पिछले यूपी चुनाव में 583 महिलाएं उम्मीदवारों में से चुनिंदा ही देख सकीं विधानसभा का गलियारा

Published by sujeetkumar Published: January 17, 2017 | 12:22 pm
Modified: January 17, 2017 | 12:54 pm

चुनावी अखाड़ा

गोरखपुर: यूपी सहित पांच राज्यों में होने वाले चुनाव के मद्देनजर हर चुनवी पार्टियां अपने- अपने उम्मीदवार चुनाव के अखाड़े में उतारने को तैयार हो चुकी हैं। लेकिन इस बार चुनावी गलियों में देखने वाला यह होगा की इस बार चुनाव में महिला उम्मीदवारों को कितनी जीत हासिल होती है। क्योंकि कुछ सालों में हुए विधानसभा चुनाव के अकड़ों में महिला उम्मीदवार ज्यादा खरी नहीं उतार पाई है। जिसके चलते कई पार्टियों को निराशा का सामना करना पड़ा था। बता दें कि गोरखपुर में 4 मार्च को छठें चरण में मतदान होगा।

चुनावों के मद्देनजर विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी के तौर पर चंद महिलाओं को ही टिकट दिया जाता है। जबकि बहुजन समाज पार्टी और कांग्रेस दोनों की मुखिया महिलाएं हैं। गोरखपुर बस्ती मंडल में स्थित सात जनपदों में कुल 41 विधानसभा क्षेत्र हैं। जिन पर बीते 2012 के विधानसभा चुनाव में 57 महिलाओं ने अपनी-अपनी दावेदारी दी थी। लेकिन इनमें से केवल तीन ने ही  विधानसभा चुनाव में जीत हासिल की थी।

क्या कहते हैं आकड़े
विधानसभावार के आंकड़े देखे जाएं तो समाजवादी पार्टी ने 6 महिलाएं, भारतीय जनता पार्टी में 5, बहुजन समाज पार्टी ने तीन और कांग्रेस ने छह उम्मीदवारों चुनाव के अखाड़े में उतारा था। इन सब के अतिरिक्त स्वतंत्र स्तर से 21 महिलाओं और छोटे क्षेत्रीय दलों ने 16 महिलाओं को मैदान में उतारा था।

आगे की स्लाइड में पढ़ें 3 महिलाओं की आपसी टक्कर में इन पार्टियों को हुआ था फायदा …

महिला उम्मीदवारों का चुनावी दंगल दिलचस्प भरा था
गोरखपुर के बांसगांव विधानसभा क्षेत्र में 3 महिलाओं की आपसी टक्कर का फायदा बहुजन समाज पार्टी के डॉक्टर विजय कुमार को हुआ । कुछ इसी तरह से बस्ती जनपद के हरैया और सिद्धार्थ नगर जनपद के शोहरतगढ़ सीट पर भी मुकाबला दिलचस्प देखने को मिला था। समाजवादी पार्टी ने इस बार इस दल ने जिले की पिपराइच सीट से राजमती निषाद, खजनी से रूपावती बेलदार, बास गांव से सुमन पासवान और शारदा देवी ,कैंपियरगंज से चिंता यादव को मैदान में उतार कर अपना भरोसा जताया है। वहीं सिद्धार्थनगर के सोहरतगढ़ विधानसभा क्षेत्र से लालमुनि सिंह को दोबारा चुनाव की जिम्मेदारी दी गई है।

2012 के अकड़ों के मुताबिक
चुनाव में बस्ती जनपद के हरैया विधान सभा से अनुराधा चौधरी , महादेवा सुरक्षित से वीना राय, बांसगांव सुरक्षित विधानसभा से सुभावती देवी पासवान, शोहरतगढ़ से साधना चौधरी और सलेमपुर से विजय लक्ष्मी को टिकट दिया था। लेकिन ये सभी उम्मीदों पर खरी ना उतर सकी।

कांग्रेस पार्टी को भी मिली थी करारी हर
कांग्रेस की बात करें तो पिछले चुनाव में संत कबीर नगर के धनघटा ,महाराजगंज के पनियरा गोरखपुर के बांसगांव, कुशीनगर के फाजिलनगर और देवरिया के भाटपार रानी से बतौर उम्मीदवार महिलाएं कामयाब न हो सकी।

