प्रियंका गांधी की भाजपा को ऐठ, कहा- ना रहेगी जिला पंचायत न ही ये एमएलसी

यूपी के रायबरेली में चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भुएमऊ गेस्टहाउस से अपने पहले दिन के दौरे पर सपेरों के गांव पहुंची।

प्रियंका गांधी की भाजपा को ऐठ, कहा- ना रहेगी जिला पंचायत न ही ये एमएलसी

नरेंद्र सिंह

रायबरेली: यूपी के रायबरेली में चुनाव प्रचार के दौरान कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी भुएमऊ गेस्टहाउस से अपने पहले दिन के दौरे पर सपेरों के गांव पहुंची।वहां पर सांपों को हाथ में उठाकर खेला। प्रियंका के रूप को देखकर लोग उन्हें डेयरडेविल बता रहे हैं। कांग्रेस महासचिव  बेला भेला में जन सभा में पहुँची।  उन्होंने भाजपा प्रत्याशी दिनेश प्रताप सिंह की ओर इशारा करते हुए कहा कि चुनाव बाद ना जिला पंचायत रहेगी न ही ये एमएलसी रह पाएंगे।

यह भी पढ़ें……अगर चुनाव में हार का डर होता, तो घर बैठ जाती: प्रियंका गांधी

प्रियांका गांधी ने कहा कि 12हजार किसानों ने आत्महत्या की देश की सरकार ने कोई मदद नहीं की, लेकिन आपसे हर महीने किसान बीमा लेते रहे। आपके बीमा से 10 हजार करोड़ से बीमा कंपनियों के पास जा रहे है।उन्होंने कहा कि दो दिन से मैं अमेठी में थी आज मेरी पहली मीटिंग है। यहीं से मैं शुरुआत करती हूँ। 15 सालों से मेरी माता जी यहाँ से सांसद हैं। उन्होंने विकास किया है।

यह भी पढ़ें……बच्चों को चौकीदार चोर है चिल्लाते देख ये बोलीं प्रियंका गांधी

उन्होंने कहा कि हर साल दो करोड़ रोजगार देने का वादा किया लेकिन 50 लाख रोजगार कम हुए। इसी सरकार द्वारा मनरेगा को कमजोर किया गया। रोजगार सेवकों का मानदेय नहीं बढ़ाया गया। अपने नोटबन्दी की लोग शहर से गाँव में आये लेकिन रोजगार नहीं दिए। हमारी सरकार आने पर 10 लाख रोजगार दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ें……डेब्यू डंक प्रियंका गांधी और सोनिया गांधी को आज यहाँ की जनता कैसे याद आ गयी?

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी कहा कि 12वी तक मुफ्त पढ़ाई, सरकारी अस्पताल में मुफ्त इलाज होगा। कांग्रेस पार्टी ने हमेशा जनता के लिए काम किया है। सत्ता अपने पास नहीं रखती कांग्रेस।

प्रियंका गाधी ने कहा कि ऊँचाहार सलोन रेलवे लाइन का काम रोका गया, रेलवे फ्लाईओवर का काम रोका, स्पाइस पार्क काम रोक, मोटर ड्राइविंग स्कूल की बिल्डिंग नही बनी।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की सुनवाई नहीं होती। मैं वाराणसी गई, प्रधानमंत्री किसी गाँव में नहीं गए। किसी से नहीं पूछा कैसे आप आगे बढ़ रहे हो।