ड्राइविंग लाइसेंस की जानकारी के लिए नया टोल- फ्री नम्बर जारी

परिवहन विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) आवेदक के घर पर पहुंचाने के लिए सूबे में नई व्यवस्था लागू किया है। इस व्यवस्था के तहत अब लाइसेंस घर पर पहुंचाने की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था की है।

प्रतीकात्मक फोटो

प्रतीकात्मक फोटो

लखनऊ: परिवहन विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल) आवेदक के घर पर पहुंचाने के लिए सूबे में नई व्यवस्था लागू किया है। इस व्यवस्था के तहत अब लाइसेंस घर पर पहुंचाने की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था की है। कार्यदायी संस्था ने डीएल की जानकारी के लिए नया टोल फ्री नम्बर 1800-1800-152 जारी किया है।
एआरटीओ प्रशासन राघवेंद्र सिंह ने शुक्रवार को बताया कि परिवहन विभाग ने ड्राइविंग लाइसेंस  आवेदक के घर पर पहुंचाने के लिए सूबे में नई व्यवस्था गत दिनों लागू किया है।
इस व्यवस्था के तहत अब लाइसेंस घर पर पहुंचाने की जिम्मेदारी कार्यदायी संस्था (मेसर्स स्मार्ट चिप प्राइवेट लिमिटेड) की है। कार्यदायी संस्था ने परिवहन विभाग की पहल पर आवेदकों की सुविधा के लिए डीएल की जानकारी के लिए नया टोल फ्री नम्बर 1800-1800-152 जारी किया है।
उन्होंने बताया कि यदि ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के बाद घर पर समय से नहीं पहुंचता है तो आवेदक  कार्यदायी संस्था के टोल-फ्री नम्बर पर फोन करके शिकायत दर्ज करा सकते हैं।
दरअसल,मौजूदा समय में बदली हुई व्यवस्था के तहत अब लखनऊ मुख्यालय से ही लोगों के घर के पते पर ड्राइविंग लाइसेंस भेजा जाता है। कई आवेदकों के घर पर ड्राइविंग लाइसेंस न पहुंचने की शिकायतें आ रही हैं, जबकि ड्राइविंग लाइसेंस घर पर न पहुंचने पर आवेदक परिवहन विभाग के चक्कर लगा रहे हैं।