आगे की स्लाइड में पढ़ें कितनी महिला उम्मीदवारों ने लिया था चुनाव में हिस्सा…

पिछले विधानसभा चुनाव 583 महिलाएं चुनाव लड़ी थी
पिछले विधानसभा चुनाव में पूरे 403 सीटों पर कूल 583 महिलाएं चुनाव लड़ी थी। जबकि जीत केवल 35 को ही मिली पाई थी । उनमें भी समाजवादी पार्टी के 20, भारतीय जनता पार्टी की 7, कांग्रेस से तीन, बहुजन समाज पार्टी से तीन, अपना दल व स्वतंत्र स्तर पर 11 को कामयाबी मिली।

2007 के अकड़ों के मुताबिक
साल 2007 में 23 महिला और इससे पहले 2002 के चुनाव में 26 महिलाएं विधान सभा का दरवाजा देखने में कामयाब हुई थी। अब जबकि राष्ट्रीय दलों का लिस्ट आम जन के सामने आ जाए तो पता चलेगा कि महिला सशक्तिकरण के इस दौर में कितने प्रतिशत आधी आबादी को जनप्रतिनिधित्व का मौका मिलेगा।

पार्टी में चला हार जीत का मुकाबला
बसपा – 3 महिला उम्मीदवार (हारी )
कांग्रेस –6 महिला उम्मीदवार (हारी )
सपा – 3 महिला उम्मीदवार (जीती)
बीजेपी – 5 महिला उम्मीदवार (हारी)
निर्दल – 16 व अन्य दल-21 (सभी हारी )

आगे की स्लाइड में पढ़ें चुनाव में लड़ी महिला उम्मीदवार जो हार गई …

सपा से लड़ी उम्मीदवार महिलाओं की सूची 
1. पिपराइच – राजमति निषाद विजयी (दोबारा टिकट मिला)
2. शोहरतगढ़- लालमुन्नी सिंह विजयी (अखिलेश गुट से दोबारा टिकट मिला)
3. रामपुर कारखाना- गजाला लारी विजयी (दोबार टिकट मिला)
4. बांसगांव (सु)- शारदा देवी हारी (अखिलेश गुट ने दोबारा टिकट दिया)(दूसरा स्थान)
5. गोरखपुर शहर– राजकुमारी देवी (अबकी अखिलेश ने इनके पुत्र पर भरोसा जताया हैं)(दूसरा स्थान)
6. कैंपियरगंज – चिंता यादव (दूसरा स्थान) (दोबारा टिकट मिला)

बसपा पार्टी
1.डुमरियागंज – सैय्यदा खातून (दूसरा स्थान)
2.हरैया- ममता पांडेय ( दूसरा स्थान)
3.बरहज- रेनू जयसवाल (दूसरा स्थान)

कांग्रेस पार्टी 
1. धनघटा अर्चना महातम
2. पनियरा- तलत अजीज (चौथा स्थान)
3. गोरखपुर ग्रामीण- काजल निषाद (पांचवां स्थान)
4. बांसगांव – निर्मला देवी ( चौथा स्थान)
5. फाजिलनगर- शाशि ( चौथा स्थान)
6.भाटपाररानी- बिंदा (तीसरा स्थान)

बीजेपी पार्टी 
1. शोहरतगढ़ – साधना चौधरी
2. हरैया – अनुराधा चौधरी (चौथा स्थान)
3. महादेवा – वीना राय (तीसरा स्थान)
4. बांसगांव – सुभावती पासवान (तीसरा स्थान)
5. सलेमपुर- विजय लक्ष्मी (दूसरा स्थान)

अन्य दलों से लड़ी महिला उम्मीदवार जो हार गयी
निर्दल- 16
अन्य दल –21

न्यूजट्रैक के नए ऐप से खुद को रक्खें लेटेस्ट खबरों से अपडेटेड । हमारा ऐप एंड्राइड प्लेस्टोर से डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें - Newstrack App