह भी पढ़ें: कश्मीर: SC का बड़ा फैसला, तो इसलिए हिरासत में फारुक अबदुल्ला

इस स्थित में वो बढ़े हुए बिजली के दामों का खर्च कैसे वाहन करेंगे। रोस्टिंग के नाम रोजाना 6 घंटे बिजली कटौती है। इसका असर यहां के व्यापार में भी पड़ रहा है। शहर जलभराव और टूटी सड़को की समस्या से जूझ रहा है। पुलों का निर्माण कार्य रूका पड़ा है।

यह भी पढ़ें: चिदंबरम के 74वें जन्मदिन पर बेटे कार्ति ने लिखा भावुक पत्र, सरकार पर साधा निशाना

उन्होंने कहा कि नए ट्राफिक नियमों में इतना बड़ा चालान लगाया गया है कि उसकी भरपाई कर पाना हर किसी के बस की बात नही है। इस पर तत्काल संसोधन किया जाए। प्रदेश सरकार आर्थिक मंदी की भरपाई जनता की जेब से करना चाहती है। वहीं, अब नीरक्षीर चौराहे पर सैकड़ो सपा कार्यकताओं ने गिरफ्तारी दी। पुलिस सभी कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन ले कर पहुंची है।