इस शिवलिंग पर चढ़ाते हैं झाड़ू तो चर्म रोग से मिलता है निजात

Published by suman Published: September 16, 2017 | 10:04 am

मुरादाबाद: विश्वास फलं दायकम‘ के मंत्र को बोलते हुए शिवलिंग पर झाड़ू चढ़ाने से कष्टों का निवारण होता है। ये मुरादाबाद आगरा राजमार्ग पर सदात्बाड़ी गांव में स्थित अतिप्राचीन पातालेश्वर मंदिर के बारे में मान्यता है कि यहां शिवलिंग पर झाडू चढ़ाने से जटिल से जटिल चर्म रोग का समाधान हो जाता है। सदियों पुराने मंदिर के बारे में ग्रामीणों का कहना है कि पातालेश्वर मंदिर में जो कोई भक्त अगर अपनी सच्ची श्रद्धा से झाड़ू अर्पित करें तो उसके चर्म संबंधी रोग खत्म हो जाते हैं।

यह भी पढ़ें…नवरात्रि! घर घर विराजेंगी माता, कैसे करें कलश स्थापना, शुभ मुहूर्त और व्रत कथा

मान्यता है कि सदियों पहले एक व्यापारी भिखारीदास काफी धनवान होने के बावजूद चर्म रोग से पीड़ित थे। चर्म रोग से पीड़ित व्यापारी किसी वैध से अपना इलाज करवाने के लिए जा रहे थे कि तभी रास्ते में उन्हें जोरों की प्यास लगी तो वह पास दिख रहे एक आश्रम में पानी की खातिर गया। जाते-जाते भिखारीदास आश्रम में रखे एक झाड़ू से टकरा गया। कहते हैं उस झाड़ू के स्पर्श मात्र से ही उनका त्वचा रोग ठीक हो गया।

यह भी पढ़ें…गुरुवार को ब्रह्म मुहूर्त में करें ये काम मिलेगा, मिलेगा अन्न,धन सम्मान

व्यापारी की खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा। उन्होंने आश्रम में रहने वाले संत को हीरे जवाहरात देने की इच्छा प्रकट की मगर संत ने इसे नकारते हुए कहा कि यदि वह इस स्थान पर मंदिर का निमार्ण करा दें तो अच्छा होगा। व्यापारी ने संत के कहे अनुसार आश्रम के निकट शिव मंदिर बनवाया जो पातालेश्वर मंदिर के नाम से विख्यात हो गया। इस तरह पातालेश्वर मंदिर के प्रति लोगों के मन में इस बात का विश्वास बन गया कि, यहां झाड़ू चढ़ाने से त्वचा रोग ठीक हो जाते हैं और यह मान्यता इसी तरह सदियों से चली आ रही है।