बीजेपी विधायक सुशील सिंह की हत्या की थी साजिश, STF के हत्थे चढ़े 3 बदमाश

बताया जा रहा है कि अमरनाथ के कहने पर ही वह सुशील सिंह की हत्या के लिए वाराणसी पहुंचा था। धोनी अपने साथियों अंजनी सिंह और मनीष केसरवानी के जरिये विधायक की रेकी करवा रहा था। वो अपने मंसूबे में कामयाब हो पाता, उससे पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया।

Published by Manali Rastogi Published: August 10, 2019 | 11:43 am
Modified: August 10, 2019 | 11:44 am
बीजेपी विधायक सुशील सिंह की हत्या की थी साजिश, STF के हत्थे चढ़े 3 बदमाश

बीजेपी विधायक सुशील सिंह की हत्या की थी साजिश, STF के हत्थे चढ़े 3 बदमाश

वाराणसी: चंदौली जे सैयदराजा से बीजेपी विधायक सुशील सिंह की हत्या के मंसूबे से पहुंचे तीन शूटरों को एसटीएफ ने गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए तीनों बदमाशों में बिहार का शातिर शिव प्रकाश तिवारी उर्फ धोनी तिवारी भी शामिल है। उसके ऊपर एक लाख रुपये का इनाम घोषित है। बदमाशों के पास से भारी मात्रा में असलहा भी बरामद हुआ है।

बाहुबली बृजेश सिंह के भतीजे हैं सुशील

सुशील सिंह पूर्वांचल के बाहुबली बृजेश सिंह के भतीजे हैं। चौबेपुर के रहने वाले अमरनाथ चौबे नाम के एक शख्स ने विधायक पर अपने पिता की हत्या का आरोप लगाया था।

यह भी पढ़ें:  पूर्व वित्तमंत्री अरुण जेटली की हालत अब स्थिर, मिलने पहुंचे पार्टी के नेता

एसटीएफ के मुताबिक अमरनाथ चौबे ने ही बदमाशों को बनारस में शरण दे रखी थी। कैंट स्थित टकटकपुर एक मकान में रहने की व्यवस्था की थी। इसी बीच एसटीएफ को इसकी भनक लग गई। शुक्रवार की रात एसटीएफ ने घेराबंदी कर बदमाशों को हल्की मुठभेड़ में गिरफ्तार कर लिया।

विधायक की रेकी कर रहे थे बदमाश

बस्ती का रहने वाले धोनी तिवारी के ऊपर कई आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं। पूर्वान्चल के अलावा बिहार में उसने कई वारदातों को अंजाम दिया था। इस बीच प्रयागराज के रहने वाले सुमित नाम के एक बदमाश के जरिये वह अमरनाथ के संपर्क में आया। कुछ दिनों में हो दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई।

यह भी पढ़ें:  गैंग रेप पीड़िता ने फांसी लगाकर दी जान, परिजनों ने पुलिस पर लगाया आरोप

बताया जा रहा है कि अमरनाथ के कहने पर ही वह सुशील सिंह की हत्या के लिए वाराणसी पहुंचा था। धोनी अपने साथियों अंजनी सिंह और मनीष केसरवानी के जरिये विधायक की रेकी करवा रहा था। वो अपने मंसूबे में कामयाब हो पाता, उससे पहले ही गिरफ्तार कर लिया गया।